1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. झारखंड में पंचायत चुनाव 14 मई से, चार चरणों में होगा मतदान, जानें पूरा ब्यौरा

झारखंड में पंचायत चुनाव 14 मई से, चार चरणों में होगा मतदान, जानें पूरा ब्यौरा

राज्य की जनता अब पंचायत निकायों के ग्राम पंचायत सदस्य, मुखिया, पंचायत समिति सदस्य और जिला परिषद सदस्य का चुनाव कर सकेगी। राज्य निर्वाचन आयुक्त डीके तिवारी ने बताया कि इस बार मतदान बैलेट बाक्स के माध्यम से कराये जायेंगे।

By Akash Singh 
Updated Date

रांची : झारखंड में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव का बिगुल बज गया है। राज्यपाल की सहमति की सहमति के बाद पंचायती राज विभाग के सचिव राहुल शर्मा के हस्ताक्षर से चुनाव कराने की अधिसूचना जारी कर दी गयी है। राज्य में चार चरणों में 14, 19, 24 और 27 मई को पंचायत चुनाव के लिए मतदान होंगे। इसके तहत राज्य की जनता अब पंचायत निकायों के ग्राम पंचायत सदस्य, मुखिया, पंचायत समिति सदस्य और जिला परिषद सदस्य का चुनाव कर सकेगी। राज्य निर्वाचन आयुक्त डीके तिवारी ने बताया कि इस बार मतदान बैलेट बाक्स के माध्यम से कराये जायेंगे।

पढ़ें :- झारखंड की सैर [ इंडिया वायस विश्लेषण ]

पंचायत चुनाव की अधिसूचना जारी होने के बाद ही आदर्श आचार चुनाव संहिता लागू हो गयी है। हालांकि, नगरपालिका क्षेत्र और कैंटोनमेंट बोर्ड क्षेत्र में यह प्रभावी नहीं होगा। चुनाव शांतिपूर्ण और निष्पक्ष रूप से कराने के लिए भारी संख्या में पुलिस बलों की तैनाती की जायेगी। राज्य में 53 हजार चार सौ अस्सी मतदान केंद्र बनाये गये हैं। 22 हजार नौ सौ एकसठ संवेदनशील तथा 17 हजार एक सौ एकसठ अतिसंवेदनशील मतदान केंद्र हैं। डीके तिवारी ने बताया कि इस चुनाव में ओबीसी वर्ग को आरक्षण की सुविधा नहीं मिलेगी।चुनाव 24 जिलों के 262 प्रखंडों की 4345 ग्राम पंचायतों में होंगे।

चार चरणों में होगा चुनाव

झारखंड में पंचायत चुनाव कुल 4 चरणों में संपन्न होगा। प्रथम चरण के चुनाव में मतदान 14 मई होगा और मतगणना 17 मई को, वहीँ दुसरे चरण के चुनाव में  मतदान  19 मई को होगा और मतगणना 22 मई को, तीसरे चरण में, मतदान 24 मई और मतगणना 31 मई को होगी, और चौथे चरण में मतदान 27 मई व मतगणना 31 मई को होगी।

इतने पदों के लिए होंगे चुनाव

पढ़ें :- Jharkhand Panchayat Elections : सीएम हेमंत सोरेन की चचेरी बहन रेखा ने जीता जिला परिषद चुनाव, कई सियासी दिग्गजों के रिश्तेदारों ने भी जीत की दर्ज

प्रथम चरण में 72 प्रखंडों में 1127 ग्राम पंचायतों, 72 प्रखंडों में 14 मई को चुनाव होंगे। दूसरे चरण में 50 प्रखंडों में 872 पंचायतों में चुनाव 19 मई को कराये जायेंगे। 24 मई को 70 प्रखंडों में 1047 पंचायतों में चुनाव कराया जाना है। अंतिम चरण में 27 मई को शेष 72 प्रखंडों और 1299 पंचायतों में चुनाव कराने का टारगेट है। कुल 4345 ग्राम पंचायतों में इतने ही मुखिया, ग्राम पंचायत के 53479 प्रादेशिक निर्वाचन क्षेत्र (वार्ड सदस्य), 5341 पंचायत समिति सदस्य और जिला परिषद के 536 पदों के लिये चुनाव कराये जाने हैं।

30 हजार से अधिक संवेदनशील मतदान केंद्र

24 जिलों में 33627 मतदान भवन बनाये गये हैं। कुल मतदान केंद्रों की संख्या 53480 है। इनमें 12821 सामान्य श्रेणी के हैं। 22961 संवेदनशील केंद्र हैं, जबकि 17698 अति संवेदनशील केंद्र हैं। कुल 30 हजार से अधिक संवेदनशील मतदान केंद्र हैं। 38 चलंत मतदान केंद्र भी रहेंगे। चुनाव के दौरान सभी जिलों के मतदान केंद्रों में मतपेटिकाओं का उपयोग होना है। प्रति मतदान केंद्र 2 बड़ी या 1 बड़ी और 2 मध्यम आकार की मतपेटिका का उपयोग होगा। कुल 98081 बड़ी मतपेटिकाएं होंगी। मध्यम आकार की 39928 मतपेटिकाओं का इंतजाम किया गया है।

यूपी से मंगाए गए 50 हजार बैलेट बॉक्स

पंचायत चुनाव बैलेट पेपर से होंगे। इसके लिए 50 हजार बैलेट बॉक्स यूपी से मंगाए गए हैं। इसके अलावा राज्य में पहले से 52 हजार बैलेट बॉक्स उपलब्ध हैं। आयोग ने राज्य के सभी जिलों के डीसी का निर्देश दिया है कि चुनाव की घोषणा के बाद मतदान केंद्रों में कोई बदलाव नहीं होगा। सिर्फ विशेष परिस्थिति में ही कुछ केंद्रों में बदलाव हो सकते हैं। दरअसल कुछ जिलों से अभी भी बूथ बदलने के प्रस्ताव आ रहे हैं।

पढ़ें :- IAS Pooja Singhal Case : तीन जिलों के खनन पदाधिकारियों को समन, हो सकती है बड़ी कार्यवाई

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...