1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. कल से इलाहाबाद हाईकोर्ट में नहीं दिखाई देंगे जज साहब, जानें क्या है वजह

कल से इलाहाबाद हाईकोर्ट में नहीं दिखाई देंगे जज साहब, जानें क्या है वजह

अगर आपको भी इलाहाबाद हाईकोर्ट में कुछ काम है तो इस खबर को जरूर पढ़ें। दरअसल न्यायलय की प्रशासनिक कमेटी ने बार एसोसिएशन के साथ बैठक कर ये फैसला लिया है कि कल से कोर्ट में जज साहब....

By Vikas Arya 
Updated Date

प्रयागराज, 09 जनवरी। कल यानी सोमवार से इलाहाबाद हाईकोर्ट में जज साहब दिखाई नहीं देंगे। ये फैसला न्यायलय की प्रशासनिक कमेटी ने लिया है और ये प्रक्रिया दो सप्ताह तक प्रभावी रहेगी। अगर आपको भी कोर्ट में कुछ काम है तो जरा सोच समझ कर जाईयेगा।

पढ़ें :- Lakhimpur Violence : आशीष मिश्रा की जमानत पर फैसला 11 जनवरी को सुनाया जाएगा

जानकारी के अनुसार हाईकोर्ट की प्रशासनिक कमेटी ने बार एसोसिएशन के पदाधिकारियों के साथ बैठक कर रविवार को ये फैसला लिया है कि कोरोना के चलते 10 जनवरी से कोर्ट में केवल वर्चुअल सुनवाई की जाएगी। फिलहाल फिजीकल सुनवाई को कोर्ट प्रशासन ने दो सप्ताह के लिए बंद कर दिया है।

दिक्कत होने पर अगले दिन दोबारा सुनवाई की जाएगी

यह निर्णय हाईकोर्ट बार एसोसिएशन के पदाधिकारियों की सहमति से लिया गया है। निर्णय लिया गया है कि केस की सुनवाई के दौरान लिंक न मिल पाने या किसी वजह से केस की सुनवाई न हो सकने पर उस केस को एक दिन बाद फिर सुनवाई के लिए रखा जाएगा। कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए प्रशासनिक कमेटी ने बार एसोसिएशन के पदाधिकारियों के साथ ऑनलाइन बैठक कर यह निर्णय लिया है।

पहले भी लिया गया था ये फैसला

पढ़ें :- DGP से इलाहाबाद हाईकोर्ट का सवाल: 5 हजार करोड़ के फ्रॉड की जांच क्यों न ED या आर्थिक अपराध शाखा को सौंपी जाए?

इससे पहले भी 3 जनवरी से वर्चुअल सुनवाई का फैसला लिया गया था, किन्तु लिंक न मिलने पर वकीलों के विरोध के कारण फैसला वापस ले लिया गया था।

अब कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए फिर से वर्चुअल सुनवाई का फैसला लिया गया है। मुकदमों का दाखिला ऑनलाइन व कागजी दोनों तरीकों से किया जायेगा।

महासचिव एस डी सिंह जादौन ने बताया कि मुख्य न्यायाधीश राजेश बिंदल ने बार एसोसिएशन को आश्वासन दिया है कि लिंक न मिलने की दशा में प्रतिकूल आदेश नहीं होगा। जमानत अर्जी की सुनवाई न हो पाने पर एक दिन बाद दोबारा केस सूचीबद्ध होगा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...