1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. ‘दिल्ली में कंस्ट्रकशन वर्क पर रोक’ : मजदूरों को 5000 रुपये देगी केजरीवाल सरकार

‘दिल्ली में कंस्ट्रकशन वर्क पर रोक’ : मजदूरों को 5000 रुपये देगी केजरीवाल सरकार

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि प्रदूषण को देखते हुए पूरी दिल्ली में निर्माण गतिविधियों को रोक दिया गया है. केजरीवाल ने कहा कि मैंने श्रम मंत्री मनीष सिसोदिया को इस अवधि के दौरान हर निर्माण श्रमिक को वित्तीय सहायता के रूप में 5000 रुपये प्रति माह देने का निर्देश दिया है.

By Ruchi Kumari 
Updated Date

दिल्ली की हवा में प्रदूषण को लेकर दिल्ली सरकार गंभीर हो गई है. आज दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इसको लेकर एक बड़ी घोषणा की है. अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, प्रदूषण को देखते हुए दिल्ली भर में कंस्ट्रकशन वर्क को रोक दिया गया है. मैंने श्रम मंत्री मनीष सिसोदिया को निर्देश दिया है कि इस अवधि के दौरान (जब निर्माण गतिविधियों की अनुमति नहीं है) प्रत्येक निर्माण श्रमिक (लेबर्स) को वित्तीय सहायता के रूप में 5000 रुपये प्रति माह दें

पढ़ें :- श्रद्धा वालकर हत्याकांड मामले में कोर्ट ने आफताब को 13 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा

पराली का धुआं और प्रदूषण घोंट रहा दम

पढ़ें :- नोएडा सोसायटी की लिफ्ट में कुत्ते ने दो बच्चियों पर किया हमला, मामला CCTV कैमरे में कैद

दिल्ली-एनसीआर में पराली का धुआं और स्थानीय प्रदूषण लोगों का दम घोंट रहा है. केंद्र की वायु मानक संस्था सफर इंडिया के मुताबिक, पराली जलाने से उठना वाला धुआं और स्थानीय स्तर पर होने वाला प्रदूषण दिल्ली-एनसीआर में हवा के खतरनाक होने का कारण साबित हुआ है.सतही हवा अपने साथ पराली का धुआं भी दिल्ली-एनसीआर लेकर पहुंच रही है, जिससे प्रदूषण में पराली के धुएं की हिस्सेदारी दर्ज हो रही है.

सफर के मुताबिक, 2.5 से बड़े कणों की पीएम 10 में 58 फीसदी हिस्सेदारी दर्ज हुई है. पीएम 10 का स्तर 427 व पीएम 2.5 का स्तर 249 माइक्रोग्राम प्रतिघन मीटर दर्ज किया गया. रोक के बावजूद पंजाब में 1842, हरियाणा में 88, उत्तर प्रदेश में नौ, दिल्ली में एक, मध्यप्रदेश में 142 और राजस्थान में 27 जगहों पर पराली जलाने की घटनाएं रिकॉर्ड हुई हैं. इससे एक दिन पहले पंजाब में 2131 और हरियाणा में 70 जगहों पर पराली जलने की घटनाएं रिकॉर्ड की गई हैं.

दिल्ली और इसके आसपास के इलाकों की आबोहवा का हाल आज भी बेहाल है,आज 2 नवंबर की सुबह 7 बजे के करीब राजधानी का औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक यानी एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) 373 दर्ज किया गया, जो बेहद खराब श्रेणी में आता है. हालांकि, ये बीते दिन की तुलना में थोड़ा बेहतर है. दिल्ली में बीते दिन यानी मंगलवार सुबह 8 बजे वायु गुणवत्ता सूचकांक, 385 दर्ज किया गया था.

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...