1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. झारखंड कांग्रेस में घमासान, पार्टी के विधायकों ने मंत्रियों के खिलाफ ही खोला मोर्चा, अब कैसे चलेगा गठबंधन ?

झारखंड कांग्रेस में घमासान, पार्टी के विधायकों ने मंत्रियों के खिलाफ ही खोला मोर्चा, अब कैसे चलेगा गठबंधन ?

कांग्रेस विधायक इरफान का दावा है कि पार्टी के 9 विधायकों उनके साथ हैं। और इन सभी विधायकों ने अपनी असंतुष्टि जताते हुए कांग्रेस पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से मिलने का वक्त मांगा

By Akash Singh 
Updated Date

झारखंड में कांग्रेस और झारखंड मुक्ति मोर्चा के गठबंधन में दरार की खबरों के बाद अब झारखंड कांग्रेस में आई दरार पूरी तरह से सामने आ चुकी है। आपको बता दें पार्टी के 9 विधायकों ने कांग्रेस कोटे के मंत्रियों के खिलाफ मोर्चा खोला है। विधायक इरफान अंसारी के साथ गुरुवार को चार विधायकों की बैठक हुई जिसमें विधायक उमाशंकर अकेला, नमन विक्सल और राजेश उपस्थित थे। कांग्रेस विधायक इरफान का दावा है कि पार्टी के 9 विधायकों उनके साथ हैं। और इन सभी विधायकों ने अपनी असंतुष्टि जताते हुए कांग्रेस पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से मिलने का वक्त मांगा है। उनका कहना है कि विधायकों की बात पार्टी के विधायक दल बैठक में सुनी नहीं जाती है। उन्होंने कहा कांग्रेस कोटे से जो सरकार में मंत्री हैं वह अपनी ही विधायकों की बात को नहीं सुनते हैं।

पढ़ें :- बाबूलाल मरांडी ने ट्वीट कर कहा, राज्य के डीजीपी बिना वेतन कर रहे काम

विधायक इरफान ने कहा की पार्टी की तरफ से जो मंत्री सरकार में बनाए गए हैं, वह चारों मंत्री नकारा है। उन्होंने कहा कि एक भी मंत्री के काम से जनता बिल्कुल भी खुश नहीं है। अब मंत्रिमंडल में युवाओं को मौका मिलना चाहिए इरफान से पूछा गया कि बाकी के 5 विधायक कौन है ? तो उन्होंने कहा कि समय आने पर यह भी बता दिया जाएगा। वही विधायक राजेश कश्यप ने कहा कि हमारी पार्टी के मंत्री हमें समय नहीं दे रहे हैं। छोटे-छोटे काम के लिए भी हमें देर तक इंतजार करना पड़ता है। अब हमें बर्दाश्त नहीं करेंगे, हम लोग सरकार के खिलाफ नहीं हैं। लेकिन जनता का काम नहीं होगा तो कैसे चलेगा। कांग्रेस विधायक उमाशंकर अकेला ने भी नाराजगी दर्ज करते हुए कहा, कि बहुत हो गया अब सीधे राहुल गांधी से बात करेंगे क्योंकि कांग्रेस कोटे के चारों मंत्री सरकार में तो है लेकिन वह काम नहीं कर रहे हैं और ना ही संगठन में काम कर रहे है।

आपको बता दें कि लंबे समय से चल रही सियासी परेशानी अब खुल कर सामने आ गई है कांग्रेस पार्टी का अंतर्कलह झारखंड में खुलकर सामने आ गया है। अब ऐसे में देखना यह है कि ऐसी स्थिति में गठबंधन की सरकार के लिए कितनी मुश्किलें पैदा हो सकती हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...