1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. दिल्ली-एनसीआर की हवा हुई और भी खराब, इन राज्यों में 29 अक्टूबर से होगी बारिश, IMD ने जारी किया अलर्ट

दिल्ली-एनसीआर की हवा हुई और भी खराब, इन राज्यों में 29 अक्टूबर से होगी बारिश, IMD ने जारी किया अलर्ट

दिल्ली एनसीआर में हवा की गुणवत्ता खराब रही और वायु प्रदूषण चरम पर रहा। मौसम विभाग के मुताबिक, तमिलनाडु, पुडुचेरी, कराईकल में 29 अक्टूबर से 1 नवंबर तक हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है. वहीं केरल औऱ माहे में 30 और 31 अक्टूबर को भारी बारिश की संभावना है.

By रुचि उपाध्याय 
Updated Date

नई दिल्ली: दिवाली के बाद से जैसे दिल्ली का प्रदूषण कम होने का नाम ही नही ले रहा है। राजधानी दिल्ली समेत एनसीआर के इलाकों में लगातार चौथे दिन वायु गुणवत्ता खराब श्रेणी में दर्ज की गई. वहीं, यूपी-बिहार में लोगों को सर्दी का पूरी तरह से एहसास होने लगा है. इन इलाकों में मौसम विभाग ने बारिश की चेतावनी जारी नहीं की है. हालांकि, पश्चिम बंगाल और असम में चक्रवात सितरंग की वजह से हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है. देश के ज्यादातर इलाकों में मौसम शुष्क बना रहेगा, मगर दक्षिण भारत के कई राज्यों में बारिश का दौर जारी रहेगा. इस वीकेंड पर तमिलनाडु से लेकर केरल तक में हल्की से भारी बारिश की संभावना व्यक्त की गई है. वहीं, हिमाचल प्रदेश और जम्मू-कश्मीर जैसे पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी होगी।

पढ़ें :- उत्तर भारत के कई राज्यों में कड़ाके की ठंड, दिल्ली-एनसीआर में कोहरा, दक्षिण भारत में बारिश, जानें मौसम का हाल

मौसम विभाग ने 29 अक्टूबर से बारिश की चेतावनी जारी की
इंडियन मेट्रोलॉजिकल डिपार्टमेंट के अनुसार, तमिलनाडु, पुडुचेरी, कराईकल में 29 अक्टूबर से 1 नवंबर तक ल्की से मध्यम बारिश की संभावना है. वहीं केरल औऱ माहे में 30 और 31 अक्टूबर को भारी बारिश की संभावना है. साथ ही आंध्र प्रदेश और यनम में भी 31 अक्टूबर को बारिश होगी. पश्चिम बंगाल और सिक्किम में भी वीकेंड पर बादल बरसने के आसार हैं. हिमालयी क्षेत्र में अगले सात दिनों तक बारिश और बर्फबारी की संभावना है. बाद बाकी देश के अन्य हिस्सों में अगले पांच दिनों तक मौसम शुष्क बना रहेगा. साथ ही उत्तर भारत में तापमान में गिरावट दर्ज की जाएगी.

आपको बता दें कि, अगले 24 घंटों के दौरान तमिलनाडु और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के तटीय क्षेत्रों में पर हल्की बारिश के साथ एक या दो स्थानों पर मध्यम बारिश संभव है. वहीं, असम और अरुणाचल प्रदेश में छिटपुट हल्की बारिश हो सकती है. दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक और बहुत खराब श्रेणी में रहेगा. 31 अक्टूबर की रात तक पश्चिमी हिमालय के पास एक नया पश्चिमी विक्षोभ आने की संभावना है. वहीं, अंडमान और निकोबार में पांच दिनों तक बारिश होगी.

दिल्ली में वायु गुणवत्ता अब भी खराब श्रेणी में
इधर, दिल्ली-एनसीआर प्रदूषण कम होने का नाम नहीं ले रहा है. जैसे-जैसे सर्दी बढ़ती जा रही है, दिल्ली में धुंध की चादर में लिपटती जा रही है. अब भी दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक बहुत खराब श्रेणी में है. माना जा रहा है कि दिवाली के पटाखों और पराली जलाने की वजह से एक बार फिर दिल्ली का वातावरण दूषित हुआ है. राष्ट्रीय राजधानी की वायु गुणवत्ता बृहस्पतिवार को लगातार चौथे दिन ‘‘बहुत खराब’’ श्रेणी में दर्ज की गई. सीपीसीबी के आंकड़ों के मुताबिक, गुरुवार शाम साढ़े छह बजे वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) आनंद विहार में (428) और अशोक विहार में (405) यानी ‘गंभीर’ श्रेणी में दर्ज किया गया. दिल्ली के वजीरपुर, बवाना, जहांगीरपुरी, मुंडका में एक्यूआई ‘बहुत खराब’ श्रेणी में दर्ज किया गया.

पढ़ें :- Weather update: दिल्ली में ठंड बढ़ी, पहाड़ों पर बर्फबारी से यूपी-बिहार समेत उत्तर भारत में गिरा पारा; जाने मौसम का हाल
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...