Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. UP News: बनारस में अंगीठी के धुएं से 4 लोगों की मौत, हादसे से मचा हड़कंप

UP News: बनारस में अंगीठी के धुएं से 4 लोगों की मौत, हादसे से मचा हड़कंप

उत्तर-प्रदेश के बनारस से एक दर्दनाक घटना सामने आया है,पूरे बनारस में एक सीरियल किलर (अंगीठी )की चर्चा आम हो गई है,बनारस के आदमपुर रेलवे कॉलोनी में जलती हुई अंगीठी के धुएं की वजह से एक परिवार के 3 लोगों की जान चली गई,तो वही गुरुवार की दोपहर में रोहनिया क्षेत्र में एक दो साल के बच्चे की भी अंगीठी के धुएं से मौत होने की बात सामने आ रही है

By रेनू मिश्रा 

Updated Date

Varanasi News: उत्तर-प्रदेश के बनारस से एक दर्दनाक घटना सामने आया है,पूरे बनारस में एक सीरियल किलर (अंगीठी )की चर्चा आम हो गई है,बनारस के आदमपुर रेलवे कॉलोनी में जलती हुई अंगीठी के धुएं की वजह से एक परिवार के 3 लोगों की जान चली गई,तो वही गुरुवार की दोपहर में रोहनिया क्षेत्र में एक दो साल के बच्चे की भी अंगीठी के धुएं से मौत होने की बात सामने आ रही है

पढ़ें :- UP: रोडवेज बस का सफर 25 पैसे प्रति किमी हुआ महंगा, पढ़ें पूरी खबर

दरअसल, पूरा मामला वाराणसी के रोहनिया थाना क्षेत्र के दरेखु गांव का है. जहां जौनपुर के चंदवक गांव के निवासी राहुल निषाद किराए के मकान में रहते थे. परिवार में राहुल समेत उसकी पत्नी रिंकू व उसके दो पुत्र 5 वर्ष और दो वर्ष के रहते थे. राहुल ने बीती रात ठंड ज्यादा होने के कारण कमरे में अंगीठी जलाकर परिवार के साथ सो गए. सुबह काफी देर तक कमरा बंद होने पर पड़ोस के किरायेदारों ने कमरे को पीटना शुरू किया.

उसके बाद भी जब कोई आवाज नहीं आई तो कमरे के दरवाजे को तेज से धक्का दिया और अंदर जाकर देखा तो पूरा परिवार अचेत पड़ा था. जिसके बाद लोगों ने पुलिस व एम्बुलेंस को सूचना दी. मौके पर पहूची पुलिस व एम्बुलेंस कर्मचारियों ने देखा तो 2साल के बच्चे डुग्गू की मौत हो चुकी थी. राहुल, रिंकी और अनुज को जिला अस्पताल भेजा गया. जहां पर इलाज चल रहा है.

काशी में अंगीठी के कारण एक हफ्ते के अंदर अब तक 4 लोगों की मौत से लोग सहमे हुए हैं. दरअसल पहली घटना 1 जनवरी को हुई थी, तो वहीं दूसरी 4 जनवरी को हुई है. वहीं रोहनिया पुलिस का कहना है कि घर में रात भर अंगीठी जलने के कारण कार्बन मोनोऑक्साइड गैस घर में भर जाती है. जिससे सांस लेने में दिक्कत होती है. ऐसे में तत्काल इलाज ना मिले तो मौत हो जाती है. फिलहाल दो साल के मासूम के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है. जबकि अन्य का इलाज जारी है.

पढ़ें :- CM योगी ने कैबिनेट को सौंपी 2024 में बीजेपी की जीत की जिम्मेदारी, 48 मंत्रियों को 75 जिलों का मिला प्रभार
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com