Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. JLF का आज से आगाजः राजीव शुक्ला, गुलजार समेत 350 हस्तियां होंगी शरीक

JLF का आज से आगाजः राजीव शुक्ला, गुलजार समेत 350 हस्तियां होंगी शरीक

Rajasthan Hindi News: राजधानी में गुरूवार को 16वें जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल की शुरूआत हो गई.पांच दिन तक चलने वाले साहित्य के इस महाकुंभ में साहित्य, संगीत, कला से जुड़ी 350 हस्तियां इसमें भाग लेगी.

By Ruchi Kumari 

Updated Date

जयपुर : राजधानी में गुरूवार को 16वें जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल की शुरूआत हो गई. पांच दिन तक चलने वाले साहित्य के इस महाकुंभ में साहित्य, संगीत, कला से जुड़ी 350 हस्तियां इसमें भाग लेगी. बता दें कि जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल का आयोजन होटल क्लाकस आमेर जयपुर में किया जा रहा है. ऐसे में होटल को राजस्थानी कलाकृतियों से सजाया गया है.

पढ़ें :- अमेरिका के कई राज्यों में बर्फीले तूफान से तबाही, 1700 से ज्यादा फ्लाइट्स कैंसिल

ग्रीन कांसेप्ट पर हो फेस्टिवल का आयोजन

फेस्टिवल के प्रोडयूसर के बताया कि इस साहित्य समागम में शामिल होने के लिए किसी कार्ड की जरूरत नहीं होगी. फेस्टिवल में शामिल होने के लिए बारकोड दिखाना होगा. आपको बता दें कि इस फेस्टिवल में राजस्थानी लजीज व्यंजनों की व्यवस्था की गई है.

सांसद राजीव शुक्ला करेंगे ‘द हीलिंग बुक’ पर चर्चा

20 जनवरी को राज्यसभा सांसद राजीव शुक्ला स्कार्स ऑफ 1947: ‘द हीलिंग बुक’ पर मुगल टेंट में चर्चा करेंगे. नवदीप सूरी और किश्वर देसाई, आंचल मल्होत्रा ​​से बातचीत में राजीव शुक्ला विभाजन के बाद प्रेरणादायक कहानियों पर चर्चा करेंगे. उनकी ये किताब काफी चर्चित रही है.

पढ़ें :- नोएडा में फिजिक्स टीचर ने 7वें फ्लोर से छलांग लगाकर की खुदकुशी, सोसाइटी में अकेले रहती थी महिला

350 स्पीकर हिस्सा लेंगे

इस बार फेस्टिवल में 350 स्पीकर हिस्सा लेंगे. इस फेस्टिवल में बुकर पुरस्कार विजेता गीतांजलि, बुकर विजेता बर्नार्डिन एवरिस्टो के साथ गुलजार, पंडित हरिप्रसाद चौरसिया, शोभा डे, शबाना आजमी, जावेद अख्तर, शशि थरूर, आंचल मल्होत्रा, अमीष त्रिपाठी, सुधा मूर्ति, अश्विन सांघी, फिल्म निर्माता ओनिर, नोबेल पुरस्कार विजेता अब्दुलराजक गुरनाह और भारतीय खुफिया ब्यूरो के पूर्व विशेष निदेशक अमरजीत सिंह दुलत जैसे जाने-माने चेहरे शामिल होंगे.

फेस्टिवल के 16वें संस्करण में समाज और समय की ज़रूरतों को ध्यान रखते हुए कई महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा होगी जिसमें जलवायु परिवर्तन, महिलाओं की आवाज़ और पहचान, अपराध कथा, संस्मरण, अनुवाद, काव्य, अर्थव्यवस्था, टेक मोरालिटी और आर्टिफिशल इंटेलीजेंस, कृषि में वैश्विक संकट, रूस-यूक्रेन विवाद, ब्रिटिश साम्राज्य की हिंसा, आधुनिक समय का विज्ञान, भारत के 75 वर्ष, विभाजन की याद, जिओपॉलिटिक्स, कला और फोटोग्राफी, स्वास्थ्य और मेडिसीन आदि शामिल होंगे। इस वर्ष साहित्य उत्सव में पूरी साज-सज्जा और थीम भारतीय सांस्कृतिक विरासत और उसकी जीवंत प्रकृति का मिश्रण किया गया है.

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com