1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. Jharkhand : पूजा सिंघल की WhatsApp चैट ने खड़ा किया नया सियासी तूफान

Jharkhand : पूजा सिंघल की WhatsApp चैट ने खड़ा किया नया सियासी तूफान

Jharkhand IAS Pooja Singha पर ईडी के शिंकजे के बाद से सूबे के कई अधिकारियों की नींद उड़ी हुई है। इस मामले में पूजा सिंघल की चैट ने एक नया सियासी भूचाल ला दिया है। आने वाले दिनों में ईडी कई बड़े खुलासे कर सकती है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

रांची, 15 मई 2022। Jharkhand News : खनन मामले में ईडी की पूछताछ में आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल की व्हाट्स ऐप चैट ने एक नया सियासी भूचाल ला दिया है। इस बारे में जब उनसे पूछताछ हुई तो वह उलझ कर रह गई। शनिवार ईडी की टीम ने पूजा सिंघल के पति अभिषेक झा व सीए सुमन से भी पूछताछ की। इस पूछताछ में उनके पल्स अस्पताल व पल्स डायग्नोसिस सेंटर में निवेश व कई अन्य जगहों पर खरीदी गई जमीन के बारे में जानकारी ली गई।

पढ़ें :- आईएएस पूजा सिंघल पति के साथ पहुंची ईडी ऑफिस, पूछताछ शुरू

आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल से प्राप्त अवैध कमाई के तार जल्द ही झारखंड के कई बड़े नेताओं तक पहुंच सकते हैं। सीए सुमन कुमार और पूजा सिंघल से पूछताछ के दौरान ये बात उभर कर आ रही है कि राज्य के बड़े नेताओं व प्रभावी लोगों के संरक्षण में वसूली के कार्य को अंजाम दिया जाता है।

सूत्रों के मुताबिक पूजा सिंघल की जिस महिला के साथ व्हाट्स ऐप पर बात हुई है, उससे ईडी की टीम खान एवं उद्योग विभाग तक जांच के दायरे को बढ़ा सकती है। बताया जाता है कि जिस महिला के साथ पूजा सिंघल की बात हुई थी वह खनन क्षेत्र में मजबूत पकड़ रखती हैं।

तीन जिलों के खनन पदाधिकारियों को दिया सम्मन

ईडी ने अपनी जांच के दायरे को बढ़ाते हुए तीन अन्य जनपदों के खनन पदाधिकारियों को सम्मन जारी किया है। इन पदाधिकारियों के द्वारा पूजा सिंघल को बड़ी रकम दिये जाने की पुष्टि हुई है। ईडी फिलहाल इस बात की जांच में जुटी है कि अपने पद में रहते हुए पूजा सिंघल ने कहा से अवैध तरीके से संपत्ति को अर्जित किया है। इसके साथी ही उन्हें किन लोगों का संरक्षण प्राप्त था। इसके अलावा इस तरह की अवैध कमाई से किन लोगों को फायदा पहुंचाया जाता था।

फिलहाल ईडी 16 मई को तीन जिलों के खनन पदाधिकारियों से इस मामले को लेकर पूछताछ करेगी। जिन लोगों को सम्मन दिया गया है, उनमें साहिबगंज के जिला खनन पदाधिकारी विभूति कुमार, दुमका के जिला के खनन पदाधिकारी कृष्णचंद्र किस्कू व पलामू के जिले खनन पदाधिकारी आनंद कुमार शामिल हैं। इस जांच में पहले इन तीनों पदाधिकारियों से पूछताछ की जाएगी। जिसके बाद अन्य जिलों के खनन पदाधिकारियों से पूछताछ होगी।

अवैध खनन कमाई का धन पहुंचता था ऊपर तक 

रिमांड पर आईएएस पूजा सिंघल व उनके सीए से चली रही पूछताछ में ईडी को यह जानकारी मिली है कि अवैध खनन में हुई कमाई का पैसा ऊपर तक पहुंचाया जाता था। फिलहाल ये धन किन किन लोगों को पहुंचाया जाता था इस बात का खुलासा होना बाकि है। पूजा सिंघल राज्य खनिज विकास निगम के प्रबंध निदेशक भी रह चुकी हैं। इस समय उनके द्वारा भारी मात्रा में अवैध रूपयों का लेन देन किये जाने की जानकारी ईडी को प्राप्त हुए है। जिसके सत्यापन के लिए भी जिलों के कुछ खनन पदाधिकारियों से पूछताछ होनी है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...