1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. झारखंड में धान खरीद घोटाले में भारतीय खाद्य निगम के मंडल प्रबंधक निलंबित, जानें क्या है मामला ?

झारखंड में धान खरीद घोटाले में भारतीय खाद्य निगम के मंडल प्रबंधक निलंबित, जानें क्या है मामला ?

निलंबन आदेश में कहा गया है कि अजीत कुमार सिंह ने सरायकेला बीएसडब्ल्यूसी में केएमएस 2020-21 के लिए अग्रिम चावल की भौतिक डिलीवरी में झूठी रिपोर्ट मुख्यालय को सौंपी है।

By Akash Singh 
Updated Date

मेदिनीनगर : पलामू में हुए धान क्रय घोटाले में एफसीआई ने भारतीय खाद्य निगम के मंडल प्रबंधक ऋषिपाल सिंह को निलंबित कर दिया है। यह कार्रवाई एफसीआई के पूर्वी जोन कोलकाता के कार्यकारी निदेशक अजीत कुमार सिन्हा ने की है। निलंबन अवधि के दौरान उनका मुख्यालय क्षेत्रीय कार्यालय (पश्चिम बंगाल), कोलकाता में होगा।

पढ़ें :- झारखंड का राजनीतिक महाभारत : हेमन्त की हिम्मत , भाजपा का हमला , ED की दबिश [ इंडिया वाँयस विश्लेषण ]

निलंबन आदेश में कहा गया है कि अजीत कुमार सिंह ने सरायकेला बीएसडब्ल्यूसी में केएमएस 2020-21 के लिए अग्रिम चावल की भौतिक डिलीवरी में झूठी रिपोर्ट मुख्यालय को सौंपी है। उनके द्वारा मुख्यालय को सौंपी गई रिपोर्ट की जांच कराई गई थी, जिस रिपोर्ट को क्षेत्रीय जांच दल ने 29 मार्च को सौंपा था। इस रिपोर्ट में क्षेत्रीय जांच दल ने कई अनियमितताओं को उजागर किया है।

आदेश में यह भी कहा गया है कि ऋषिपाल सिंह, एजीएम (जनरल) को मंडल प्रबंधक, एफसीआई डीओ (डाल्टनगंज) के रूप में तैनात किया गया है, जो कि मंडल प्रबंधक के रूप में अपनी पोस्टिंग के दौरान पूरे प्रकरण में प्रक्रियात्मक खामियों के साथ-साथ पर्यवेक्षी चूकों की अनियमितताओं में शामिल पाए गए हैं। ऐसे में एफसीआई (स्टाफ) विनियम, 1971 के विनियम 66(1)(ए) के तहत अनुशासनात्मक कार्रवाई होने तक उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाता है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...