1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. Maharashtra : संजय राउत को 4 अगस्त तक ED की कस्टडी, उद्धव ठाकरे बोले- जब हमारा वक्त आएगा तो सोचिए आपका (BJP) क्या होगा?

Maharashtra : संजय राउत को 4 अगस्त तक ED की कस्टडी, उद्धव ठाकरे बोले- जब हमारा वक्त आएगा तो सोचिए आपका (BJP) क्या होगा?

शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने सोमवार को संजय राउत का समर्थन करते हुए कहा कि उन्हें राउत पर गर्व है। वक्त हमेशा बदलता रहता है, जब हमारा वक्त आएगा तो सोचिए आपका (BJP) क्या होगा।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

मुंबई, 01 अगस्त। सोमवार को शिवसेना नेता संजय राउत को गोरेगांव स्थित पत्राचाल घोटाला मामले में मुंबई की विशेष कोर्ट ने 4 अगस्त तक प्रवर्तन निदेशालय (ED) की कस्टडी में भेजने का आदेश दिया है। कोर्ट में इस मामले में ED ने 8 दिनों की कस्टडी मांगी थी। कोर्ट ने संजय राउत से दिन में 10 बजे से रात 10 बजे तक पूछताछ करने और सुबह साढ़े 8 बजे से साढ़े 9 बजे तक वकील से मुलाक़ात करने की मंजूरी दी है। संजय राउत को घर का खाना दिए जाने के बारे में कोर्ट ने कोई आदेश नहीं दिया है।

पढ़ें :- Sanjay Raut : राज्यसभा में उठाएंगे संजय राउत की गिरफ्तारी का मुद्दा- अनिल देसाई

पत्राचाल घोटाले में संजय राउत मुख्य आरोपी

विशेष कोर्ट में जज एमजी देशपांडे के सामने सरकारी वकील हितेन वेणेगांवकर ने कहा कि पत्राचाल घोटाले में संजय राउत मुख्य आरोपी हैं। संजय राउत के कहने पर ही आरोपी प्रवीण राउत ने घोटाला किया। प्रवीण राउत के बैंक अकाउंट से 1 करोड़ 64 लाख 44 हजार रुपये संजय राउत और उनकी पत्नी वर्षा राउत के बैंक में ट्रांसफर किए गए और इन्हीं पैसे से संजय राऊत ने जमीन और फ्लैट खरीदे थे।

संजय राउत को 4 अगस्त तक ED कस्टडी

सरकारी वकील ने संजय राउत पर जांच में सहयोग ना करने का आरोप भी लगाया और राउत को 8 दिनों तक ED कस्टडी में भेजे जाने की मांग की। इसके बाद संजय राउत के वकील अशोक मुंदरगी ने कोर्ट को बताया कि मामले में पूरी कार्रवाई राजनीति से प्रेरित है। वकील ने कहा कि पत्राचाल घोटाले में आरोपी को बहुत पहले गिरफ्तार किया गया था, इसके बाद संजय राउत से ED ने पूछताछ की थी, लेकिन उनकी गिरफ्तारी आज राजनीतिक कारणों से की गई है। इसके बाद कोर्ट ने संजय राउत को 4 अगस्त तक ED कस्टडी में भेजने का आदेश दिया।

पढ़ें :- Maharashtra : संजय राऊत की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, वायरल ऑडियो क्लिप की जांच के आदेश

जब हमारा वक्त आएगा तो सोचिए आपका (BJP) क्या होगा- ठाकरे

उधर शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने सोमवार को संजय राउत का समर्थन करते हुए कहा कि उन्हें राउत पर गर्व है। वक्त हमेशा बदलता रहता है, जब हमारा वक्त आएगा तो सोचिए आपका (BJP) क्या होगा। उन्होंने आगे कहा कि अब महाराष्ट्र की जनता फैसला करेगी। मुझे मरना मंजूर है, लेकिन मैं किसी की शरण में नहीं जाऊंगा। ED की कार्रवाई के बीच उद्धव ठाकरे संजय राउत के परिवार से मुलाकात करने गए थे। उन्होंने कहा कि क्षेत्रीय दलों को खत्म करने के लिए बल का प्रयोग किया जा रहा है। समय परिवर्तनशील है। आज जिस तरह का अत्याचार क्षेत्रीय दलों पर किया जा रहा है, समय बदलने के बाद जब हमारा वक्त आएगा तो सोचिए आपका (बीजेपी) क्या होगा। उद्धव ठाकरे ने कहा कि बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के बयान ने बीजेपी के चेहरे से मुखौटा हटा दिया है।

पढ़ें :- Maharashtra : रामदास कदम ने शिवसेना की हालत के लिए शरद पवार को ठहराया जिम्मेदार, कहा- पवार चाहते थे शिवसेना को खत्म करना

अब शिवसेना में सिर्फ दमदार-वफादार बचे- उद्धव ठाकरे

उद्धव ठाकरे ने कहा कि नड्डा के बयान से साफ हो गया है कि बीजेपी को प्रजातंत्र में विश्वास नहीं है, उन्हें सभी क्षेत्रीय दलों को खत्म करना है। इसी वजह से संजय राऊत को गिरफ्तार किया गया है, लेकिन संजय राऊत बालासाहेब ठाकरे के कट्टर शिवसैनिक हैं। उन्होंने कहा है कि मैं आत्मसमर्पण नहीं करूंगा, लड़ूंगा। उद्धव ठाकरे ने कहा कि उन्हें संजय राऊत पर अभिमान है। अब शिवसेना में सिर्फ दमदार और वफादार बचे हैं। इसी वजह से आज मैं भांडुप में जाकर संजय राऊत के परिवार से मिला।

गौरतलब है कि प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने गोरेगांव के पत्राचाल में हुए 1034 करोड़ रुपये के कथित घोटाल मामले में संजय राऊत को रविवार को देर रात दो चरणों में 16 घंटे तक की पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया था। इसके बाद ED ने आज सुबह जे.जे. अस्पताल में मेडिकल जांच के बाद विशेष कोर्ट में पेश किया था।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...