1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. Pakistan : इमरान खान को 3 अप्रैल तक का समय, इमरान का आरोप- नवाज शरीफ की साजिश से विदेशी इशारे पर आया अविश्वास प्रस्ताव

Pakistan : इमरान खान को 3 अप्रैल तक का समय, इमरान का आरोप- नवाज शरीफ की साजिश से विदेशी इशारे पर आया अविश्वास प्रस्ताव

इमरान खान ने बताया कि उनके खिलाफ आए अविश्वास प्रस्ताव के पीछे विदेशी षड्यंत्र है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

इस्लामाबाद, 31 मार्च। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को अपनी सरकार बचाने के लिए 3 अप्रैल तक का समय मिल गया है। गुरुवार को अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के लिए शुरू नेशनल असेंबली की बैठक को 3 अप्रैल तक के लिए स्थगित कर दिया गया है।

पढ़ें :- Petrol Diesel Price Hike : पाकिस्तान में 30 रुपये लीटर बढ़े पेट्रोल, डीजल और केरोसिन के दाम, जानें बढ़े हुए दाम

पाकिस्तान की नेशनल असेंबली में इमरान के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव स्वीकार

सोमवार को पाकिस्तान की नेशनल असेंबली में इमरान के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव स्वीकार कर लिया गया है। नेशनल असेंबली में विपक्ष के नेता शहबाज शरीफ ने प्रधानमंत्री इमरान खान के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश किया था। 161 सदस्यों ने इस प्रस्ताव का समर्थन किया था। अविश्वास प्रस्ताव की स्वीकार्यता के बाद सदन की बैठक दो दिन के लिए स्थगित कर दी गई थी। 2 दिन की छिट्टी के बाद सदन की बैठक गुरुवार को बुलाई गयी थी। गुरुवार शाम बैठक शुरू होते ही प्रश्नकाल में जब नेशनल असेंबली की अध्यक्षता कर रहे उपाध्यक्ष कासिम सूरी ने सदस्यों से सवाल पूछने को कहा तो एक-एक कर सभी सदस्यों ने सवाल ना पूछकर तुरंत अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान कराने की मांग की। लगातार कई सदस्यों द्वारा यही जवाब देने के बाद नेशनल असेंबली के उपाध्यक्ष कासिम सूरी ने कहा कि असेंबली के सदस्य प्रश्नकाल को लेकर गंभीर नहीं हैं, इसलिए सदन की बैठक 3 अप्रैल दोपहर 11.30 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गयी।

इमरान का आरोप- नवाज शरीफ की साजिश से विदेशी इशारे पर आया अविश्वास प्रस्ताव

वहीं पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर पाकिस्तान की नेशनल असेंबली में प्रस्तावित चर्चा से पहले इमरान ने राष्ट्रीय सुरक्षा समिति (नेशनल सिक्योरिटी कमेटी) की आपात बैठक बुलाई। सरकार के प्रमुख मंत्रियों और सैन्य अधिकारियों के साथ हुई इस बैठक की अध्यक्षता करते हुए प्रधानमंत्री इमरान खान ने सुरक्षा समिति को बताया कि उनके खिलाफ आया अविश्वास प्रस्ताव विदेशी इशारे पर आया है। पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को इस साजिश के लिए जिम्मेदार ठहराया गया।

पढ़ें :- Dawood Ibrahim : कराची में दाऊद इब्राहिम, हसीना पारकर के बेटे ने ED के सामने किया बड़ा खुलासा

केंद्रीय मंत्रियों के साथ राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार, सेना प्रमुख और खुफिया अधिकारियों ने बैठक में हिस्सा लिया

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पाकिस्तान की नेशनल असेंबली में चर्चा और मतदान के लिए स्वीकार किया जा चुका है। गुरुवार शाम इस पर चर्चा शुरू होने से पहले इमरान ने सुरक्षा समिति की आपात बैठक बुलाकर सबको चौंका दिया। सुरक्षा मसलों पर समन्वय की सबसे बड़ी समिति की अध्यक्षता प्रधानमंत्री इमरान खान ने की और समिति में शामिल प्रमुख केंद्रीय मंत्रियों के साथ राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार, सेना प्रमुख और खुफिया अधिकारियों ने बैठक में भाग लिया। इस दौरान इमरान ने बताया कि उनके खिलाफ आए अविश्वास प्रस्ताव के पीछे विदेशी षड्यंत्र है। बैठक के बाद पाकिस्तान के सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने बताया कि विदेशी ताकतों के उस पत्र पर समिति में चर्चा हुई, जो सरकार को गिराने की अंतरराष्ट्रीय साजिश का हिस्सा है। उन्होंने कहा कि विपक्ष के कुछ नेता इस साजिश में शामिल हैं। उन्होंने कहा कि अगर विपक्ष आम पाकिस्तानी की आवाज बन रहा है तो पाकिस्तान के खिलाफ इस विदेशी साजिश को क्यों नहीं समझ पा रहे हैं। उन्होंने इस साजिश में पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को भी जिम्मेदार ठहराया और कहा कि ये साजिश नवाज शरीफ के लंदन स्थित घर से शुरू हुई है।

दरअसल पाकिस्तान के संविधान के मुताबिक अविश्वास प्रस्ताव स्वीकार किए जाने के 7 दिन के भीतर मतदान जरूरी है। इसलिए 3 अप्रैल तक हर हाल में मतदान होना है। अब 3 अप्रैल तक ही सदन स्थगित कर दिया गया है। इस तरह इमरान खान के भविष्य पर फैसला एक बार फिर तीन दिनों के लिए टल गया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...