1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. कांग्रेस से निकाले जाने के बाद BJP में शामिल हुए किशोर उपाध्याय को टिहरी से मिल सकता है टिकट !

कांग्रेस से निकाले जाने के बाद BJP में शामिल हुए किशोर उपाध्याय को टिहरी से मिल सकता है टिकट !

कांग्रेस ने पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय के बीजेपी ज्वाइन करने से पहले ही उन्हे पार्टी से 6 साल के लिए निष्कासित कर दिया था। इसे पहले कांग्रेस ने पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप में किशोर उपाध्याय को सभी पदों से हटा दिया था।

By Ujjawal Mishra 
Updated Date

Uttarakhand Assembly Election 2022 : उत्तराखंड कांग्रेस के दिग्गज नेता, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और पूर्व मंत्री किशोर उपाध्याय भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए हैं। भारतीय जनता पार्टी ने दो सूची जारी की, लेकिन टिहरी और डोईवाला के नाम अभी तय नहीं किए गए थे। इसके पीछे किशोर उपाध्याय के आने की संभावना बताई जा रही है।

पढ़ें :- Uttarakhand : पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत सहित कई कांग्रेस उम्मीदवार नहीं कर पाए मतदान, जानें क्या है वजह ?

टिहरी विधानसभा सीट से बनाया जा सकता है उम्मीदवार

दूसरी ओर टिहरी से भाजपा विधायक धन सिंह नेगी कांग्रेस के सम्पर्क में बने हुए हैं। उम्मीद जताई जा रही है कि वह कांग्रेस की सदस्यता ले सकते हैं। ऐसे में कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष किशोर उपाध्याय को टिहरी विधानसभा से उम्मीदवार बनाया जा सकता है। आपको बता दें कि भाजपा नेताओं के संपर्क में रहने की वजह से कांग्रेस ने किशोर उपाध्याय को सभी पदों से पहले ही हटा दिया था।

सुबह दस बजे दिलाई गई भाजपा की सदस्यता 

बता दें कि कांग्रेस से हटाये जाने के बाद से किशोर उपाध्याय को सुबह दस बजे के आसपास भाजपा की सदस्यता दिलाई गई। इस अवसर पर चुनाव प्रभारी केंद्रीय मंत्री प्रहलाद जोशी, प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक, केंद्रीय रक्षा राज्यमंत्री अजय भट्ट, सांसद अजय टम्टा, राज्यसभा सदस्य नरेश बंसल समेत बड़े नेता इस अवसर पर उपस्थित थे।

पढ़ें :- उत्तराखंड में दोपहर तीन बजे तक 49 फीसदी से अधिक हुआ मतदान, आपस में भिडे़ भाजपा और कांग्रेस कार्यकर्ता

पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप में कांग्रेस ने किया बाहर 

बीजेपी में शामिल होने के बाद किशोर उपाध्याय ने कहा कि ‘मैं उत्तराखंड को आगे ले जाने की भावना के साथ बीजेपी में शामिल हुआ हूं’। वहीं कांग्रेस छोड़ने को लेकर जब सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि ‘आपको ये सवाल कांग्रेस से पूछना चाहिए कि ऐसी स्थिति क्यों बनी’? बता दें कि कांग्रेस ने किशोर उपाध्याय को पार्टी से 6 साल के लिए निष्कासित कर दिया है। इसे पहले कांग्रेस ने पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप में किशोर उपाध्याय को सभी पदों से हटा दिया था।

पढ़ें :- उत्तराखंड में दोपहर एक बजे तक 35.21 फीसद हुआ मतदान

डोईवाला सीट पर भी फंसा है पेंच 

दूसरी तरफ भाजपा डोईवाला सीट पर अभी तक अपना उम्मीदवार तय नहीं कर पाई है। पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के चुनाव लड़ने से इंकार करने के बाद से अब माना जा रहा है कि सीडीएस स्व. जनरल बिपिन रावत के परिवार से किसी को इस सीट पर टिकट दिया जा सकता है। अभी हाल ही में जनरल बिपिन रावत के भाई को भाजपा में शामिल किया गया है।

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...