1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. झारखंड : हजारीबाग में पथराव व हिंसक झड़प में छह घायल

झारखंड : हजारीबाग में पथराव व हिंसक झड़प में छह घायल

दोनों तरफ से जमकर पत्थरबाजी हुई। जिसमें दोनों समुदाय के आधा दर्जन युवकों को गंभीर चोट लगी है।

By Akash Singh 
Updated Date

हजारीबाग : इचाक थाना क्षेत्र में दो समुदायों के बीच हिंसक झड़प में छह लोग घायल हो गये। उपद्रवियों ने एक दुकान को आग के हवाले कर दिया। इलाके में तनाव को देखते हुए एसपी समेत विभिन्न थानों की पुलिस घटनास्थल पर कैंप कर रही है। पूरे इलाके को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है।

पढ़ें :- हेमंत सरकार पर हमलावर हुए भाजपा सांसद निशिकांत दुबे, सरकार को घेरने की तैयारी में विपक्ष

बताया जाता है कि जिले के इचाक बाजार दर्जी मोहल्ला में दो समुदायों के बीच पहले जमकर पथराव हुआ। देखते ही देखते विवाद इस कदर बढ़ गया कि पूरा इलाका अशांत हो गया। उपद्रवियों ने लोगों की होली खराब कर दी। इस दौरान दोनों तरफ से जमकर पत्थरबाजी हुई। जिसमें दोनों समुदाय के आधा दर्जन युवकों को गंभीर चोट लगी है।

दुकान में उपद्रवियों ने लगाई आग

उपद्रवियों ने एक फल की दुकान को आग के हवाले कर दिया। गरीब दुकानदार के देखते ही देखते पूरी दुकान जलकर राख हो गयी। कहा जा रहा है कि माहौल खराब करने के लिए उपद्रवियों ने जानबूझकर दुकान में आग लगाई।

मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि यह घटना शनिवार देर रात की है। तीन युवक होली खेलते हुए एक बाइक पर सवार होकर कुरहा गांव से दर्जी मोहल्ले होकर गुजर रहे थे। इसी दौरान वहां मौजूद कुछ अन्य युवकों से उनकी बहस हो गई। जिससे विवाद बढ़ गया और दोनों समुदायों के लोग एकजुट होकर एक-दूसरे पर पथराव करने लगे।

पढ़ें :- झारखण्ड में पंचायत संचिव की नियुक्ति के लिए फिर से निकलेगा विज्ञापन, जानें क्या है मामला?

पूरे इलाके में पुलिस की तैनाती

घटना की सूचना मिलते ही इलाके में भारी संख्या में जवानों की तैनाती कर दी गई। खुद एसपी मनोज रतन चौथे भी घटनास्थल पर मौजूद रहे। उन्होंने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की। पूरे इलाके में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। एहतियात के तौर पर पुलिस ने धारा 144 भी लगा दिया है। एसडीएम विद्याभूषण कुमार भी घटनास्थल पर मौजूद रहे।

एसपी ने कहा है कि उपद्रवियों की शिनाख्त कर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। अशांति फैलाने वालों को किसी सूरत में नहीं बख्शा जाएगा। पुलिस यह भी पता लगा रही कि बाइक सवार युवकों ने ऐसा क्या किया, जिसके बाद विवाद शुरू हो गया।

एक महीने बाद इचाक में हिंसा की घटना

उल्लेखनीय है कि फरवरी में हजारीबाग जिले के बरही में सरस्वती पूजा विसर्जन के दौरान रूपेश पांडेय नामक एक युवक की हत्या कर दी गई थी। इसके बाद बरही समेत पूरे जिले में सांप्रदायिक तनाव की स्थिति बन गई थी।

पढ़ें :- झारखंड : बाल सुधार गृह में दो पक्ष में झड़प, दस बाल कैदी घायल

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...