Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. Delhi MCD Election : दिल्ली सरकार पर स्मृति ईरानी का पलटवार- केजरीवाल बताएं क्यों रोका गया निगमों का 13 हजार करोड़ का फंड?

Delhi MCD Election : दिल्ली सरकार पर स्मृति ईरानी का पलटवार- केजरीवाल बताएं क्यों रोका गया निगमों का 13 हजार करोड़ का फंड?

BJP का आरोप है कि नगर निगम के विकास कार्यों में अड़ंगा डालने के लिए दिल्ली सरकार ने उसका 13 हजार करोड़ का बकाया रोक रखा है।

By इंडिया वॉइस 

Updated Date

नई दिल्ली, 11 मार्च। बीजेपी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल के निगम चुनाव टाले जाने को लेकर दिए गए बयान की कड़ी आलोचना की है। पार्टी का आरोप है कि नगर निगम के विकास कार्यों में अड़ंगा डालने के लिए दिल्ली सरकार ने उसका 13 हजार करोड़ का बकाया रोक रखा है।

पढ़ें :- दिल्ली सरकार ने ASI शंभु दयाल के परिवार को एक करोड़ की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की, हमले में गई थी जान

केन्द्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने शुक्रवार को बीजेपी मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मुख्यमंत्री केजरीवाल के आरोपों का जवाब दिया। इससे पहले केजरीवाल ने आरोप लगाया था कि आप की लहर को देखते हुए दिल्ली में बहाना बनाकर निगम चुनाव टाले गए हैं।

BJP की वरिष्ठ नेता ईरानी ने पलटवार करते हुए कहा कि दिल्ली के नागरिकों ने देखा है कि मुख्यमंत्री केजरीवाल ने नगर निगम का 7 सालों में 13 हजार करोड़ रुपये रोक रखा है। आप चाहती है कि निगम अपने कार्यों में विफल हो। मुख्यमंत्री को जवाब देना चाहिए कि क्यों दिल्ली के सफाई कर्मी और सफाई व्यवस्था के फंड को रोक के रखा गया है। केन्द्रीय मंत्री ने इस बात पर आश्चर्य जताया कि निगम चुनाव टाले जाने का खुद मुख्यमंत्री विरोध कर रहे हैं।

गौरतलब है कि दिल्ली में नगर निगम के चुनाव कुछ समय के लिए केन्द्र की अपील पर चुनाव आयोग ने टाल दिए हैं। केन्द्र सरकार दिल्ली के 3 नगर निगमों को दोबारा एक करना चाहती है। आज केन्द्रीय मंत्री ईरानी ने कहा कि नगर निगमों के अधिकारियों ने इसकी पिछले साल ही मांग की थी। ईरानी ने कहा कि दिल्ली में जिन पार्क में बच्चे खेलने के इच्छुक हैं, उनकी मेंटिनेंस का पैसा क्यों केजरीवाल जी रोक कर बैठे हैं। उनसे निवेदन है कि वो गरीब की झुग्गी-झोपड़ी तक विकास के काम होने दें, रिफॉर्म का काम होने दें। ईरानी ने कहा कि आम आदमी पार्टी को उत्तर प्रदेश में नोटा से कम वोट मिले, उत्तराखंड में 70 में से 55 सीटों पर जमानत जब्त हुई और गोवा में सिर्फ 6 प्रतिशत वोट मिले। ये हास्यास्पद है कि उस पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल देश के प्रधानसेवक (प्रधानमंत्री ) पर कटाक्ष कर रहे हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com