1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. रॉटवाइलर और पिटबुल ब्रीड के कुत्ते हुए बैन, मेयर ने लिया बड़ा फैसला

रॉटवाइलर और पिटबुल ब्रीड के कुत्ते हुए बैन, मेयर ने लिया बड़ा फैसला

रॉटवाइलर और पिटबुल दो ऐसे ब्रीड के कुत्ते हैं, जिनकी दहशत लोगों के दिलों में हमेशा रहती है. हाल ही में इस ब्रीड ने इतने लोगों पर जानलेवा हमले किए थे कि इनका बैन होना तय माना जा रहा था.

By Ruchi Kumari 
Updated Date

उत्तर प्रदेश के कानपुर की मेयर प्रमिला पांडे ने पिटबुल, अमेरिकन बुली, रॉटवाइलर पर बैन लगा दिया है. नगर निगम ने अपने प्रस्ताव में साफ लिखा है कि अगर इस ब्रीड का कुत्ता कोई पालता है तो उसे एफिडेविट देना होगा और यह कुत्ता अगर किसी को काट लेता है तो उसके मालिक के खिलाफ केस दर्ज किया जाएगा. आपको बतादें कि हाल ही में कानपुर में एक पिटबुल ने एक गाय का पूरा जबड़ा चबा लिया था, जिसके बाद सोशल मीडिया पर मांग उठने लगी थी कि ऐसे खुंखार कुत्तों पर बैन लगाया जाए.

पढ़ें :- रवीना के खिलाफ जांच के आदेश,जंगल के नियम तोड़ बिल्कुल नजदीक से वीडियो बनाने का मामला आया सामने

वंही दूसरी तरफ कानपुर में नानाराव पार्क में टहलने जाने वालों को नगर निगम ने बड़ी राहत दी है. पिछले महीने कार्यकारिणी में पास हुआ शुल्क लेना का प्रस्ताव शनिवार को नगर निगम सदन में खारिज कर दिया . तय हुआ है कि पार्क में सुबह और शाम को टहलने वालों का प्रवेश निशुल्क रहेगा. वहीं खूंखार हो रहे पिटबुल और रोटवीलर कुत्तों के पालने, बेचने, ब्रीडिंग कराने पर भी पाबंदी लगा दी गई है.

नगर आयुक्त शिवशरणप्पा जीएन की तरफ से नगर निगम सीमा में खूंखार प्रजाति के कुत्तों पर पाबंदी लगाने का टेबल प्रस्ताव अपर नगर आयुक्त (प्रथम) सूर्यकांत त्रिपाठी ने पढ़ा. इसके अनुसार लखनऊ, गाजियाबाद, मेरठ में विदेशी नस्ल के हिंसक कुत्तों के काटनेे के मामले सामने आए .इसके चलते कुत्तों की दो प्रजातियों पिटबुल (सभी बुल टेरियर, अमेरिकन बुल, अमेरिकन पिटबुल) और रोटवीलर कुत्तों पर रोक लगाई गई है.यदि कोई व्यक्ति इन प्रजातियों के कुत्तों को नगर निगम सीमा में रखता है तो पांच हजार रुपये जुर्माना लगाने के साथ ही कुत्तों को जब्त किया जाएगा.

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...