1. हिन्दी समाचार
  2. झारखंड
  3. Raghubar Das Press Conference: रघुबर दास की प्रेस कांफ्रेंस, हेमंत सरकार पर किये कई बड़े हमले

Raghubar Das Press Conference: रघुबर दास की प्रेस कांफ्रेंस, हेमंत सरकार पर किये कई बड़े हमले

Raghubar Das On Hemant Soren: रघुवर दास ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन हमला बोलते हुए कहा की बीजू पारा में आदिवासी लोगों के उपयोग के लिए चिन्हित क्षेत्र की 11 एकड़ जमीन को मुख्यमंत्री जी ने अपनी पत्नी को आवंटित किया है।

By Akash Singh 
Updated Date

Live Press Conference : झारखंड राज्य में सियासी घमासान जोरों पर है। मुख्यमंत्री के लीज़ खदान समेत उनकी पत्नी के नाम पर जमीन आवंटित होने जैसे कई मामलों पर सियासत गर्म है। इसी बीच आज झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास ने प्रेस वार्ता (Raghubar Das Press Conference) कर हेमंत सरकार पर लगातार कई बड़े हमले किए। उन्होंने कहा कि झारखंड में एक परिवार का शासन चल रहा है। उन्होंने कहा कि विगत 27-28 महीनों से झारखंड में जो चल रहा है लोग उस परेशानी को महसूस कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि लोगों ने कहना शुरू कर दिया है कि झारखंड में सिर्फ एक परिवार का शासन चल रहा है। आगे खदान लीज़ मामले पर उन्होंने हेमंत सोरेन के भाई बसंत सोरेन पर भी लगातार सवाल उठाए।

पढ़ें :- पंचायत चुनाव के पहले चरण में महिलाओं का दबदबा, सबसे अधिक रही महिलाओं की भागीदारी

लगाए भ्रष्टाचार के कई आरोप

रघुवर दास ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन हमला बोलते हुए कहा की बीजू पारा में आदिवासी लोगों के उपयोग के लिए चिन्हित क्षेत्र की 11 एकड़ जमीन को मुख्यमंत्री जी ने अपनी पत्नी को आवंटित किया है। मुख्यमंत्री जी खुद भी उद्योग विभाग के मंत्री हैं इस संबंध में उन्हें झारखंड राज्य की जनता को सफाई देना चाहिए। आगे रघुबर दास ने मुख्यमंत्री के प्रेस सलाहकार अभिषेक प्रसाद उर्फ़ “पिंटू” पर भी आरोप लगाते हुए कहा कि अभिषेक प्रसाद की संस्था के नाम पर 11.70 एकड़ जमीन पर खदान की लीज 10 वर्ष के लिए दी गई और उसपर 90 लाख का निवेश भी किया गया। मुख्यमंत्री के विधायक प्रतिनिधि पंजक मिश्रा के नाम पर साहिबगंज जिला में भी 6.25 का खादान साल 2021 में आवंटित किया गया। रघुबर दास ने मुख्यमंत्री से इस्तीफा भी मांगा। और कहा कि झारखंड में आदिवासी मुख्यमंत्री होने के बाद भी जल, जंगल और जमीन की कोई सुरक्षा नहीं है। इनपर लगातार हमला हो रहा है।

रघुबर दास ने कहा आदिवासियों का हो रहा धर्मांतरण

रघुबर दास ने कहा, धर्मांतरण की खबरें आती रहती हैं कि आदिवासी युवतियों को लव जिहाद के तहत प्रेम जाल में फंसा कर शादी की जा रही है उनकी जमीन छीनी जा रही है। और आरक्षण का लाभ भी ले रहे हैं। उन्होंने कहा अगर यही सिलसिला चलता रहा तो आदिवासी समाज जल्दी ही अल्पसंख्यक हो जाएगा। आगे उन्होंने सरकार पर तुष्टिकरण का आरोप लगाते हुए कहा कि सरना आदिवासियों के साथ भी सरकार गलत कर रही है उनके पेट पर लात मार रही है।

पढ़ें :- झारखंड के पतरातू में बालू घाट पर अपराधियों ने फूंका पोकलेन मशीन

स्थानीय लोगों को रोज़गार के नाम पर धोखा

झारखंड में जैसे ही हेमंत सोरेन की सरकार आई। इस सरकार ने एफिडेविट डालकर कहा कि,  भाजपा सरकार ने जो निर्णय लिया था, कि थर्ड ग्रेड और फोर्थ ग्रेड की नौकरी में स्थानीय बच्चों को जो प्राथमिकता दी गई थी वह गलत था। जिसके कारण यहां के आदिवासियों और मूल निवासियों के बच्चे सरकारी नौकरी से वंचित रह जाते हैं भाजपा सरकार ने झारखंड में डेढ़ लाख से ज्यादा नौकरियां झारखंड के बच्चों को दी गई थी। जल जंगल जमीन के राज्य में आज पूरे राज्य में जल के लिए हाहाकार मचा हुआ है। आगे उन्होंने कहा हेमंत सोरेन की सरकार का नारा है सरकारी प्लॉट हमारा है।

निकालिए खदान मामले में जल्दी एक संगठन बनाकर राज्यपाल से मिलेंगे क्योंकि यह नियम है कोई भी सरकारी व्यापार में मुख्यमंत्री या उसके परिवार कोई भी व्यक्ति सम्मिलित नहीं हो सकता चाहे वह मुख्यमंत्री की पत्नि हो, मुख्यमंत्री का बेटा हो चाहे उनका भाई हो।

रघुबर दास की प्रेस वार्ता के बाद, पूर्व राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री बाबू लाल मरांडी ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी उन्होंने लिखा “पूर्व से भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरे सीएम Hemant Soren जी के उद्योग विभाग के द्वारा मा. मुख्यमंत्री की पत्नी के नाम से रांची के चान्हो प्रखंड के बिजुपाड़ा के बेहरा आद्योगिक क्षेत्र में 11 एकड़ भूमि आवंटित की गई है। विचारणीय है उद्योग विभाग के मंत्री भी स्वयं मुख्यमंत्री हैं।

देखिए रघुबर दास की प्रेस कांफ्रेंस (Raghubar Das Press Conference Live)

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...