1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. दिवाली पर आतंकियों की साजिश नाकाम, श्रीनगर के परिमपोरा इलाके में 5 KG IED बरामद, सेना ने नष्ट

दिवाली पर आतंकियों की साजिश नाकाम, श्रीनगर के परिमपोरा इलाके में 5 KG IED बरामद, सेना ने नष्ट

जम्मू और कश्मीर: दिवाली पर आतंकियों की साजिश नाकाम, सैन्य बलों ने बरामद IED को किया नष्ट। उपकरण एक संदिग्ध बैग में पाए गए, जिसकी तलाशी लेने पर कानून प्रवर्तन अधिकारियों ने यूरिया और गैस सिलेंडर के साथ पाया। हालांकि, सुरक्षा कारणों से उन्हें नष्ट कर दिया गया था।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

Jammu Kashmir news : दिवाली पर आतंकियों की साजिश नाकाम, सैन्य बलों ने बरामद IED को किया नष्ट। श्रीनगर के परिमपोरा इलाके में आज सेना, श्रीनगर पुलिस और सीआरपीएफ सहित सुरक्षा बलों की एक संयुक्त टीम द्वारा आईईडी विस्फोटक उपकरणों का पता लगाया और नष्ट किया गया है। जानकारी के अनुसार परिमपोरा इलाके में सोमवार सुबह एक संदिग्ध बैग मिलने से हड़कंप मच गया। इस बैग में आईईडी विस्फोटक होने की आशंका जताई गई थी पुलिस, सीआरपीएफ और आर्मी के दस्ते से इस बैग की तलाशी ली तो इसमें यूरिया और गैस सिलेंडर मिले। हालांकि सुरक्षा के लिहाज से इन्हें नष्ट कर दिया गया है।

पढ़ें :- Jammu kashmir: कश्मीर के 3 जिले बांदीपोरा, कुपवाड़ा और गांदरबल अब आतंकवाद से मुक्त, ADGP ने कहा घाटी में जैश और लश्कर अपने अंत की ओर

बढ़ाई गई तैनाती
घटना के तुरंत बाद इलाके में सुरक्षा कड़ी कर दी गई थी। इससे पहले 19 अक्टूबर को बांदीपोरा क्षेत्र के कुपवाड़ा जिले से विस्फोटक बरामद किया गया था. सुरक्षा बलों ने बांदीपोरा रोड के अहस्टिंगो इलाके में 18 किलो आईईडी बरामद किया था. आईईडी को नष्ट करने के लिए बम निरोधक दस्ते को बुलाया गया था। एक मेजर को भी इलाके से हटा दिया गया। आतंकियों ने यह आईईडी विस्फोटक इलाके में लगाया था ताकि इलाके से गुजरने वाले जवानों को निशाना बनाया जा सके. हालांकि सुरक्षाबलों की मुस्तैदी से आतंकियों की मंशा पर पानी फिर गया और आईईडी का पता चला।

आतंकियों ने पहले भी की है ऐसी करतूत
आपको बता दे कि, पहले भी कई बार ऐसा हो चुका है जब आतंकियों ने आईईडी प्लांट किया। लेकिन तैनात सुरक्षाबलों ने इससे पहले की कोई अनहोनी हो जाए उससे पहले ही उसे नष्ट कर दिया। बीते दिनों ही जम्मू-कश्मीर के रामबन जिले में सुरक्षा बलों ने जंगल में एक बैग में दबाकर रखे गये तीन आईईडी विस्फोटक बरामद किए थे। इस तरह सुरक्षाबलों ने आंतकियों के संभावित विस्फोट के इरादों को नेस्तनाबूद कर दिया था। अधिकारियों के अनुसार, बैग में विस्फोटकों के अलावा तीन पुलों की तस्वीरें भी मिली थीं। जिससे ऐसा लगता है कि ये पुल बैग छोड़कर गये आतंकवादियों के निशाने पर थे।

कठुआ में भी तीन.तीन आईईडीए स्टिकी बम जब्त
इससे पहले 8 अक्टूबर को जम्मू कश्मीर के कठुआ में तीन आईईडी और स्टिकी बम बरामद किए गए थे। जम्मू क्षेत्र के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक ‘एडीजीपी‘ मुकेश सिंह ने बताया था कि जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकवादी को दो अक्टूबर को कठुआ से गिरफ्तार किया गया था। उसी के खुलासे के बाद यह बरामदगी की गई थी।

पढ़ें :- जम्मू के किश्तवाड़ में हुआ बड़ा हादसा, टैक्सी सड़क से फिसल कर गहरी खाई में गिरी, आठ की मौत
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...