1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. रोटोमैक ग्रुप के प्रबंध निदेशक विक्रम कोठारी का निधन, उद्योग जगत में फैली शोक की लहर

रोटोमैक ग्रुप के प्रबंध निदेशक विक्रम कोठारी का निधन, उद्योग जगत में फैली शोक की लहर

उद्योग जगत में शोक की लहर, शहर के थे बड़े कारोबारी

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

कानपुर, 04 जनवरी। पान मसाला से कारोबार की शुरुआत करने वाले रोटोमैक ग्रुप के प्रबंध निदेशक विक्रम कोठारी का मंगलवार निधन हो गया। उनके निधन से उद्योग जगत में शोक की लहर दौड़ पड़ी और उनके परिजनों को ढांढस बधाने कारोबारी पहुंच रहे हैं।

पढ़ें :- उत्तर प्रदेश में 26 निरीक्षक को बनाया गया पुलिस उपाधीक्षक

उन पर कई बैंकों से करीब 3700 करोड़ रुपये का एनपीए था। जेल जाने के बाद तबीयत खराब होने के चलते उन्हे बेल मिल गई थी और इन दिनों वह घर पर ही रह रहे थे।

3700 करोड़ रुपए का था एनपीए

रोटोमैक ग्रुप के प्रबंध निदेशक विक्रम कोठारी पर करीब 3700 करोड़ रुपये का कई बैंकों से एनपीए था। एनपीए के मामले में वह जेल भी गये थे और बीमारी के कारण अदालत ने उन्हें जमानत दी थी। वह तिलक नगर स्थित अपने बंगले में डॉक्टर से इलाज करवा रहे थे। पिछले दिनों वह फिसल कर सिर के बल गिर गए थे।

उनका इलाज कानपुर के नामी फिजीशियन कर रहे थे। यहां हालत में सुधार न होने पर उन्हें अपोलो अस्पताल रेफर किया गया था। वहां से टीक होने के बाद वह कानपुर लौट आए थे और पत्नी साधना और बेटे राहुल कोठारी समेत परिवार के साथ तिलक नगर स्थित बंगले में रह रहे थे।

नौकरों ने पाया अचेत

मंगलवार को वह घर में अकेले थे और पत्नी व बेटा लखनऊ गए हुए थे। सुबह नौकरों ने उन्हें अचेत पाया और डॉक्टर को बुलवाया। इससे पहले उनका निधन हो गया। उनकी मौत की जानकारी पत्नी और बेटों को दी गई और वह लोग कानपुर के लिए निकल पड़े।

पढ़ें :- IT Raid : गोरखपुर के बड़े कारोबारियों पर है IT की नज़र, पढ़ें क्या है पूरा मामला ?

वहीं उद्योग जगत में जैसे ही पता चला कि विक्रम कोठारी का निधन हो गया है तो शोक की लहर दौड़ पड़ी। उनके चाहने वाले कारोबारियों से लेकर आम जनमानस परिजनों को ढांढस बंधाने के लिए उनके घर पहुंच रहे हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...