1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. Jharkhand Monsoon Session 2022 : सदन में CM हेमंत सोरेन के इस्तीफे को लेकर हंगामा, बीजेपी के 4 विधायक सस्पेंड

Jharkhand Monsoon Session 2022 : सदन में CM हेमंत सोरेन के इस्तीफे को लेकर हंगामा, बीजेपी के 4 विधायक सस्पेंड

झारखंड से बीजेपी अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने सोरेन सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि हेमंत सरकार के कुकृत्यों के खिलाफ जो बोलेगा सरकार उसपर दमनकारी नीति अपनाए गी ?। ये लगातार सिद्ध होता दिख रहा है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

रांची, 02 अगस्त। चल रहे झारखंड विधानसभा के मानसून सत्र में मंगलवार को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के इस्तीफे की मांग को लेकर विपक्ष ने जबरदस्त हंगामा किया। जिसकी वजह से बीजेपी विधायक भानु प्रताप शाही, जयप्रकाश पटेल, ढुल्लू महतो और रणधीर सिंह 4 अगस्त तक निलंबित कर दिया गया। सदन में बढ़ते हंगामे को देखते हुए आखिरकार स्पीकर ने चारों बीजेपी विधायकों को सदन से बाहर करने का आदेश दिया।

पढ़ें :- Jharkhand Cash Scandal : गाड़ी से लाखों की नगदी मिलने की CID करेगी जांच, गिरफ्तार कांग्रेसी विधायकों से होगी पूछताछ

बीजेपी के 4 विधायक सस्पेंड

मंगलवार को झारखंड विधानसभा का मानसून सत्र हंगामेदार रहा। विपक्षी दल बीजेपी ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के इस्तीफे की मांग को लेकर सदन में जमकर हंगामा किया। सदन में हंगामा थमने का नाम नहीं ले रहा था। जिसे देखते हुए स्पीकर रबींद्रनाथ महतो ने बीजेपी विधायक भानु प्रताप शाही, ढुल्लू महतो, जयप्रकाश पटेल और रणधीर सिंह को 4 अगस्त तक निलंबित कर दिया। साथ ही उन्होंने चारों बीजेपी विधायकों को सदन से बाहर करने का आदेश भी दिया।

राज्य सरकार सत्ता के नशे में चूर- दीपक प्रकाश

वहीं झारखंड से बीजेपी अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने सोरेन सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि हेमंत सरकार के कुकृत्यों के खिलाफ जो बोलेगा सरकार उसपर दमनकारी नीति अपनाए गी ?। ये लगातार सिद्ध होता दिख रहा है। झारखंड विधानसभा में जनता की आवाज बुलंद करने पर बीजेपी के 4 विधायकों को निलंबित करना बेहद निंदनीय और लोकतंत्र पर प्रहार है। राज्य सरकार सत्ता के नशे में चूर है।

पढ़ें :- Jharkhand Politics : क्या टूटने की कगार पर है झारखंड में गठबंधन, हेमंत सोरेन के रुख से कांग्रेस में खलबली, RJD-कांग्रेस के बीच की दूरी के क्या मायने ?

गौरतलब है कि झारखंड विधानसभा के मानसून सत्र के दूसरे दिन सोमवार को भी कैश कांड में कोलकाता पुलिस द्वारा गिरफ्तार विधायकों के लेकर सदन में हंगामा हुआ था। विधायक इस मुद्दे पर चर्चा कर रहे थे। कांग्रेस विधायकों पर विशेष निगाहें थीं। वहीं झारखंड में आई सियासी उफान को लेकर कांग्रेस के विधायकों के साथ विपक्ष के विधायक भी चर्चा करते देखे गए। विपक्ष के हंगामे के बीच बीजेपी विधायक भानू प्रताप शाही ने सदन पर कैश मुद्दे को उठाया तो स्पीकर रवींद्र नाथ महतो ने कहा कि ये तो आपको ही पता होगा। सोमवार को सदन की कार्यवाही पहली पाली में हंगामे के कारण स्थगित हुई थी, तो फिर कई विधायक हॉल में ही बैठे रहे थे। इस दौरान सदन के अंदर बीजेपी विधायक भानु प्रताप शाही ने पूछा था कि अब कहां हैं तीनों विधायक। उनका इशारा कांग्रेस विधायक इरफान अंसारी, राजेश कच्छप और नमन विक्सल कोंगाड़ी की तरफ था। फिलहाल ये तीनों कांग्रेसी विधायक कैश कांड में पश्चिम बंगाल CID रिमांड पर हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...