1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. Presidential Election : द्रौपदी मुर्मू शुक्रवार को करेंगी नामांकन, नामांकन की तैयारियां शुरू

Presidential Election : द्रौपदी मुर्मू शुक्रवार को करेंगी नामांकन, नामांकन की तैयारियां शुरू

मुर्मू शुक्रवार को अपना नामांकन दाखिल करेंगी। बीजू जनता दल (बीजद) प्रमुख और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के निर्देश पर राज्य सरकार के दो कैबिनेट मंत्री प्रस्तावक बने।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 23 जून। राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की ओर से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू गुरुवार को राष्ट्रीय राजधानी पहुंचीं। द्रौपदी मुर्मू कल यानी 24 जून को अपना नामांकन पत्र दाखिल करेंगी। उनके नामांकन की तैयारियां शुरू हो गई हैं।

पढ़ें :- Presidential Election : द्रौपदी मुर्मू 4 जुलाई को आएंगी झारखंड, बीजेपी ने तैयारी की शुरू

द्रौपदी मुर्मू का जोरदार स्वागत

वहीं द्रौपदी मुर्मू का इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचने पर केंद्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत, अर्जुन मुंडा, अर्जुन राम मेघवाल, डॉ. वीरेंद्र कुमार और बीजेपी नेता मनोज तिवारी, रामबीर सिंह बिधूड़ी, रमेश बिधूड़ी, बीजेपी दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता समेत तमाम नेताओं ने स्वागत किया। राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार घोषित होने के बाद मुर्मू पहली बार राष्ट्रीय राजधानी पहुंची हैं।

मुर्मू शुक्रवार को करेंगीं नामांकन

मुर्मू शुक्रवार को अपना नामांकन दाखिल करेंगी। बीजू जनता दल (बीजद) प्रमुख और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के निर्देश पर राज्य सरकार के दो कैबिनेट मंत्री प्रस्तावक बने। कैबिनेट मंत्री जगन्नाथ सरका और टुकुनी साहू ने आज यहां मुर्मू के नामांकन पत्र पर बतौर प्रस्तावक हस्ताक्षर किए। इससे पहले आज सुबह बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से बात की थी। जिसके बाद पटनायक ने ट्वीट करके कहा कि मुर्मू के नामांकन में राज्य के दो मंत्री जगन्नाथ सारका और टुकुनी साहू प्रस्तावक रहेंगे। जिसके बाद ओडिशा के दोनों मंत्रियों ने आज दिल्ली में नामांकन पत्र पर हस्ताक्षर किए। दोनों मंत्री शुक्रवार को मूर्मू के नामांकन के दौरान भी मौजूद रहेंगे। बतादें कि मुख्यमंत्री नवीन पटनायक इस समय इटली के दौरे पर हैं, लेकिन उन्होंने इससे पहले भी राज्य के सभी विधायकों से पार्टी लाइन से ऊपर उठकर राष्ट्रपति चुनाव में राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू का समर्थन करने की अपील की थी।

पढ़ें :- Presidential Election 2022 : द्रौपदी मुर्मू को SAD का समर्थन, सुखबीर बादल ने कहा- सिखों पर अत्याचारों के कारण कांग्रेस के साथ कभी नहीं जाएंगे

गौरतलब है कि राष्ट्रपति चुनाव में जीत के बाद मुर्मू पहली ऐसी आदिवासी महिला होंगीं जो देश के सर्वोच्च पद पर आसान होंगी। वो इससे पहले झारखंड की राज्यपाल रह चुकी हैं। मुर्मू ओडिशा विधानसभा की सदस्य और मंत्री भी रही हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...