1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. दिल्ली जहांगीरपुरी हिंसा: पुलिस ने गृह मंत्रालय को शुरूआती रिपोर्ट सौंपी

दिल्ली जहांगीरपुरी हिंसा: पुलिस ने गृह मंत्रालय को शुरूआती रिपोर्ट सौंपी

जहांगीरपुरी हिंसा मामले में दिल्ली पुलिस ने गृह मंत्रालय को अपनी सौंप दी है। इस रिपोर्ट में आरोपी के खिलाफ आपराधिक साजिश का आरोप लगाया गया है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली , 19 अप्रैल। दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने उत्तर पश्चिमी जिले के जहांगीरपुरी हिंसा मामले में अपनी जांच रिपोर्ट गृह मंत्रालय को सौंपी है। पुलिस सूत्रों की मानें तो प्रारंभिक रिपोर्ट में पूरी घटना और दिल्ली पुलिस ने जो कार्रवाई की है उस पर प्रकाश डाला है।

पढ़ें :- Jahangirpuri Violence : रोहिणी कोर्ट ने 5 आरोपियों को पुलिस हिरासत और 4 को न्यायिक हिरासत में भेजा

पुलिस के सूत्रों के अनुसार, रिपोर्ट में कहा गया है कि आरोपित के खिलाफ आपराधिक साजिश का आरोप लगाया गया ताकि मामले की बड़े पैमाने पर जांच की जा सके। सूत्र के मुताबिक रिपोर्ट में आगे यह भी कहा गया है कि स्थिति को भड़काने के लिए कट्टरपंथी इस्लामी संगठन की संलिप्तता से भी इनकार नहीं किया जा सकता है।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली पुलिस को हिंसा के आरोपियों पर कार्रवाई को दिये निर्देश

उल्लेखनीय है कि केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली पुलिस को यहां जहांगीरपुरी में हुई हिंसा मामले में शामिल लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश सोमवार को दिए थे। हनुमान जयंती पर निकाली गयी शोभायात्रा के दौरान शनिवार को जहांगीरपुरी में दो समुदाय के लोगों के बीच झड़प हो गई थी। गृह मंत्री ने दिल्ली पुलिस को कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। दिल्ली पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना ने सोमवार को बताया कि हिंसा मामले में अब तक दो समुदायों के 23 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

इस मामले की जांच अपराध शाखा को सौंपी गयी है और इसके लिए 14 टीमें बनाई गयी हैं। दिल्ली के पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना ने सोमवार को कहा था कि जहांगीरपुरी हिंसा के सिलसिले में अब तक दोनों समुदायों के 23 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

पढ़ें :- जहांगीरपुरी हिंसा : जुम्मे की नमाज को देखते हुए सुरक्षा बल अलर्ट

हालांकि उन्होंने इन दावों का खंडन किया कि हनुमान जयंती शोभायात्रा के दौरान एक मस्जिद में भगवा झंडे फहराने का प्रयास किया गया था। अस्थाना ने संवाददाता सम्मेलन के दौरान जोर देकर कहा कि हिंसक झड़पों में शामिल लोगों को वर्ग, पंथ या धर्म के आधार पर बख्शा नहीं जाएगा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...