Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. घर पर इन 5 पौधों के होने से बढ़ जाता है ऑक्‍सीजन लेवल, मिलती है शुद्ध हवा

घर पर इन 5 पौधों के होने से बढ़ जाता है ऑक्‍सीजन लेवल, मिलती है शुद्ध हवा

दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण के बढ़ते स्तर के चलते हवा जहरीली हो गई है. ऐसे में शुद्ध हवा पाने के लिए आप घर के अंदर कुछ ऐसे पौधे लगा सकते हैं जिनसे आपको भरपूर ऑक्सीजन मिलेगा.

By इंडिया वॉइस 

Updated Date

दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण का स्तर बढ़ने से हवा दिन ब दिन खराब हो रही है. सांस संबंधी बीमारियों से पीड़ित लोगों को ऑक्सीजन की कमी से जूझना पड़ रहा है. ऐसे में प्रदूषण के खिलाफ लड़ाई की शुरुआत हमें घर करनी होगी. क्योंकि बाहर जहरीली हो चुकी हवा को हम नियंत्रित नहीं कर सकते हैं लेकिन घर के अंदर भरपूर ऑक्सीजन देने वाले कुछ इंडोर प्लांट्स जरूर लगा सकते हैं. इससे घर में आने वाले प्रदूषण और जहरीले पदार्थों से बचाव में मदद मिलेगा.

पढ़ें :- NDA सरकार में मिली जिम्मेदारीः गडकरी को सड़क व परिवहन और अमित शाह को गृह मंत्रालय, अन्य मंत्रियों को मिले ये विभाग 

ऑक्सीजन का प्राकृतिक सोर्स हैं पेड़-पौधे

दिल्ली-एनसीआर में रह रहे लोगों के पास पेड़-पौधे लगाने के लिए जगह की कमी रहती है. ऐसे में बाहर की जहरीली हवा से बचने के लिए हम घर के अंदर ही ऑक्सीजन देने वाले कुछ ऐसे पौधे लगा सकते हैं जिनसे हमें शुद्ध हवा मिले। बैंबू प्लांट, एलोवेरा, पोथोस प्लांट, स्पाइडर प्लांट, एरिका पाम और स्नेक प्लांट ऐसे पौधे ऑक्सीजन का बेहतर प्राकृतिक विकल्प हैं. आइए जानते हैं ऑक्सीजन देने वाले पांच उन पौधों के बारे में जिनको घर के अंदर गमले में लगाया जा सकता है.

तुलसी- यह पौधा प्राय: हर भारतीय के घर में लगाया जाता है. तुलसी के पौधे को घर में लगाना ऑक्सीजन की कमी को पूरा करने का बेहतर विकल्प है. घर के अंदर तुलसी का पौधा लगा होने से ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ जाती है. ये पौधा हवा से कार्बन ऑक्साइड, सल्फर डाइऑक्साइड और कार्बन मोनोऑक्साइड जैसी हानिकारक गैसों को भी अवशोषित करने का काम करता है.
एलोवेरा- एलोवेरा से मिलने वाले फायदों के बारे में लगभग सभी को मालूम होगा. लेकिन बहुत कम लोग ही यह जानते होंगे कि एलोवेरा के पौधा हवा को शुद्ध करने का काम भी करता है. इसे घर में किसी भी गमले में लगाया जा सकता है. एलोवेरा की पत्तियों में वातावरण में मौजूद बेंजीन और फॉर्मलडिहाइड को अब्जॉर्ब करने की क्षमता होती है. इस पौधे के पनपने के लिए पर्याप्त धूप मिलना जरूरी होता है.

स्नेक – स्नेक प्लांट आसपास की हवा को फ्रेश रखने का काम करता है. स्नेक प्लांट भी एलोवेरा की तरह ही रात में ऑक्सीजन छोड़ता है. यह पौधा हवा में मौजूद कॉर्बन डाईऑक्साईड को खींच लेता है. इसे घर में बड़ी आसानी से किसी गमले में लगाया जा सकता हैं.

पढ़ें :- CWC की बैठक में राहुल गांधी को लोकसभा में नेता विपक्ष बनाने का प्रस्ताव हुआ पारित  

एरिका पाम- यह पौधा आसपास की हवा में मौजूद खतरनाक गैसों को अब्जॉर्व करता है. एरिका पाम कम रोशनी और कम पानी में भी रह सकता है. एरिका पाम ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए बेहतर प्लांट्स है. इसे आराम से किसी गमले में लगाया जा सकता है.
स्पाइडर- स्पाइडर को बेस्ट प्यूरीफाइंग प्लांट कहा जाता है. इसे पौधे को आराम से घर की बालकनी या शेड में रखा जा सकता है.यह वातावरण में मौजूद कार्बन मोनोऑक्साइड, बेन्जीन और फारमलडिहाइड को दूर कर हवा को शुद्ध करता है. इसके साथ आंखों को सुकून देता है और घर की शोभा बढ़ाता है.

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com