1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. सांसद नवनीत राणा तथा विधायक रवि राणा नजरबंद, हनुमान चालीसा के पाठ पर अड़े

सांसद नवनीत राणा तथा विधायक रवि राणा नजरबंद, हनुमान चालीसा के पाठ पर अड़े

महिलाओं की आड़ में महाविकास आघाड़ी सरकार पर हमला कर रही है भाजपा: संजय राऊत

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

मुंबई, 23 अप्रैल। निर्दलीय सांसद नवनीत राणा तथा निर्दलीय विधायक रवि राणा को मुंबई पुलिस ने उनके मुंबई स्थित खार इलाके के आवास में नजरबंद कर दिया है। राणा दम्पति के घर पर 10 पुलिस कर्मी तैनात हैं, जो उनकी गतिविधियों पर नजर रख रहे हैं। इसके बाद भी राणा दम्पति ने कहा है कि वह मुख्यमंत्री के आवास मातोश्री बंगले पर जाकर हनुमान चालीसा का पाठ करेंगे।

पढ़ें :- राजनीति नहीं, कोरोना के विरुद्ध आंदोलन जरूरी : उद्धव ठाकरे

शिवसेना प्रवक्ता तथा राज्यसभा सदस्य संजय राऊत ने कहा कि राणा दम्पति हनुमान चालीसा के नाम पर राज्य में दंगा भड़काना चाहते हैं। यह दोनों यह सब काम सिर्फ भारतीय जनता पार्टी के इशारे पर उनकी शह पर कर रहे हैं, जबकि इनका इससे कोई लेना देना नहीं है। संजय राऊत ने कहा कि भाजपा महिलाओं को आगे कर महाविकास आघाड़ी पर हमला कर रही है, इससे उसे कुछ हासिल नहीं होगा। भाजपा में अगर हिम्मत है तो राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाए। संजय राऊत ने राणा दम्पति को चेतावनी देते हुए कहा कि शिवसैनिकों की संयम की परीक्षा न लें, वर्ना इसके परिणाम अच्छे नहीं होंगे।

नवनीत राणा ने कहा कि शिवसैनिक कहते हैं कि मातोश्री उनके लिए मंदिर है, इसी वजह से वह वहां जाकर हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहती हैं और वह वहां जाकर हनुमान चालीसा का पाठ करेंगी। नवनीत राणा ने कहा कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के इशारे पर राज्य सरकार पुलिस का सहयोग लेकर उन पर हमला करवाना चाहती है। उन्होंने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री जनहित के काम की बजाय लोगों पर मामला किस तरह दर्ज हो, सिर्फ इतना ही काम कर रहे हैं।

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष जयंत पाटिल ने कहा कि नवनीत राणा तथा रवि राणा की ताकत कितनी है, सभी जानते हैं। वे दोनों किसी के इशारे पर महाराष्ट्र का माहौल बिगाड़ने का काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि शिवसेना पहले से बहुत ज्यादा संयमी हो गई है। पुलिस अपना काम कर रही है। जयंत पाटिल ने कहा कि यह सब भगवान को खुश करने के लिए नहीं बल्कि वोट हासिल करने के लिए प्रयास किया जा रहा है।

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटील ने कहा कि हनुमान चालीसा का पाठ करना किसी आधार पर गलत नहीं ठहराया जा सकता है। शिवसेना को चाहिए था कि जब राणा दम्पति ने हनुमान चालीसा पढ़ने का चैलेंज दिया था, उन्हें कुर्सी आदि की व्यवस्था कर देनी चाहिए थी। इस मामले को ईगो के रूप में नहीं लेना चाहिए था।

पढ़ें :- महाराष्ट्र : अनिल देशमुख को ईडी ने भेजा पांचवां समन

राज्य के खाद्यान्न आपूर्ति मंत्री छगन भुजबल ने कहा कि पहले आवाज आई कि मस्जिदों से अजान आई तो हम हनुमान चालीसा पढ़ेंगे। राणा दम्पति ने इससे बहुत आगे निकलकर मातोश्री पर जाकर हनुमान चालीसा पढ़ने का ऐलान कर दिया। छगन भुजबल ने कहा राणा दम्पति यह सब सिर्फ पब्लिसिटी के लिए और महाराष्ट्र में दंगा भड़काने के लिए किसी के इशारे पर कर रहे हैं। इनका प्रयास सिर्फ महाराष्ट्र को बदनाम करने का है। सरकार आती है, जाती है लेकिन यह कौन सा तरीका है किसी के घर पर जाकर हनुमान चालीसा पढ़ेंगे।

उल्लेखनीय है कि अमरावती संसदीय क्षेत्र की निर्दलीय सांसद नवनीत राणा तथा निर्दलीय विधायक रवि राणा ने आज सुबह 9 बजे मुंबई में मुख्यमंत्री के आवास मातोश्री पर जाकर हनुमान चालीसा पढ़ने की चुनौती दी थी। इसी वजह से मातोश्री बंगले पर शुक्रवार रात से ही सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। शिवसैनिकों ने मातोश्री बंगले के बाहर घेरा बना दिया है। कानून व्यवस्था न बिगड़े. इसी वजह से राणा दम्पति को उनके ही खार स्थित आवास पर नजरबंद कर दिया गया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...