Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. हरदोई पुलिस का मानवीय चेहरा आया सामने , आग में फंसी विकलांग दादी व पोती को बचाया

हरदोई पुलिस का मानवीय चेहरा आया सामने , आग में फंसी विकलांग दादी व पोती को बचाया

यूपी के हरदोई जिले के टड़ियावां कोतवाली के गोपामऊ चौकी पर तैनात कांस्टेबल शुभम यादव व राजेश चौधरी ने अपनी जान जोखिम में डालकर दादी और पोती को मौत के मुंह से निकाल लिया। कचनारी गांव में अज्ञात कारणों से घर में आग लग गई थी। जिससे पांच परिवार की गृहस्थी जलकर राख हो गई।

By HO BUREAU 

Updated Date

हरदोई। यूपी के हरदोई जिले के टड़ियावां कोतवाली के गोपामऊ चौकी पर तैनात कांस्टेबल शुभम यादव व राजेश चौधरी ने अपनी जान जोखिम में डालकर दादी और पोती को मौत के मुंह से निकाल लिया। कचनारी गांव में अज्ञात कारणों से घर में आग लग गई थी। जिससे पांच परिवार की गृहस्थी जलकर राख हो गई।

पढ़ें :- लुटेरी दुल्हन गैंग का खुलासा, तीन महिलाओं सहित चार युवकों को किया गिरफ्तार

इस दौरान गश्त कर रहे पुलिस के जवान मौके पर पहुंचे और आग की लपटों में घिरी झोपड़ी के अंदर विकलांग दादी व सो रही दो वर्षीय पोती को जान पर खेलकर बाहर निकाला और ग्रामीणों की मदद से लगभग आधे घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। बताते चलें कि गोपामऊ चौकी के अंतर्गत कचनारी गांव में खातून (65) पत्नी मुस्तफा व उसकी पोती फैयाज (2) दोपहर को झोपड़ी में सो रहे थे।

इस दौरान झोपड़ी में आग लग गई। घटना के समय कांस्टेबल शुभम यादव व राजेश चौधरी कचनारी गांव में गश्त करने के लिए निकले थे। दोनों कांस्टेबल जैसे ही गांव में पहुंचे तो देखा कि एक घर में आग लगी है। दादी और पोती फंसी थी। दोनों कांस्टेबल अपनी जान की परवाह न करते हुए झोपड़ी में घुस गए और दादी-पोती को सुरक्षित आग से बचा लिया।

आग में 50 हजार नकद, ज्वेलरी, गेहूं, सरसों, कपड़े, बिस्तर गृहस्थी का सारा सामान जल गया। परिवारवालों के मुताबिक तीन लाख रुपए का नुकसान हुआ है। घटना के समय परिजन सीतापुर दवाई लेने गए थे। जबकि कुछ परिजन खेतों में काम कर रहे थे। पुलिस के इस सराहनीय कार्य की हर ओर प्रशंसा की जा रही है।

पढ़ें :- मेरठ शहर के विधायकजी लापता, ढूंढ रही पुलिस, टीम गठित
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com