1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. UP News: मेरठ में बर्ड फ्लू को लेकर अलर्ट किया गया घोषित , 130 सैंपल भेजे गए जांच के लिए

UP News: मेरठ में बर्ड फ्लू को लेकर अलर्ट किया गया घोषित , 130 सैंपल भेजे गए जांच के लिए

Bird Flu Alert In Meerut: उत्तर-प्रदेश के मेरठ में बर्ड फ्लू के मामले को देखते हुए अलर्ट घोषित कर दिया गया है,अभी तक कुल 130 सैंपल जांच के लिए भेजा गया है ये जानकारी मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर अखिलेश गर्ग ने दी है,मेरठ में फिलहाल अभी तक बर्ड फ्लू का कोई भी मामला सामने नहीं आया है,डॉक्टर अखिलेश गर्ग ने कहा है कि अभी तक कोई भी बर्ड फ्लू का केस पॉज़िटिव नहीं आया है लेकिन एहतियातन अलर्ट है

By रेनू मिश्रा 
Updated Date

Meerut News: उत्तर-प्रदेश के मेरठ में बर्ड फ्लू के मामले को देखते हुए अलर्ट घोषित कर दिया गया है,अभी तक कुल 130 सैंपल जांच के लिए भेजा गया है ये जानकारी मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर अखिलेश गर्ग ने दी है,मेरठ में फिलहाल अभी तक बर्ड फ्लू का कोई भी मामला सामने नहीं आया है,डॉक्टर अखिलेश गर्ग ने कहा है कि अभी तक कोई भी बर्ड फ्लू का केस पॉज़िटिव नहीं आया है लेकिन एहतियातन अलर्ट है

पढ़ें :- UP News:स्टूडेंट्स से परेशान टीचर ने दर्ज कराई FIR,छात्रों ने छेड़छाड़ का वीडियो भी किया वायरल, पुलिस जांच में जुटी

बर्ड फ्लू एक वायरल बीमारी है,ये बीमारी बर्ड्स से बर्ड्स में ही फैलती है,बर्ड फ्लू में एच 5 एन 1 वायरस होता है, जबकि स्वाइन फ्लू में एच1 एन1 वायरस होता है,प्रवासी पक्षियों पर नजर रखने और सैंपल लेकर जांच कराने के लिए कई टीमों का गठन किया गया गया है. टीम अपने क्षेत्रों में प्रवासी पक्षियों के ठिकानों पर भ्रमण कर नजर रखेंगी.डॉक्टर अखिलेश गर्ग ने बताया की पशु चिकित्सा अधिकारियों को पोल्ट्री फार्मों के नियमित निरीक्षण करने और ज़रुरत पड़ने पर पक्षियों के सैंपल लेकर जांच कराने के निर्देश दिए हैं.

उन्होंने कहा कि कहीं भी मरा हुआ पक्षी पाया जाता है तो पशुपालन विभाग की टीम उसकी गहनता से जांच करेगी और सैंपल लेकर जांच कराएगी. बर्ड फ्लू से निपटने के लिए जिला टास्क फोर्स भी अलर्ट है,मेरठ में डेढ़ सौ के आसपास मुर्गी फार्म है और अंडा उत्पादन में भी मेरठ प्रदेश में अग्रणी हैं. अंडा उत्पादन की सबसे बड़ी यूनिट जानी ब्लॉक में है. जहां प्रतिदिन हजारों अंडों का उत्पादन होता है.

डॉक्टर अखिलेश गर्ग ने कहा कि अंडा प्रोटीन का सोर्स है सर्दियों में डिमांड और बढ़ जाती है. डॉक्टर अखिलेश गर्ग ने कहा कि लंपी वायरस की स्थिति नियंत्रण में है. हालांकि अभी भी इक्का दुक्का केस आते रहते हैं. उन्होंने कहा कि गायों में वैक्सीनेशन सौ प्रतिशत हो गया है,मेरठ में तीन हज़ार केस लंपी के पाए गए थे और नौ के आसपास गायों की मृत्यु हुई थी.

डॉक्टर गर्ग ने कहा कि शीघ्र ही पशु मेलों पर से प्रतिबंध हट सकता है. घोड़ों में ग्लैंडर्स की बीमारी को लेकर भी पशु चिकित्सा विभाग अलर्ट है. अब तक ग्लैंडर्स को लेकर घोड़ों के 237 सैंपल जांच के लिए भेजे गए. हालांकि कोई पॉज़िटिव केस नहीं मिला है. गौरतलब है कि ग्लैंडर्स वायरस जनित बीमारी है अगर किसी घोड़े को ये बीमारी होती है तो उसके नाक से तेज पानी बहने लगता है. शरीर में फफोले हो जाते हैं. सांस लेने में दिक्कत महसूस होने लगती है साथ ही बुखार आने के कारण घोड़ा सुस्त हो जाता है. यही बीमारी की पहचान है.

पढ़ें :- UP News:इलाहाबाद हाईकोर्ट का अहम फैसला,आर्य समाज के विवाह प्रमाण पत्र का कोई वैधानिक प्रभाव नहीं,

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...