1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. Kerala Gold Smuggling Case : मुख्य आरोपी स्वप्ना सुरेश का बड़ा आरोप- दुबई दौरे के दौरान केरल सीएम ने की थी ‘करंसी स्मगलिंग’

Kerala Gold Smuggling Case : मुख्य आरोपी स्वप्ना सुरेश का बड़ा आरोप- दुबई दौरे के दौरान केरल सीएम ने की थी ‘करंसी स्मगलिंग’

केरल के मुख्यमंत्री पी. विजयन ने स्वप्ना सुरेश द्वारा लगाए गए मुद्रा तस्करी के आरोपों से इनकार किया है। उन्होंने आरोपों को बेबुनियाद और राजनीति से प्रेरित बताया

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 8 जून। केरल का बहुचर्चित सोने की तस्करी का मामला एक बार फिर से सुर्खियों में आ गया है। मामले की मुख्य आरोपी स्वप्ना सुरेश ने केरल के मुख्यमंत्री पी. विजयन पर गंभीर आरोप लगाया है। स्वप्ना सुरेश ने दावा किया है कि जब साल 2016 में केरल के मुख्यमंत्री विजयन दुबई यात्रा पर गए थे तो उन्होंने मुद्रा की तस्करी (Currency Smuggling) की थी। तिरुवनंतपुरम सोने की तस्करी मामले की मुख्य आरोपी स्वप्ना सुरेश ने मंगलवार को आरोप लगाते हुए कहा कि केरल के मुख्यमंत्री विजयन द्वारा की गई कथित मुद्रा तस्करी में सीएम के पूर्व प्रधान सचिव एम शिवशंकर ने अहम भूमिका निभाई थी। स्वप्ना सुरेश के इन आरोपों के बीच केरल के सियासी गलियारों में पारा चढ़ा हुआ है।

पढ़ें :- कांग्रेस का BJP पर बड़ा आरोप- बीजेपी ने DHFL से 28 करोड़ की डोनेशन ली, DHFL ने किया सबसे बड़ा बैंक फ्रॉड

आरोपी स्वप्ना सुरेश का दावा

मुख्य आरोपी स्वप्ना सुरेश ने बताया कि वो उस समय तिरुवनंतपुरम में संयुक्त अरब अमीरात के वाणिज्य दूतावास में काम करती थी। तभी पूर्व प्रमुख सचिव एम शिवशंकर ने मुझे बताया कि मुख्यमंत्री एक बैग भूल गए हैं और इसे जल्द से जल्द उन तक पहुंचाया जाए। यहां तक कि एम शिवशंकर ने बैग को क्लियरेंस दिलाने के लिए खुद फोन किया था। हालांकि बैग को UAE वाणिज्य दूतावास में राजनयिक को सौंप दिया गया था, जिसमें रूपये थे। ये बात तब साफ हुई जब दूतावास की स्कैनिंग मशीन में बैग को स्कैन किया गया था।

जानें स्वप्ना सुरेश ने और क्या-क्या कहा?

स्वप्ना सुरेश ने आरोपों की बौछार करते हुए कहा कि कई बार ऐसा हुआ था कि एम शिवशंकर के निर्देशानुसार, कॉन्सल जनरल के घर से बिरयानी के बर्तन केरल के सीएम के आधिकारिक आवास क्लिफ हाउस को सौंपे गए थे। इन बर्तनों में बिरयानी के अलावा कुछ धातु की वस्तुएं भी थीं। स्वप्ना सुरेश ने ये भी कहा कि तस्करी में मुख्यमंत्री, उनकी पत्नी, बेटी, पूर्व प्रमुख सचिव एम शिवशंकर सहित कई लोग शामिल थे। स्वप्ना सुरेश ने ये बयान सोने की तस्करी से जुड़े एक मनी लॉन्ड्रिंग मामले में कोर्ट में गोपनीय बयान देने के बाद मीडिया को संबोधित करते हुए दिया।

केरल सीएम का आरोपों पर जवाब

केरल के मुख्यमंत्री पी. विजयन ने स्वप्ना सुरेश द्वारा लगाए गए मुद्रा तस्करी के आरोपों से इनकार किया है। उन्होंने आरोपों को बेबुनियाद और राजनीति से प्रेरित बताया। सीएम विजयन ने अपने बयान में कहा कि ये आरोप एक राजनीतिक एजेंडे का हिस्सा हैं। ऐसे एजेंडे को जनता नकारती है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने ही सबसे पहले केंद्र से सोने की तस्करी के मामले में प्रभावी जांच के लिए कहा था।

क्या है सोने की तस्करी का मामला?

बतादें कि 5 जुलाई, 2020 को केरल के तिरुवनंतपुरम में अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर सीमा शुल्क अधिकारियों ने 30 किलोग्राम से अधिक वजन और लगभग 15 करोड़ रुपये के सोने से युक्त सामान जब्त किया। ये सोना यूएई के वाणिज्य दूतावास के लिए आए बैगों में भरा हुआ था। उस वक्त तस्करी के आरोप में संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के वाणिज्य दूतावास के एक पूर्व कर्मचारी को हिरासत में लिया गया था। उसके बाद स्वप्ना सुरेश और संदीप नायर को गिरफ्तार किया गया था।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...