Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. Punjab : पंजाब पुलिस ने 12 साल से फरार बब्बर खालसा के आतंकी पटियालवी को डेराबस्सी से दबोचा

Punjab : पंजाब पुलिस ने 12 साल से फरार बब्बर खालसा के आतंकी पटियालवी को डेराबस्सी से दबोचा

पश्चिम बंगाल के गुरुद्वारे में ग्रंथी बनकर रह रहा था मोस्ट वांटेड आतंकी चरनजीत सिंह उर्फ पटियालवी।

By इंडिया वॉइस 

Updated Date

चंडीगढ़, 24 अप्रैल। रविवार को पंजाब पुलिस की एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स ने रविवार को मोस्ट वांटेड आतंकवादी और बब्बर खालसा इंटरनेशनल माड्यूल के सक्रिय सदस्य चरनजीत सिंह उर्फ पटियालवी को गिरफ्तार किया। वो पिछले 12 साल से अलग-अलग पहचान और ठिकाने बदलकर गिरफ्तारी से बच रहा था।

पढ़ें :- Punjab News: एक युवक ने गुस्से में आकर अपने ही परिवार के 3 लोगों पर चढ़ा दी रेंज रोवर कार, हादसे में एक की मौत

चरनजीत 2010 में भगोड़ा करार हुआ था

AGTF के DIG गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने रविवार को बताया कि पटियाला के गांव बूटा सिंह वाला निवासी चरनजीत पटियालवी को थाना माछीवाड़ा में दर्ज एक मामले में 2010 में भगोड़ा करार दिया गया था। पटियालवी के एक अन्य साथी मृतक आतंकवादी गुरमेल सिंह बोबा को इस मामले में गिरफ्तार किया गया था और उसके पास से डेटोनेटर और RDX की बरामदगी हुई थी।

आतंकी पहचान और जगह बदल-बदल कर रहता

DIG भुल्लर ने बताया कि एआईजी AGTF गुरमीत सिंह चौहान और DSP एजीटीऐफ बिक्रमजीत सिंह बराड़ के नेतृत्व में टीमों ने पटियालवी को डेरा बस्सी के गांव लैहली के गुरुद्वारे के पास से गिरफ्तार किया है। भुल्लर ने कहा कि पटियालवी ग्रंथी का रूप धारण करके इस समय पश्चिमी बंगाल के खडग़पुर स्थित गुरुद्वारा में रह रहा था। वो पुलिस से बचने के लिए किसी भी संचार साधन का प्रयोग नहीं कर रहा था। उसके कब्जे में से पश्चिमी बंगाल के पते वाले अलग-अलग पहचान पत्र बरामद किये गए हैं। DIG भुल्लर ने बताया कि जांच प्रक्रिया जारी है, इसके साथ बाकी गिरफ्तारियां और अहम खुलासे होने की आशंका है।

पढ़ें :- Mohali: पंजाब में बब्‍बर खालसा के 2 संदिग्‍ध हुए गिरफ्तार, पास से पिस्टल हुई बरामद, हो रही है पूछताछ

हरियाणा-पंजाब के कई बम धमाकों में शामिल रहा है पटियालवी

DIG भुल्लर ने बताया कि चरनजीत उर्फ पटियालवी बीकेआई आतंकवादी माड्यूल का सक्रिय सदस्य था। वो माड्यूल 2007 में लुधियाना के शिंगार सिनेमा बम धमाकों और 2010 में काली माता मंदिर, पटियाला और अंबाला में हुए बम धमाकों की साजिश में शामिल था। पंजाब पुलिस ने इस आतंकी माड्यूल का 2010 में पर्दाफाश करके पटियालवी के बाकी सभी साथियों को गिरफ्तार कर लिया था, तभी से वो फरार था।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com