1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. Uttarakhand : चहुंमुखी विकास की ओर अग्रसर है उत्तराखंड, लोगों का हो रहा है री-वेरिफिकेशन- CM पुष्कर सिंह धामी

Uttarakhand : चहुंमुखी विकास की ओर अग्रसर है उत्तराखंड, लोगों का हो रहा है री-वेरिफिकेशन- CM पुष्कर सिंह धामी

सीएम धामी ने कहा कि राज्य में पुलिस ने एक स्पेशल ड्राइव चलाई है, जिसके तहत उत्तराखंड में लोगों का री-वेरिफिकेशन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हम धर्मांतरण के कानून को और अधिक सख्त करने की दिशा में भी राज्य सरकार कार्यरत है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 22 मई। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री ने कहा कि आने वाले समय में उत्तराखंड हर क्षेत्र में देश के श्रेष्ठ राज्यों में शामिल हो। इसके लिए सरकार प्रयासरत है। प्रदेश में बीजेपी सरकार ने कानून व्यवस्था मजबूत की है। कानून तोड़ने वालों पर राज्य पुलिस सख्त कार्रवाई कर रही है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को दिल्ली के चाणक्यपुरी में आयोजित नीजि कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कही।

पढ़ें :- Uttarakhand : IAS अधिकारी रामविलास यादव आय से अधिक सम्पत्ति मामले में फंसे, कई ठिकानों पर उत्तराखंड विजिलेंस की रेड

उत्तराखंड चहुंमुखी विकास के पथ पर अग्रसर- धामी

मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में उत्तराखंड चहुंमुखी विकास के पथ पर अग्रसर है। उन्होंने कहा कि राज्य में पुलिस ने एक स्पेशल ड्राइव चलाई है, जिसके तहत उत्तराखंड में लोगों का री-वेरिफिकेशन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हम धर्मांतरण के कानून को और अधिक सख्त करने की दिशा में भी राज्य सरकार कार्यरत है।

राज्यों में कॉमन सिविल कोड लागू- धामी

सीएम धामी ने कहा कि उत्तराखंड देव भूमि है। ये अध्यात्म, धर्म और संस्कृति का केंद्र है। यहां औसतन हर परिवार में एक व्यक्ति सेना में भर्ती होकर देश सेवा के लिए समर्पित है। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में एक समान कानून लागू करने के लिए ड्राफ्ट तैयार करने के लिए हम एक कमेटी गठित करने वाले हैं। हम चाहते हैं कि देश के अन्य राज्य भी अपने-अपने राज्यों में कॉमन सिविल कोड लागू करें।

पढ़ें :- Uttarakhand : हेमकुंड साहिब और लोकपाल के खुले कपाट, दो साल बाद दिखी रौनक

कार्यक्रम के दौरान सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि उत्तराखंड की भौगोलिक स्थिति बाकी राज्यों की तुलना में बहुत अलग है। राज्य का अधिकतम क्षेत्र पर्वतीय है, सरकार का प्रयास है कि राज्य में औद्योगीकरण विस्तार और रोजगार का भी ध्यान रखा जाए, जिससे कि राज्य में पलायन को रोका जा सके। उन्होंने कहा कि सरकार ने इसके लिए कई तरह की योजनाएं तैयार की हैं, ताकि पहाड़ के पानी और जवानी का भरपूर उपयोग किया जा सके।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...