1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. झारखंड : गुमला के माइंस में लगे 27 वाहनों को नक्सलियों ने जलाया, नोटिस लगाकर दिया ये फरमान

झारखंड : गुमला के माइंस में लगे 27 वाहनों को नक्सलियों ने जलाया, नोटिस लगाकर दिया ये फरमान

नक्सलियों ने कई स्थानों पर पोस्टर चिपकाकर हिंडालको तथा अन्य माइंस क्षेत्रों को बंद करने का फरमान जारी किया है। नक्सलियों की संख्या 15 से 20 बताई जा रही है। इस घटना से पूरे क्षेत्र में दहशत का माहौल है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

गुमला : प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के हथियारबंद दस्ते ने शुक्रवार की शाम जिले के गुरदरी थाना क्षेत्र के अंतर्गत कुजाम स्थित हिंडालको के बॉक्साइट माइंस क्षेत्र में जमकर उत्पात मचाया। वहां पर उपस्थित सुपरवाइजर, चालक व अन्य कर्मियों को बंधक बनाने के बाद 27 वाहनों में आग लगा दी। इसमें चार जेसीबी, एक पोकलेन, दो पिकअप, 17 हाईवा, दो पानी टैंकर व एक ड्रिल मशीन शामिल हैं। इससे करीब 10 करोड़ के नुकसान का अनुमान है।

पढ़ें :- झारखंड का राजनीतिक महाभारत : हेमन्त की हिम्मत , भाजपा का हमला , ED की दबिश [ इंडिया वाँयस विश्लेषण ]

इतना ही नहीं नक्सलियों ने कई स्थानों पर पोस्टर चिपकाकर हिंडालको तथा अन्य माइंस क्षेत्रों को बंद करने का फरमान जारी किया है। नक्सलियों की संख्या 15 से 20 बताई जा रही है। इस घटना से पूरे क्षेत्र में दहशत का माहौल है।

Notice of Naxalites in Jharkhand Mines

प्राप्त जानकारी के अनुसार नक्सली शुक्रवार की शाम 7:30 बजे पूजा माइंस पहुंचे। सबसे पहले नक्सलियों ने वहां पर उपस्थित करीब 30 सुपरवाइजर, वाहन चालकों व अन्य कर्मियों को बंधक बना लिया। इसके बाद दो अलग-अलग स्थानों पर कर्मियों को रखा गया। नक्सलियों ने ड्रम में रखे डीजल को निकाला और 10-15 वाहनों में आग लगा दी। आग लगाने के बाद नक्सली वापस लौट गए।

नक्सलियों के जाने के बाद पांच-छह कर्मी वाहनों में लगी आग को बुझाने का प्रयास करने लगे। तभी नक्सली पुनः वहां आ धमके और आग बुझा रहे कर्मियों की पिटाई कर दी। इसके बाद नक्सलियों ने शेष बचे वाहनों में भी आग लगा दी। कई स्थानों पर पोस्टर चिपकाने के बाद नक्सली वापस लौट गए। दस्ते का नेतृत्व नक्सली कमांडर रंथु उरांव एवं लजीम अंसारी द्वारा किए जाने की सूचना है।

पढ़ें :- अनुराग गुप्ता का निलंबन हटा, दो साल से अधिक निलम्बन को कैट ने बताया गलत

पुलिस ने इस घटना की पुष्टि की है। पुलिस ने नक्सलियों के विरुद्ध सर्च अभियान शुरू कर दिया है। बहरहाल, इस नक्सली घटना के बाद माइंस कर्मियों, वाहन चालकों, ग्रामीणों व छोटे-मोटे दुकानदारों में भय व्याप्त है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...