1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. पत्रकार के सवाल पर भड़के डिप्टी CM केशव प्रसाद मौर्य, वीडियो भी कराया डिलीट, जानें पूरा मामला

पत्रकार के सवाल पर भड़के डिप्टी CM केशव प्रसाद मौर्य, वीडियो भी कराया डिलीट, जानें पूरा मामला

आगामी चुनाव में राजनीतिक दलों की क्या रणनीति रहने वाली है और वो किन मुद्दों को लेकर वापस से जनता के बीच जाने वाले हैं इन्हीं सब सवालों को लेकर मीडिया भी नेताओं के बयान जुटाने में लगी हुई है। पर यहां तो नेता जी ही भड़क गए जानें पूरा मामला।

By Ujjawal Mishra 
Updated Date

UP Assembly Election 2022 : यूपी सहित देश के कुल 5 राज्यों में अगले कुछ दिनों के भीतर विधानसभा चुनाव होना है। लिहाज़ा सभी पार्टियां पूरे दमखम से चुनावी अभियान में जुटी हुई हैं। लिहाज़ा आगामी चुनाव में राजनीतिक दलों की क्या रणनीति रहने वाली है और वो किन मुद्दों को लेकर वापस से जनता के बीच जाने वाले हैं इन्हीं सब सवालों को लेकर मीडिया भी नेताओं के बयान जुटाने में लगी हुई है। पर मीडिया के सवाल से उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री इतने भड़क गए कि उन्होंने तुरंत कैमरा बंद करवा दिया और माइक भी निकाल कर फेक दिया। साथ ही उन्होंने आगे इंटरव्यू देने से भी साफ इंकार कर दिया।

पढ़ें :- UP में 10 मार्च के बाद महिलाओं को सरकारी बसों में मुफ्त यात्रा : CM योगी

जी हां दरअसल यह सब कुछ तब हुआ जब BBC हिंदी के पत्रकार ने डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य से हाल ही में हरिद्वार और रायपुर में हुए ‘धर्म संसद’ मामले पर सवाल कर लिया। केशव प्रसाद मौर्य से जब धर्म संसद से जुड़े मामले पर सवाल पूछा गया तो वो इतना भड़क गए कि तुरंत माइक निकाल कर फेकने लगे और कैमेरा भी बंद करवा दिया साथ ही साक्षात्कार को बीच में ही छोड़कर चले गए।

पत्रकार ने उठाया था धर्म संसद का मामला

बता दें कि आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर केशव प्रसाद मौर्य के साथ चर्चा चल रही थी तभी BBC हिंदी के पत्रकार ने धर्म संसद से जुड़ा मामला उठा दिया। धर्म संसद का सवाल पूछे जाने के बाद ही केशव प्रसाद मौर्य यह कहते हुए खुद को अलग करने लग गए कि धर्म संसद चुनाव से जुड़ा हुआ मामला नहीं है।

उन्होंने कहा कि धर्माचार्यों को अपने मंच से अपनी बात रखने का अधिकार है। अगर आप एक धर्माचार्य का सवाल उठाते हैं तो यह गलत है आपको अन्य धर्माचार्यों की बात भी करनी चाहिए जो अनर्गल बयानबाजी करते हैं। उन्होंने आगे कहा कि धर्म संसद का मुद्दा चुनाव से जुड़ा मुद्दा नहीं है ऐसे में धर्माचार्य अपने मंच का उपयोग किस संदर्भ में करते हैं यह उनका विषय है ना की राजनीति का।

पढ़ें :- गुरुवार को अमेठी और प्रयागराज में रैली करेंगे प्रधानमंत्री मोदी

साक्षात्कार की फुटेज और वीडियो को भी कराया डिलीट

आरोप है कि डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने इंटरव्यू बीच में छोड़ने के बाद अपने सुरक्षाकर्मी को बुलाकर साक्षात्कार की फुटेज भी डिलीट करा दी थी। हालांकि बाद में जैसे तैसे कर के उस साक्षात्कार की वीडियो को रिकवर किया गया। आपको बता दें कि जिस धर्म संसद के सवाल पर केशव प्रसाद मौर्य भड़क गए थे उसमें हरिद्वार में मुस्लिम समुदाय को लेकर भड़काऊ बयानबाजी की गई थी साथ ही दूसरे यानी रायपुर में आयोजित धर्म संसद में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को लेकर आपत्तिजनक बातें कही गईं थी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...