1. हिन्दी समाचार
  2. जॉब्स
  3. Agnipath Scheme : अग्निपथ योजना लॉन्च, सेना में 4 साल की नौकरी, जानें क्या हैं सेना में भर्ती से जुड़े नए नियम

Agnipath Scheme : अग्निपथ योजना लॉन्च, सेना में 4 साल की नौकरी, जानें क्या हैं सेना में भर्ती से जुड़े नए नियम

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा- Youthful profile से ये फायदा भी होगा, कि उन्हें नई-नई technologies के लिए आसानी से Train किया जा सकेगा, उनकी health और Fitness का Level भी बेहतर होगा।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 14 जून। भारतीय सेना में भर्ती के लिए अब नए नियम लागू हो रहे हैं। केंद्र सरकार ने मंगलवार को ‘अग्निपथ भर्ती योजना’ शुरूआत की है। केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने योजना को लॉन्च करते हुए कहा कि इससे युवाओं को सेना में भर्ती होने का मौका मिलेगा। राजनाथ सिंह ने कहा कि पिछले कई सालों में रक्षा व्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए कई कदम उठाए गए हैं। सेना को विश्व की बेहतरीन सेना बनाने के लिए अग्निपथ योजना लाई गई है। देश की सुरक्षा को मजबूत करने के लिए अग्निवीर आएंगे। नौकरी के अवसर बढ़ेंगे। अग्निवीरों के लिए अच्छी सैलरी की व्यवस्था की गई है। GDP में भी योगदान देंगे। देश को स्किल वाले लोग भी मिलेंगे।

पढ़ें :- Agnipath Scheme : राहुल गांधी का बीजेपी पर हमला- कृषि कानूनों की तरह अग्निपथ योजना को भी लेना पड़ेगा वापस

राजनाथ सिंह ने अग्निपथ योजना के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि योजना के तहत ये कोशिश की जा रही है कि भारतीय सशस्त्र बल का प्रोफाइल उतना ही यूथफूल हो, जितना कि व्यापक भारत की जनसंख्या है। अग्निपथ योजना से रोजगार बढ़ेगा, अग्निवीर सेवा के दौरान अर्जित स्किल और अनुभव उन्हें कई क्षेत्रों में रोज़गार प्राप्त करने में मदद करेगा। अग्निवीरों के लिए ये एक अच्छा पे पैकेज होगा। 4 साल की सेवा के बाद सेवा निधि पैकेज और उदारवादी ‘मृत्यु और विकलांगता पैकेज’ की भी व्यवस्था की गई है। साथ ही नौसेना की अग्निवीरों में महिलाएं भी शामिल हों सकेंगीं।

पढ़ें :- Agnipath Scheme : अजीत डोभाल ने कहा- सरकार अग्निपथ योजना नहीं लेगी वापस, हिंसक प्रदर्शन करने वाले असल में सेना में भर्ती के उम्मीदवार नहीं

क्या है अग्निपथ योजना ?

पढ़ें :- Agnipath Scheme : अखिलेश यादव का तंज- अग्निपथ योजना के जरिए युवकों को उद्योगपतियों का चौकीदार बनाने की तैयारी

इस योजना से देश के युवाओं को राष्ट्र की सेवा करने का मौका मिलेगा। अभी 32 साल ऐज प्रोफइल रखा गया है, आगे ये 26 हो जाएगा। जो युवा इस योजना के तहत भर्ती होना चाहते हैं, उनका मानसिक और शारिरिक फिट होना जरूरी है। ये योजना कई देशों में स्टडी के बाद लाई जा रही है। इस योजना के जरिए युवाओं को रोजगार मिलेगा और अच्छा वेतन भी दिया जाएगा।

अग्निवीरों की 6 महीने की ट्रेनिंग

बतादें कि कोरोना महामारी की वजह से पिछले 2 साल से सेना में भर्ती रूकी हुई है। पहले जहां नए सैनिकों को 9 महीने की ट्रेनिंग लेनी होती थी और वेतन भी कम मिलता था। अब उसे महज 6 महीनों की ट्रेनिंग होगी।

पढ़ें :- Agnipath Scheme : पीएम मोदी पर कांग्रेस नेता सुबोध कांत सहाय का विवादित बयान, पूर्व सीएम रघुवर दास का पलटवार, दिया करारा जवाब

अग्निवीरों को मिलेगी कितनी सैलरी ?

गौरतलब है कि सेना में पहले रिटायरमेंट की उम्र करीब 40 साल थी। वहीं अब नए नियमों के तहत पहले 4 साल के लिए सैनिकों की भर्ती की जाएगी। बताया जा रहा है कि अभी सैनिकों को कम वेतन मिलता है, लेकिन नए नियमों के तहत करीब 30 हजार रुपए अग्निवीरों को मिलेंगे।

बतादें कि इससे पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सोमवार को कहा था कि भारत को भविष्य में युद्ध के लिए तरह तैयार रहने की जरूरत है और इसके लिए सशस्त्र बलों और नागरिक प्रशासन के बीच बेहतर तालमेल हो। मसूरी स्थित लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी में अपने संबोधन के दौरान राजनाथ सिंह ने यूक्रेन में जारी युद्ध का भी जिक्र किया और इस बात पर जोर दिया कि साइबर और छद्म युद्धों के मद्देनजर सुरक्षा चुनौतियां अब और अधिक जटिल हो गई हैं। उन्होंने कहा कि भारत शांति में विश्वास करता है और युद्ध छेड़ना हमारी प्रकृति का हिस्सा नहीं है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...