1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. Hafizul Hassan Jharkhand : मंत्री हफीजुल हसन के विवादित बयान का भाजपा ने किया विरोध, सरकार से की बर्खास्तगी की मांग

Hafizul Hassan Jharkhand : मंत्री हफीजुल हसन के विवादित बयान का भाजपा ने किया विरोध, सरकार से की बर्खास्तगी की मांग

Hafizul Hassan Controversy : मंत्री हफीजुल हसन के विवादित बयान पर भाजपा प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने सरकार से की उनकी बर्खास्तगी की मांग।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

झारखंड, 28 अप्रैल 2022। कुछ दिनों से झारखंड की राजनीति का पारा गर्म है। झारखंड में राजनीतिक अस्थिरता साफ दिखाई देने लगी है। प्रदेश के मंत्री विवादित बयानों को लेकर विपक्ष के घेरे में आने लगे हैं। कल झारखंड के मंत्री हफीजुल हसन ने हिंदू-मुस्लिम की संख्या पर एक विवादित बयान देकर प्रदेश के माहौल को बिगाड़ दिया। मंत्री के बयान के बयान के बाद भाजपा की ओर से कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए झारखंड सरकार से उनकी बर्खास्तगी की मांग की जाने लगी है।

पढ़ें :- Dumka Crime News: दुमका मे फिर से प्रेमी ने प्रेमिका को किया आग के हवाले

आपको बता दें कि एक कार्यक्रम में पहुंचे मंत्री हफीजुल हसन ने पत्रकारों के समक्ष कहा था कि केंद्र सरकार एक विशेष समुदाय के लिए गलत कर रही है। यदि हमारे घर डिस्टर्ब होते हैं तो ऐसे में आपके घर भी डिस्टर्ब होंगे। उन्होंने कहा कि यदि हमारे 20 प्रतिशत घर बंद होंगे तो आपके भी 70 से 80 फीसदी घर बंद होंगे। मंत्री हफीजुल हसन के इस बयान को लेकर भाजपा ने अपनी कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर की। भाजपा प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने इस बयान पर ट्वीट करते हुए झारखंड सरकार से उनकी बर्खास्तगी की मांग कर दी है। उन्होंने कहा कि झारखंड सरकार के मंत्री हफीजुल हसन सांप्रदायिक स्तर पर प्रदेश में नफरत फैलने का  कार्य कर रहे हैं। ऐसे मंत्रियों को सरकार से हटाया जाना चाहिए।

पढ़ें :- झारखंड में एक बार फिर हुई दुमका जैसी घटना, मनचलों ने फेका तेज़ाब, दिल्ली किया एयरलिफ्ट

रघुवर दास ने भी इस विवादित मामले पर दी अपनी प्रतिक्रिया

झारखंड के मंत्री हफीजुल हसन के बयान पर पूर्व मुख्यमंत्री रघुबर दास ने कहा कि संवैधानिक पद पर बैठे व्यक्ति के इस भड़काऊ बयान की कड़ी निंदा करता हूं। धार्मिक उन्माद पैदा कर आपसी भाईचारे को खराब करने का काम कर रहे हैं मंत्री। मुख्यमंत्री जी तत्काल इन्हें बर्खाश्त करें। इन पर सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने का प्रयास करने के लिए धारा 153 ए लगाकर होटवार भेंजे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...