Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. मुख्तार अंसारी कोर्ट में हाजिर हो

मुख्तार अंसारी कोर्ट में हाजिर हो

मुख्तार अंसारी की आज एमपी-एमएलए कोर्ट में 2005 के एक मामले में पेशी होनी है जिसको लेकर कोर्ट के बाहर सुरक्षा चाक-चौबंद कर दी गई है.

By Avnish 

Updated Date

मुख्तार अंसारी सिर्फ नाम ही नहीं है बल्कि ऐसा डॉन है जिसके नाम से ना सिर्फ उसका इलाका बल्कि पूरा इलाका डरा करता था उस समय मुख्तार अंसारी की तूती बोला करती थी आजकल मुख्तार अंसारी का नाम सुर्खियों में है क्योंकि मुख्तार अंसारी के ऊपर 2007 में गैंगस्टर एक्ट के तहत एक मामला दर्ज हुआ था उस पर सुनवाई होने वाली है और इसीलिए एक बार फिर से एमपी-एमएलए कोर्ट में सुरक्षा के इंतजाम चाक चौंबद कर दिए गए है यह वहीं एमपी-एमएलए कोर्ट है जिसमें अतीक अहमद की पेशी हुई थी और इसके बाद माफिया अतीक को कई मामलों में सजा सुनाई गई थी.

पढ़ें :- Lucknow : हनुमान सेतु मंदिर में भक्तों की भारी भीड़, भीषण गर्मी में लगी लंबी लाइने

 

आज आएगा फैसला

बता दें कि बसपा के सासंद अफजाल अंसारी और पूर्व विधायक मुख्तार अंसारी के खिलाफ शनिवार को फैसला आएगा अगर कोर्ट दो साल से ज्यादा का फैसला सुनाएगा तो सासंद अफजाल अंसारी की सदस्या भी जा सकती है जिसका डर अफजाल अंसारी को सता रहा है. सबसे पहले जानते है कि यह पूरा मामला आखिर है क्या 22 नवम्बर 2007 में मुहम्दाबाद पुलिस ने अफजाल अंसारी और मुख्तार अंसारी पर केस दर्ज किया था इस मामले पर इस वक्त अफजाल अंसारी जमानत पर है इस मामले में 23 सितंबर 2022 को गवाही पूरी हुई. और आज कोर्ट फैसला सुना सकती है.

 

पढ़ें :- Fatehpur : भाजपा नेत्री गायत्री सिंह के बेटे समेत 3 गिरफ्तार, इस मानले पर हुई कार्रवाई

कृष्णानंद संग 7 लोगों की हत्या

बता दें 2005 का यह पूरा मसला है जिसमें 7 लोगों की मुहम्मदाबाद में बुरी तरीके से हत्या कर दी गई उसके बाद ठीक 2 साल बाद 2007 में केस दर्ज हुआ. एजाजुल हक की मौत हो चुकी है गैंगचार्ट एक्ट के तहत यह मुकदमा दर्ज किया गया है.

 

माफिया मुख्तार अंसारी के खिलाफ कई केस दर्ज

पूर्वांचल के डॉन मुख्तार अंसारी के खिलाफ दर्जनों मुकदमें दर्ज है कई ऐसे कारनामों को अंजाम दिया गया है मुख्तार अंसारी के जरिए जो कि काफी खौफनाक भी रहे है मुख्तार के परिवार के इतिहास पर एक नजर डाली जाए तो मुख्तार के परिवार का इतिहास सर ऊंचा करने वाला रहा है. मुख्तार अंसारी के दादा आजादी से पहले इंडियन नेशनल कांग्रेस के अध्यक्ष रह चुके है दादा का नाम भी मुख्तार अंसारी था जिन्होंने देश के आजादी में अपना खासा योगदान दिया. गाजीपुर का जिला अस्पताल उन्हीं के नाम पर रखा गया है.

पढ़ें :- पूर्व फौजी की 85 वर्षीय विधवा के घर गैंगस्टर का कब्जा, जानें पूरा मामला

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com