1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. Jharkhand : झारखंड में गहराता जा रहा है बिजली-पानी का संकट, रांची के करीब 157 इलाकों में पानी की किल्लत

Jharkhand : झारखंड में गहराता जा रहा है बिजली-पानी का संकट, रांची के करीब 157 इलाकों में पानी की किल्लत

झारखंड में बिजली-पानी की समस्या लगातार गहराती जा रही है। गर्मी के कारण राजधानी रांची का भूमिगत जल स्तर नीचे जाता जा रहा है। जिसकी वजह से लोगों को पेयजल संकट का सामना करना पड़ रहा है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

रांची, 24 अप्रैल। झारखंड में बिजली-पानी की समस्या लगातार गहराती जा रही है। गर्मी के कारण राजधानी रांची का भूमिगत जल स्तर नीचे जाता जा रहा है। जिसकी वजह से लोगों को पेयजल संकट का सामना करना पड़ रहा है। जानकारी के मुताबिक पानी का स्तर नीचे जाने के कारण कई घरों की बोरिंग तक सूख गए हैं। तो वहीं0 चापानल और कुएं भी जवाब देने लगे हैं। झारखंड के लोग पानी की किल्लत से ही नहीं बल्कि भीषण गर्मी के मौसम में बिजली संकट से भी जूझ रहे हैं। सेंट्रल लोड डिस्पैच सेंटर (SLDC) के मुताबिक शनिवार को राज्य में बहुत कम बिजली मिली है। जिसके चलते 580 मेगावाट की रिकॉर्ड लोड शेडिंग की गई।

पढ़ें :- IAS Pooja Singhal Case : झारखंड और बिहार में 7 ठिकानों पर ED का छापा, पूजा के करीबी विशाल चौधरी के ठिकानों पर रेड, जानें और किस के ठिकानों पर हुई छापेमारी

पानी की आपूर्ति में जुटा नगर निगम

प्रदेश में हालात ये हैं कि मार्च के पहले हफ्ते में ही जहां नगर निगम शहर के सिर्फ 18 मोहल्लों में टैंकर से पानी की सप्लाई करता था, वहीं अब 175 मोहल्लों में टैंकर से पानी की आपूर्ति कर रहा है। यानी 157 मोहल्लों में जल संकट गहरा गया है। आने वाले दिनों में पानी का संकट और गहराने वाला है। जिसे देखते हुए नगर निगम टैंकर्स की संख्या बढ़ाने में जुट गया है। अगले महीने से नगर निगम 20 और नए टैंकर सड़क पर उतारेगा।

नगर निगम के पास 47 टैंकर मौजूद

रांची निगम के पास फिलहाल 47 टैंकर्स हैं। इन टैंकरों से ही निगम हर दिन मोहल्ले में पानी की आपूर्ति कर रहा है। मई-जून में पानी की किल्लत विकराल होने वाली है। जिसे देखते हुए निगम 20 नए टैंकर्स को भाड़े पर लेकर सड़क पर उतारने की तैयारी में है।

पढ़ें :- Jharkhand : अवैध खनन को लेकर एक्शन में सोरेन सरकार, 2 खदान सील, 2 को नोटिस, एक क्रशर प्लांट नष्ट

रांची में 2 से 3 घंटे बिजली की कटौती

वहीं बिजली की कम उपलब्धता के चलते रांची में शनिवार को लगभग 2 से 3 घंटे बिजली की कटौती की गई। बिजली की कमी के चलते राजधानी रांची के सब स्टेशनों को 20 घंटे की बिजली मिल रही है। लोड शेडिंग कर बारी-बारी से अलग-अलग इलाके में बिजली मुहैया कराई जा रही है। रांची में डिमांड से 130 मेगावाट कम बिजली की सप्लाई हुई।

आधुनिक पावर प्लांट से उत्पादन ठप होने पर लोड शेडिंग

बतादें कि आधुनिक पावर प्लांट से बिजली उत्पादन ठप होने की वजह से राजधानी रांची समेत पूरे राज्य में लोड शेडिंग हो रही है। आधुनिक पावर से 188 मेगावाट बिजली झारखंड को मिलती है। JVBNL की ओर से बताया गया कि रविवार की शाम में आधुनिक से उत्पादन संभव है। तब कुछ हद तक बिजली आपूर्ति सामान्य होने की संभावना है।

पढ़ें :- Jharkhand : अवैध कार्यों पर अधिकारी लगाएं लगाम, नहीं तो होगी कठोर कार्रवाई- डीजीपी
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...