1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. राज्यसभा में वेंकैया नायडू का विदाई समारोह, पीएम बोले आपने युवाओं को आगे बढ़ाया

राज्यसभा में वेंकैया नायडू का विदाई समारोह, पीएम बोले आपने युवाओं को आगे बढ़ाया

वेंकैया नायडू की विदाई के मौके पर पीएम मोदी ने आज राज्यसभा में अपना संबोधन दिया। इस दौरान उन्होंने वेंकैया नायडू को उनके कार्यकाल के समापन पर धन्यवाद दिया।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 8 अगस्त: एनडीए उम्मीदवार जगदीप धनखड़ उपराष्ट्रपति का चुनाव जीत चुके हैं। 11 अगस्त को सुबह उनको शपथ दिलाई जाएगी। इस बीच सोमवार को राज्यसभा में उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू का विदाई समारोह आयोजित किया गया, जिसमें पीएम मोदी भी शामिल हुए और उनके कार्यकाल के लिए धन्यवाद दिया। पीएम ने कहा कि वेंकैया नायडू की विदाई सदन के लिए बहुत ही भावुक पल है।

पढ़ें :- सरकारी कर्मचार‍ियों के लिए खुशखबरी, केंद्र ने 4% महंगाई भत्ता बढ़ाने का क‍िया ऐलान

प्रधानमंत्री ने कहा कि आप तो देश के एक ऐसे उपराष्ट्रपति हैं जिसने अपनी सभी भूमिकाओं में हमेशा युवाओं के लिए काम किया है। आपने सदन में भी हमेशा युवा सांसदों को आगे बढ़ाया, उन्‍हें प्रोत्‍साहन दिया। प्रधानमंत्री ने कहा, “उपराष्ट्रपति के रूप में, आपने युवा कल्याण के लिए काफी समय दिया। आपके बहुत से कार्यक्रम युवा शक्ति पर केंद्रित थे।” प्रधानमंत्री ने कहा कि उपराष्ट्रपति के रूप में आपने सदन के बाहर जो भाषण दिए, उनमें करीब-करीब 25 प्रतिशत भारत के युवाओं के बारे में रहे।

प्रधानमंत्री ने विभिन्न पदों पर श्री एम. वेंकैया नायडु के साथ अपने घनिष्ठ संबंध को रेखांकित किया। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ता के रूप में उपराष्ट्रपति की वैचारिक प्रतिबद्धता, विधायक के रूप में कार्य, सांसद के रूप में गतिविधियों का स्तर, भाजपा के अध्यक्ष के रूप में संगठनात्मक कौशल, मंत्री के रूप में उनकी कड़ी मेहनत और कूटनीति व उपराष्ट्रपति और सदन के अध्यक्ष के रूप में उनके समर्पण व गरिमा की सराहना की। प्रधानमंत्री ने कहा, “मैंने वर्षों से श्री एम. वेंकैया नायडु जी के साथ मिलकर काम किया है। मैंने उन्हें अलग-अलग जिम्मेदारियों को निभाते हुए भी देखा है और उन्होंने उनमें से प्रत्येक को बड़ी निष्ठा के साथ निभाया है।” प्रधानमंत्री ने कहा कि सार्वजनिक जीवन में लोग श्री एम. वेंकैया नायडु से बहुत कुछ सीख सकते हैं।

प्रधानमंत्री ने उपराष्ट्रपति की बुद्धिमत्ता और उनके शब्दों की शक्ति पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा, “आपके प्रत्येक शब्द को ध्यान से सुना गया, पसंद किया गया, और उसे गंभीरता से लिया गया… और कभी भी उसका विरोध नहीं किया गया।” प्रधानमंत्री ने यह भी कहा, “श्री एम. वेंकैया नायडू जी संक्षिप्त वाक्य कहने के लिए प्रसिद्ध हैं। वे हाजिरजवाबी भी हैं। भाषाओं पर उनकी हमेशा पकड़ रही है।” प्रधानमंत्री ने कहा कि सदन और सदन के बाहर दोनों जगह, उपराष्ट्रपति के व्यापक अभिव्यक्ति के कौशल ने बहुत प्रभावित किया है। उन्होंने कहा, “श्री एम. वेंकैया नायडु जी की बातों में गहराई होती है, गंभीरता भी होती है। उनकी वाणी में विज भी होता है और वेट भी होता है। वार्म्थ भी होता है और विज्डम भी होता है।”

खड़गे ने कही ये बात
वहीं कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि हम दो अलग-अलग विचारधाराओं के लोग हो सकते हैं। मुझे आपसे कुछ शिकायतें भी हो सकती हैं लेकिन ये उनके बारे में बात करने का समय नहीं है। आपने इतनी कठिनाई और दबाव में भी अपनी भूमिका निभाई, इसके लिए मैं आपको धन्यवाद देता हूं।

पढ़ें :- Big News: लालू प्रसाद यादव अब इलाज के लिए जा सकेंगे सिंगापुर,CBI कोर्ट ने पासपोर्ट लौटने का दिया आदेश

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...