1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. MGNREGA Scheme : राहुल गांधी ने बीजेपी को घेरते हुए कहा- कोरोना काल में मनरेगा लोगों के लिए वरदान सिद्ध हुआ

MGNREGA Scheme : राहुल गांधी ने बीजेपी को घेरते हुए कहा- कोरोना काल में मनरेगा लोगों के लिए वरदान सिद्ध हुआ

राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी ने संसद भवन में मनरेगा को लेकर कहा था कि ये यूपीए की विफलताओं का जीवंत स्मारक है। उन्होंने इसे सरकार पर बोझ करार दिया था। लेकिन मनरेगा कोरोना काल में गरीबों के लिए रोजगार की अंतिम उम्मीद बनी।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 02 जुलाई। मनरेगा योजना को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि कोरोना काल में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम (MGNREGA) गरीब तबके के लोगों के लिए वरदान साबिक हुई। कोरोना के दौरान मनरेगा ने लोगों को बचा लिया।

पढ़ें :- जनता के मुद्दे उठाने वाली हर आवाज को दबा रही मोदी सरकार : राहुल गांधी

राहुल गांधी शनिवार को अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड में मनरेगा कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उनेहोंने कहा कि UPA सरकार ने बहुत सोच समझकर मनरेगा को संकल्पित, विकसित और लागू किया था। लेकिन वर्तमान की मोदी सरकार ने मनरेगा को सरकार पर बोझ करार दिया था। उन्होंने कहा कि जब UPA सरकार मनरेगा के बारे में विचार-विमर्श कर रही थी तो उस वक्त नौकरशाहों सहित व्यापारियों ने इस योजना को खारिज करने की कोशिश की थी, लेकिन यूपीए ने इसे लागू किया था।

पढ़ें :- No Data Available : NDA पर राहुल गांधी का निशाना- सच को छुपाना चाहती है केन्द्र सरकार

राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी ने संसद भवन में मनरेगा को लेकर कहा था कि ये यूपीए की विफलताओं का जीवंत स्मारक है। उन्होंने इसे सरकार पर बोझ करार दिया था। लेकिन मनरेगा कोरोना काल में गरीबों के लिए रोजगार की अंतिम उम्मीद बनी। राहुल ने कहा कि कोरोना के दौरान जब हजारों की संख्या में लोग बेरोजगार हुए तब मनरेगा ने ही लोगों को बचाया था। पीएम मोदी ने उस समय मनरेगा पर कोई सवाल नहीं उठाया।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...