1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. सदन में मारपीट के मामले में भाजपा के पांच विधायक निलंबित

सदन में मारपीट के मामले में भाजपा के पांच विधायक निलंबित

पश्चिम बंगाल की विधानसभा में सोमवार का दिन याद किया जाएगा। आज तृणमूल और विपक्षी भाजपा विधायकों के बीच हाथपाई हो गई। इस हाथापाई में कई विधायक चोटिल हो गए।

By Akash Singh 
Updated Date

कोलकाता, 28 मार्च। पश्चिम बंगाल राज्य विधानसभा में सोमवार को मर्यादा की सभी सीमाएं टूट गईं। सत्तारूढ़ तृणमूल और मुख्य विपक्षी भारतीय जनता पार्टी के विधायकों में हाथापाई मामले में विधानसभा अध्यक्ष ने भाजपा के पांच विधायकों को निलंबित कर दिया है।

पढ़ें :- Delhi : स्टेडियम में IAS अधिकारी द्वारा कुत्ते को घुमाने का मामला, दिल्ली सरकार ने कहा- अब रात 10 बजे तक खुले रहेंगे सभी स्टेडियम

बंगाल विधानसभा अध्यक्ष विमान बनर्जी ने विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष और वरिष्ठ भाजपा विधायक शुभेंदु अधिकारी के साथ भाजपा के मुख्य सचेतक मनोज टिग्गा, विधायक शंकर घोष, दीपक वर्मन और नरहरी महतो को निलंबित कर दिया है। विधानसभा के चालू सत्र में ये पांचों विधायक भाग नहीं ले सकेंगे।

इधर, बंगाल विधानसभा में हिंसा की इस घटना को लेकर भारतीय जनता पार्टी के केंद्रीय नेताओं ने भी राज्य सरकार हमले शुरू कर दिए हैं। पार्टी की आईटी सेल के प्रमुख और उत्तर बंगाल के प्रभारी अमित मालवीय ने ट्विटर पर लिखा है कि, ‘बंगाल के राज्यपाल के बाद, तृणमूल विधायकों ने अब मुख्य सचेतक मनोज टिग्गा सहित भाजपा विधायकों पर हमला किया क्योंकि वे सदन के पटल पर बीरभूम नरसंहार पर चर्चा की मांग कर रहे थे। आखिर ममता बनर्जी क्या छुपाना चाहती हैं।’

दूसरी और भारतीय जनता पार्टी के सांगठनिक महासचिव बीएल संतोष ने भी हिंसा की इस घटना को लेकर ममता बनर्जी पर हमला बोला है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा है कि ममता बनर्जी के तीसरी बार राज्य की कमान संभालने के बाद से राज्य की राजनीति में गिरावट अंतिम सीमा तक पहुंच गई है। आज भारतीय जनता पार्टी के मुख्य सचेतक मनोज टिग्गा और अन्य विधायकों को विधानसभा के अंदर तृणमूल कांग्रेस के विधायकों ने मारा पीटा है। घटना के बाद नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी ने कहा, “जिस तरह से बीरभूम नरसंहार में आठ लोगों को जिंदा जला दिया गया वहीं गुंडागर्दी विधानसभा में तृणमूल कांग्रेस के गुंडे विधायक कर रहे हैं।”

तृणमूल विधायक की नाक से बहा खून
मारपीट और हाथापाई में तृणमूल कांग्रेस के विधायक असीत मजूमदार की नाक पर चोट लगी है। जो वीडियो सामने आए हैं, उसमें देखा जा सकता है कि उनकी नाक से खून बह रहा है। उन्होंने मीडिया के कैमरों के सामने दावा किया है कि नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी ने उन पर हमला कर उनकी नाक तोड़ दी है।

पढ़ें :- Jharkhand News : डीएवी कपिलदेव स्कूल के प्रिंसिपल पर लगा यौन शोषण का आरोप, नौकरी के नाम पर उठाया फायदा

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...