Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. मौर्य के बयान पर मायावती का तीखा हमला, बताया राजनीति से प्रेरित, कहा-बौद्ध और मुस्लिम समाज सपा के बहकावे में आने वाले नहीं

मौर्य के बयान पर मायावती का तीखा हमला, बताया राजनीति से प्रेरित, कहा-बौद्ध और मुस्लिम समाज सपा के बहकावे में आने वाले नहीं

यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री व बसपा मुखिया मायावती ने समाजवादी पार्टी के महासचिव स्वामी प्रसाद मौर्य के हालिया बयान पर तीखा हमला बोला है। साथ ही सपा पर भी निशाना साधा है। बसपा सुप्रीमो ने स्वामी प्रसाद मौर्य के बयान को राजनीति से प्रेरित बताया है।

By Rajni 

Updated Date

लखनऊ। यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री व बसपा मुखिया मायावती ने समाजवादी पार्टी के महासचिव स्वामी प्रसाद मौर्य के हालिया बयान पर तीखा हमला बोला है। साथ ही सपा पर भी निशाना साधा है। बसपा सुप्रीमो ने स्वामी प्रसाद मौर्य के बयान को राजनीति से प्रेरित बताया है।

पढ़ें :- फतेहपुर में सपा प्रत्याशी नरेश उत्तम पटेल 4976 वोट से आगे

मालूम हो कि स्वामी प्रसाद मौर्य ने हाल ही में यह कहा है कि बद्रीनाथ सहित अनेक मंदिर बौद्ध मठों को तोड़कर बनाए गए हैं तथा आधुनिक सर्वे अकेले ज्ञानवापी मस्जिद का ही क्यों, अन्य प्रमुख मंदिरों का भी होना चाहिए। मायावती ने मौर्य के इसी बयान पर ट्वीटकर कहा कि यह नए विवादों को जन्म देने वाला मौर्य का विशुद्ध राजनीतिक बयान है।

पढ़ें :- जौनपुर लोकसभा सीटः सपा 1767 वोट से आगे

मायावती ने कहा कि जब श्री मौर्य लंबे समय तक बीजेपी सरकार में मंत्री थे, तब उन्होंने इस बारे में पार्टी व सरकार पर ऐसा दबाव क्यों नहीं बनाया ? अब चुनाव के समय ऐसा धार्मिक विवाद पैदा करना उनकी व सपा की घिनौनी राजनीति का हिस्सा है। बौद्ध व मुस्लिम समाज इनके बहकावे में आने वाले नहीं हैं।

सपा नेता स्वामी प्रसाद  ने ज्ञानवापी मस्जिद के ASI सर्वे पर उठाया था सवाल

बता दें कि सपा नेता स्वामी प्रसाद मौर्य ने ज्ञानवापी मस्जिद के ASI सर्वे पर सवाल उठाते हुए कहा था कि अगर सर्वे हो रहा है तो सभी हिंदू मंदिरों का होना चाहिए। क्योंकि कई हिंदू मंदिर बौद्ध मठों को तोड़कर बने हैं। इसके साथ ही उन्होंने दावा किया था कि 8वीं शताब्दी तक बदरीनाथ धाम भी बौध मठ था। आदि शंकराचार्य ने उसे हिंदू मंदिर बनाया। ऐसे में अगर किसी एक की बात चलेगी तो फिर सभी की बात चलेगी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com