Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. झड़प के बाद पहली बार अरुणाचल पहुंचे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, दिया चीन को कड़ा संदेश

झड़प के बाद पहली बार अरुणाचल पहुंचे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, दिया चीन को कड़ा संदेश

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को कहा कि भारत के पास देश की सीमा पर विरोधियों की चुनौतियों को विफल करने की पूरी क्षमता है। राजनाथ ने कहा कि भारत कभी भी युद्ध को बढ़ावा नहीं देता है

By इंडिया वॉइस 

Updated Date

नई दिल्ली: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को कहा कि भारत के पास देश की सीमा पर विरोधियों की चुनौतियों को विफल करने की पूरी क्षमता है। राजनाथ ने कहा कि भारत कभी भी युद्ध को बढ़ावा नहीं देता है और हमेशा अपने पड़ोसियों के साथ सौहार्दपूर्ण संबंध बनाए रखना चाहता है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को BRO द्वारा निर्मित कई प्रोजेक्ट्स को राष्ट्र को समर्पित किया। इन प्रोजेक्ट्स के निर्माण से LAC तक भारतीय सेना की पहुंच और आसान हो गई है। LAC के पास ऐसे प्रोजेक्ट्स का महत्व ऐसे समझा जा सकता है कि हाल ही में तवांग में इंडियन आर्मी और चीनी सेना के बीच हुई मुठभेड़ में भारतीय सेना मजबूत इन्फ्रास्ट्रक्चर के चलते ही चीनियों पर हावी हो सकी। BRO ने 2022 में 2897 करोड़ रुपये की लागत वाले 103 इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट्स तैयार किए, जबकि 2021 में कुल 2229 करोड़ रुपये के खर्चे पर 102 इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट्स बनाए गए थे।

पढ़ें :- चीन से आगरा लौटा युवक मिला कोरोना वायरस से संक्रमित, घर में किया गया क्वारंटाइन

राजनाथ ने कहा, ‘‘भारत एक ऐसा देश है जो कभी भी युद्ध को बढ़ावा नहीं देता है और हमेशा अपने पड़ोसियों के साथ सौहार्दपूर्ण संबंध बनाए रखना चाहता है…यह हमें भगवान राम और भगवान बुद्ध की शिक्षाओं से विरासत में मिला है। हालांकि देश के पास उकसाने पर किसी भी तरह की स्थिति का सामना करने की क्षमता है। बता दें कि कुछ हफ्तों पहले अरुणाचल के तवांग के चीनी सेना से घुसपैठ की कोशिश की। भारतीय जवान पेट्रोलिंग कर रहे थे और उन्होंने चीनी सैनिकों को खदेड़ दिया।

तवांग झड़प के बाद पहली बार राजनाथ सिंह अरुणाचल पहुंचे और खूब गरजे भी। राजनाथ सिंह ने कहा कि हाल में BRO ने जिस भावना और गति के साथ विकास कार्यों को अंजाम दिया है वह सराहनीय है। अधिक से अधिक सीमावर्ती क्षेत्रों को जोड़ने की योजना सरकार की प्राथमिकता में है, ताकि वहां रहने वाले लोगों के विकास के साथ-साथ, उनमें व्यवस्था के प्रति विश्वास की भावना विकसित हो सके।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com