1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. जयंत चौधरी की तारीफ करने में जुटे योगी सरकार के मंत्री, तारीफ़ के पीछे क्या है असल वजह ?

जयंत चौधरी की तारीफ करने में जुटे योगी सरकार के मंत्री, तारीफ़ के पीछे क्या है असल वजह ?

कोरोना महामारी के कारण चुनाव आयोग ने चुनाव प्रचार और जनसभाओं पर रोक लगा दिया है जिसके कारण राजनीतिक दलों के स्टार प्रचारक नेता घर-घर जनसंपर्क कर वोट मांगने में जुटे हुए हैं।

By Ujjawal Mishra 
Updated Date

UP Assembly Election 2022 : उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव जहां लगभग पूरे देश की निगाहें टिकी हुई हैं। हालांकि चुनाव तो कुल 5 राज्यों में होना है पर उत्तर प्रदेश का चुनाव सभी पार्टियों के लिए बेहद महत्वपूर्ण रहता है। ऐसे में प्रदेश में पहले चरण का चुनाव 10 फरवरी को होना है और सभी राजनीतिक पार्टियां पूरे दमखम से चुनावी रण में कूद पड़ी हैं। कोरोना महामारी के कारण चुनाव आयोग ने चुनाव प्रचार और जनसभाओं पर रोक लगा दिया है जिसके कारण राजनीतिक दलों के स्टार प्रचारक नेता घर-घर जनसंपर्क कर वोट मांगने में जुटे हुए हैं।

पढ़ें :- UP News:स्कूल की तीसरी मंजिल से 11वीं की छात्रा ने लगाई छलांग, गोरखपुर किया गया रेफर हालत गंभीर

RLD सुप्रीमो पर कटाक्ष करने से बच रही है भाजपा 

पहले चरण के चुनाव में बेहद ही कम वक्त बचा है। ऐसे में सियासी दलों के नेताओं ने जनता को लुभाने के लिए अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। जहां एक तरफ भाजपा के स्टार प्रचारक नेता अखिलेश यादव पर जमकर निशाना साध रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ सपा के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ रही राष्ट्रीय लोक दल यानी RLD के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयंत सिंह चौधरी पर कुछ भी कटाक्ष करने से बचती हुई नजर आ रही हैं। सिर्फ इतना ही नहीं योगी सरकार के दो कैबिनेट मंत्री इन दिनों RLD अध्यक्ष जयंत चौधरी की तारीफ करते हुए भी नजर आ रहे हैं।

जयंत चौधरी की तारीफ़ करने में जुटे योगी सरकार के मंत्री 

योगी सरकार के मंत्री सुरेश राणा और कपिल देव अग्रवाल ने जयंत चौधरी की तारीफ करते हुए कहा कि अगर जयंत हमारे साथ आते हैं तो एक और एक साथ मिलकर 11 हो जायेंगें। कपिल देव अग्रवाल ने तो यहां तक कह दिया कि अगर जयंत चौधरी हमारे साथ आ जाते हैं तो और भी अच्छा होता। उन्होंने कहा कि अगर आज भी वो भाजपा में शामिल हो जाएं तो हम उनका स्वागत करने के लिए तैयार हैं।

पढ़ें :- UP News:यूपी के हाथरस में भीषण सड़क हादसे में 3 की मौत, कार के उड़े परखच्चे

अब यह बयान सामने आने के बाद से सियासी गलियारों में इसे अलग नजर से देखा जा रहा है। कहा जा रहा है कि भाजपा जयंत की तारीफ कर उन्हें अपने पाले में करना चाहती है। पर सच्चाई यह है कि जयंत ने पहले ही साफ कर दिया है कि वो सपा के साथ मिलकर ही चुनाव लड़ेंगे।

सपा और आरएलडी साथ मिलकर लड़ रहे हैं चुनाव

बता दें कि आगामी विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी और राष्ट्रीय लोक दल एक साथ चुनावी मैदान में हैं। वहीं सपा ने RLD को पश्चिमी उत्तर प्रदेश की सीटें दी हैं। साथ ही कुछ अन्य सीटों पर RLD के उम्मीदवार सपा के सिंबल पर चुनावी मैदान में हैं। यही कारण है कि योगी सरकार के मंत्री कपिल देव अग्रवाल ने जयंत चौधरी को अपना पुराना गठबंधन याद दिलाया है। उन्होंने कहा कि जयंत के साथ हमारा पहले भी गठबंधन रहा है और उन्होंने पश्चिमी उत्तर प्रदेश में अच्छा प्रदर्शन किया था। उन्होंने कहा कि अगर RLD भाजपा के साथ आती है तो उनका ज्यादा फायदा होगा।

 

पढ़ें :- UP News:सुरक्षा और प्रशासनिक आधार पर 2 घंटे के अंदर ही बदल गई अब्बास अंसारी की जेल,भेजा गया चित्रकूट
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...