1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Prophet Controversy : देश के कई हिस्सों में हिंसा, दिल्ली, यूपी और रांची के मेन रोड पर हिंसक प्रदर्शन, रांची में एक युवक की मौत

Prophet Controversy : देश के कई हिस्सों में हिंसा, दिल्ली, यूपी और रांची के मेन रोड पर हिंसक प्रदर्शन, रांची में एक युवक की मौत

कानपुर हिंसा पर उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा, निर्दोष को परेशान नहीं किया जाएगा, लेकिन अगर कोई दंगा करने की कोशिश करता है, तो उन्हें पता होना चाहिए कि उत्तर प्रदेश एक ऐसा राज्य है जहां दंगाइयों को माफ नहीं किया जाएगा।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 10 जून। नूपुर शर्मा के विवादित बयान के बाद शुक्रवार को नमाज के बाद देश के अलग-अलग हिस्सों में प्रदर्शन और हिंसक घटनाएं देखने को मिली। वहीं, सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक शुक्रवार को लेकर गृह मंत्रालय ने पहले ही राज्यों को अलर्ट जारी कर दिया था। सूत्रों के मुताबिक गृह मंत्रालय ने पहले ही प्रदर्शन को लेकर राज्यों को एडवाइजरी जारी की थी। बतादें कि बीजेपी नेता नुपूर शर्मा के पैगंबर मोहम्मद पर दिए गए विवादित बयान के बाद देश के एक खास वर्ग में रोष है और सड़कों पर उतरकर अपना विरोध जता रहे हैं।

पढ़ें :- त्योहारों से पहले हुआ कमर्शियल एलपीजी सिलेंडर सस्ता, चेक करें अपने शहर का आज का भाव

उत्तर प्रदेश में हिंसा:

उत्तर प्रदेश में जुमे की नमाज के बाद भारी बवाल देखने को मिला। नूपुर शर्मा के बयान के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया गया। प्रयागराज में जुमे की नमाज के बाद भारी पथराव हुआ है और जमकर नारेबाजी की गई। पुलिस को भी स्थिति कंट्रोल में करने के लिए आंसू गैस के गोले दागने पड़े। तो यूपी के सहारनपुर में जुमे की नमाज के बाद जबरदस्त बवाल हुआ। कई लोगों ने सड़क पर प्रदर्शन भी किया और पुलिस पर पथराव भी। SSP ने जानकारी दी है कि सहारनपुर में लगभग 36 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है।और भी कई लोगों के खिलाफ कार्रवाई हो सकती है। बतादें कि उत्तर प्रदेश के प्रयागराज, मुरादाबाद, सहारनपुर, देवबंद, हाथरस में हिंसक प्रदशनकारियों ने जमकर पुलिस पर पत्थर बरसाए। हालातों को काबू में करने के लिए पुलिस को आंसू गैस छोड़े। लाठीचार्ज कर प्रदर्शनकारियों को खदेड़ा। लखनऊ में भी टीले वाली मस्जिद में नमाज अदा करने के बाद भीड़ जुटी और नारेबाजी शुरु कर दी। लेकिन यहां पर भारी संख्या में मौजूद पुलिस ने भीड़ को तितर बितर कर मस्जिद को खाली कराया। वहीं बतादें कि प्रदर्शनकारियों ने पत्थरबाजीऔर आगजनी की, इसमें छोटे-छोटे बच्चों को भी इस्तेमाल किया गया है। पत्थरबाजी में पुलिस के कुछ जवानों के घायल होने की खबर है। बवाल के दौरान कई वाहन भी जलाए गए। हालांकि समय रहते हुए पुलिस ने हालातों को काबू में कर लिया है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य के कई शहरों में पथराव की घटनाओं के बाद प्रदर्शनकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। ACS होम अवनीश अवस्थी, कार्यवाहक DGP, ADG लॉ एंड ऑर्डर जैसे अधिकारी पुलिस मुख्यालय से स्थिति पर नजर रखे हुए हैं।

रांची में हिंसा:

नूपुर शर्मा के बयान पर आक्रोशित मुस्लिम समाज के लोगों ने शुक्रवार को रांची के मेन रोड पर हिंसक प्रदर्शन किया। भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को फायरिंग भी करनी पड़ी। पुलिस ने जब लाठीचार्ज किया तो भीड़ की ओर से पत्थर चलाए गए। पत्थरबाजी में पुलिस के कई जवानों को चोट लगी हैं। उसके बाद भीड़ को हटाने के लिए पुलिस को हवाई फायरिंग की। इस दौरान एक युवक की मौत हो गई।

पढ़ें :- Delhi Building Collapse:दिल्ली के आजाद नगर में इमारत गिरने से 3 लोगों की मौत, मलबे में मजदूरों के दबे होने की आशंका

