Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. मुरादाबाद में मकान दिलाने का ठेका लेना सिपाही को पड़ा महंगा, लाइन हाजिर

मुरादाबाद में मकान दिलाने का ठेका लेना सिपाही को पड़ा महंगा, लाइन हाजिर

यूपी के मुरादाबाद जिले में मकान दिलाने का ठेका लेना एक सिपाही को महंगा पड़ गया। पैसा लेने के आरोप में डीआईजी शलभ माथुर ने सिपाही को लाइन हाजिर कर दिया है।

By Rajni 

Updated Date

मुरादाबाद  यूपी के मुरादाबाद जिले में मकान दिलाने का ठेका लेना एक सिपाही को महंगा पड़ गया। पैसा लेने के आरोप में डीआईजी शलभ माथुर ने सिपाही को लाइन हाजिर कर दिया है।यह कार्रवाई पीड़ित महिला की शिकायत पर की गई है।सिपाही जिले के मझोला थाने पर तैनात है। उस पर 20 हजार रुपये लेने का आरोप है।

पढ़ें :- UP : लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद मुस्‍ल‍िम समाज से नाराज हुईं मायावती

कोर्ट के आदेश पर किराएदार से आवास खाली कराकर मकान मालिक को कब्जा दिलाना था। पीड़ित मकान मालकिन का आरोप है कि सिपाही ने आवास खाली कराने का जिम्मा लिया था। इसके लिए उसने मुझसे 20 हजार रुपए लिए थे। आवास खाली नहीं होने पर महिला ने रुपए मांगे तो सिपाही धमकी देने लगा। पीड़िता ने मामले की शिकायत डीआइजी शलभ माथुर से की।

डीआईजी ने सिपाही को लाइन हाजिर कर सीओ सिविल लाइंस को जांच के बाद सात दिनों में रिपोर्ट मांगी है। सिविल लाइंस क्षेत्र के जिगर कालोनी निवासी शालू धमीजा का कहना है कि लाइनपार चाऊ की बस्ती में उनका पैतृक आवास है। उनके पिता ने उर्मिला धानू को किराए पर मकान दिया था।

साल 2002 से किराए को लेकर था विवाद

साल 2002 से किराए को लेकर विवाद हो गया था। जिसके बाद मामला कोर्ट में चला गया। कोर्ट ने 23 फरवरी को आवास पर कब्जा दिलाने के लिए पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को आदेश जारी किए थे। जिसके लिए तय फीस भी पुलिस विभाग में जमा की गई थी।

पढ़ें :- UP : मेडिकल कॉलेज प्रशासन का अजब-गजब कारनामा, शौचालय के कमोड को बना दिया गमला

कोर्ट के आदेश का अनुपालन कराने के लिए जब पुलिस और प्रशासन की टीम पहुंची तो किराएदार आवास पर ताला लगाकर चला गया। इसके बाद मझोला थाने पर तैनात सिपाही साबिर अली ने आवास खाली कराने के नाम पर 20 हजार  रुपये ले लिए। लेकिन चार माह बीतने के बाद भी जब आवास खाली नहीं हुआ तो इस मामले की शिकायत डीआइजी शलभ माथुर से की।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com