1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. लखीमपुर कांड में पुलिस का एक्शन, 6 आरोपी गिरफ्तार, एक एनकाउंटर में पकड़ा गया, दुष्कर्म के बाद की थी हत्या

लखीमपुर कांड में पुलिस का एक्शन, 6 आरोपी गिरफ्तार, एक एनकाउंटर में पकड़ा गया, दुष्कर्म के बाद की थी हत्या

Dalit Rape-Murder Case: लखीमपुर कांड में पुलिस का बड़ा खुलासा, दुष्कर्म के बाद करी हत्या। जैसे ही ये घटना सामने आई स्थानीय ग्रामीणों ने निघासन चौराहे पर रास्ता जाम कर प्रदर्शन किया. लड़कियों की मां ने पड़ोस के गांव के रहने वाले तीन युवकों पर उसकी बेटियों को अगवा कर उनकी हत्या करने का आरोप लगाया है. सपा-कांग्रेस ने इस मुद्दे को लेकर प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाए हैं.

By रुचि उपाध्याय 
Updated Date

Lakhimpur Murder-Rape Case:उत्तर प्रदेश के लखीमपुर में दो दलित बहनों, जिनकी उम्र 17 और 15 साल की थी, को एक पेड़ से लटके पाए जाने के कुछ घंटे बाद, छह युवकों को उनके बलात्कार और हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने कहा कि लड़कियों की हत्या चार लोगों ने की थी। लखीमपुर खीरी जिले के निघासन में बुधवार शाम एक खेत में दो सगी बहनों के शव पेड़ पर फंदे से लटकते पाए गए. दोनों लड़कियां दलित समुदाय की थीं. इस मामले में मुख्य आरोपी छोटू समेत 6 लोगों को गिरफ्तार में लिया गया है. ये सभी आपस में दोस्त हैं. इन पर पॉक्सो एक्ट के तहत रेप और हत्या की धाराएं लगाई गई हैं.

पढ़ें :- Gujarat Election 2022: गुजरात में गरजे यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, कही ये बात,पढ़ें

जानकारी के अनुसार एक आरोपी को पुलिस ने एनकाउंटर के बाद गिरफ्तार किया है. उसके पैर में गोली लगी है. आरोपियों की पहचान छोटू, सुहैल, जुनैद, हाफिज और हफीजुल के तौर पर हुई है. इस मामले में लखीमपुर खीरी के एसपी ने कहा कि लड़कियों के साथ रेप के बाद उनकी गला घोंटकर हत्या कर दी गई. पूरे मामले में नामजद अभियुक्त समेत 6 को गिरफ्तार किया गया है. जब लड़कियों ने आरोपियों पर शादी का दवाब बनाया तो उनकी हत्या की गई. एसपी ने बताया कि नामजद आरोपी छोटू ने अन्य आरोपियों से लड़कियों की मुलाकात कराई थी. बाकी चीजें पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में ही साफ हो पाएंगी.

पढ़ें :- यूपी में श्रद्धा जैसा केस: दूसरे से शादी करने पर पूर्व प्रेमी ने महिला के किए 6 टुकड़े, गिरफ्तार

जैसे ही ये घटना सामने आई स्थानीय ग्रामीणों ने निघासन चौराहे पर रास्ता जाम कर प्रदर्शन किया. लड़कियों की मां ने पड़ोस के गांव के रहने वाले तीन युवकों पर उसकी बेटियों को अगवा कर उनकी हत्या करने का आरोप लगाया है. समाजवादी पार्टी और कांग्रेस ने इस मुद्दे को लेकर प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाए हैं.

पुलिस सूत्रों ने यहां बताया कि बुधवार की शाम निघासन कोतवाली क्षेत्र के एक गांव से कुछ दूरी पर गन्ने के खेत में पेड़ पर फंदे से लटकते दो लड़कियों के शव मिले. दोनों लड़कियां दलित समुदाय की हैं. एसपी संजीव सुमन और एडिश्नल एसपी अरुण कुमार सिंह बड़ी संख्या में पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और नाराज ग्रामीणों को कार्रवाई का भरोसा दिया.

सूत्रों ने बताया कि मृत लड़कियों की मां का आरोप है कि पड़ोस के गांव के रहने वाले तीन युवकों ने उसकी बेटियों को उनकी झोपड़ी के पास से अगवा करने के बाद उनकी हत्या कर दी. उन्होंने बताया कि शव पोस्टमॉर्टम के लिए भेजे गए हैं और मौत का वास्तविक कारण पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से ही पता लग सकेगा. पुलिस मामले की जांच में जुटी है.

लखीमपुर के निघासन थाना इलाके के तमोलीन पुरवा गांव में दो सगी बहनों के शव बुधवार शाम पेड़ पर लटके मिले. मृतक लड़कियों की मां ने बताया कि बड़ी बेटी 17 और छोटी 15 साल की थी. दोनों घर के बाहर बैठी हुई थीं, इस बीच जब वह घर के अंदर गई. तभी बाइक सवार 3 युवक पहुंच गए. उन तीनों मे से 2 लड़कों ने बेटियों को घसीटकर बाइक पर बैठा लिया और फरार हो गए. उसके बाद दोनों बेटियों के शव पेड़ पर लटके मिले.

पढ़ें :- BJP का आज से धुआंधार प्रचार,15 बड़े नेता करेंगे 40 से ज्यादा रैलियां, पढ़ें
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...