घटना के बाद डेली मार्केट थाना क्षेत्र में कर्फ्यू लगा दिया गया है। साथ ही कई अन्य क्षेत्रों में धारा 144 लगा दी गई है। मेन रोड पर प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज के बाद डेली मार्केट के पार्किंग एरिया में दो दर्जन से अधिक गाड़ियों में तोड़-फोड़ की गयी। उनके शीशे तोड़ दिये गये। इसके अलावा कई मोटरसाइकिलें भी तोड़ी गयीं। आगजनी भी की गई। हंगामे के बाद से मेन रोड की तकरीबन सभी दुकानें बंद हो गईं। उधर रांची में भारी बवाल के बाद पुलिस बल मौके पर तैनात है। DM ने सभी से शांति बनाए रखने की अपील की है। डीएम ने जोर देकर कहा है कि सोशल मीडिया पर दिखाई जा रहीं अफवाह वाली पोस्ट्स पर ध्यान नहीं देना है।

वहीं हालात पर नजर रखने के लिए उपद्रवियों की पहचान के लिए प्रशासन ने ड्रोन कैमरे का इस्तेमाल किया है। पूरे घटनाक्रम की रिकॉर्डिंग की गई है, ताकि उपद्रवी तत्वों की पहचान की जा सके और उन पर कार्रवाई हो सके।

पढ़ें :- नेपाल की महिला के पेट से दिल्ली के डॉक्टरों ने निकला फुटबॉल के आकार का ट्यूमर, वजन 4 किलो

वहीं रांची में हुई हिंसा पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने नाराजगी जाहिर की है। सीएम सोरेन ने कहा कि ऐसी घटनाएं चिंता में डालने वाली हैं। जो नफरत फैलाना चाहते हैं, वो ऐसी साजिशें रच रहे हैं। कुछ असामाजिक तत्वों की गलती का सभी खामियाजा भुगत रहे हैं।

उधर झारखंड में विरोध प्रदर्शन के मद्देनजर 11 जून को सुबह 6 बजे तक रांची में सभी इंटरनेट सेवाएं अस्थायी रूप से निलंबित हैं।

पढ़ें :- दिल्ली पुलिस का सबसे बड़ा एक्शन! 1200 करोड़ रुपये से अधिक का ड्रग्स किया बरामद, 2 अफगान नागरिक गिरफ्तार

रांची में हुए जबरदस्त बवाल का खामियाजा बिहार सरकार में मंत्री नितिन नवीन को भी चुकाना पड़ा। जब वो स्थिति का मुआयना करने के लिए रांची जा रहे थे, तो प्रदर्शनकारियों ने उनकी गाड़ी पर भी हमला कर दिया। उस हमले में उनकी गाड़ी को काफी नुकसान पहुंचा और शीशे टूट गए। किसी तरह मंत्री ने अपनी जान बचाई।

दिल्ली में हिंसा :

दिल्ली के जामा मस्जिद के बाहर भी शुक्रवार को भारी भीड़ देखने को मिली। जुमे की नमाज के बाद कई लोगों ने एक साथ नारेबाजी की और नूपुर शर्मा के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। बताया गया कि जामा मस्जिद की सीढ़ियों पर नमाजियों ने काफी देर तक पोस्टर-बैनर लेकर खड़े रहे। जिसके बाद पुलिस के समझाने पर भीड़ कुछ कमी हुई और स्थिति कंट्रोल में आई।

एक व्यक्ति की सजा पूरे मुल्क को देंगे क्या?- नकवी

उधर बीजेपी नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने देश में जारी बवाल पर बड़ा बयान दिया। उन्होंने कहा है कि एक चीज मैं साफ कहना चाहता हूं ये मुल्क हमारा भी है उनका भी है। एक व्यक्ति की सज़ा आप पूरे मुल्क को देंगे क्या?। देश के माहौल को ख़राब करने की कोशिश की जा रही है। कुछ लोग मोहरा बनके काम कर रहे हैं। भोले-भाले लोग को मोहरा बनाके उनका इस्तेमाल किया जा रहा है। मेरी सबसे अपील है की सभी धर्मों का सम्मान करे।

बांग्लादेश तक पहुंची हिंसा, ढाका में प्रदर्शन

बांग्लादेश की राजधानी ढाका में भी नूपुर शर्मा के बयान के खिलाफ प्रदर्शन किया गया। शुक्रवार की नमाज के बाद हजारों की संख्या में लोगों ने सड़क पर प्रदर्शन किया, नूपुर शर्मा के खिलाफ नारेबाजी की और भारत सरकार को घेरा। साथ ही 16 जून को भारतीय दूतावास को घेरने की बात भी कही गई।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...