Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. सीएम ने ओखला लैंडफिल साइट का किया दौरा, कहा- मई 2024 तक 30 लाख टन कूड़ा हटा दिया जाएगा

सीएम ने ओखला लैंडफिल साइट का किया दौरा, कहा- मई 2024 तक 30 लाख टन कूड़ा हटा दिया जाएगा

सीएम अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को ओखला लैंडफिल साइट का दौरा कर कूड़े के निपटान की मौजूदा स्थिति का जायजा लिया। सीएम ने पाया कि यहां कूड़ा हटाने का काम लक्ष्य से पीछे चल रहा है। इस पर कहा कि कूड़ा हटाने के काम में तेज़ी लाने के लिए एक और एजेंसी हायर की जाएगी। अब तक यहां से 18 लाख टन कूड़ा हटा दिया जाना चाहिए था, लेकिन अभी केवल 12 लाख टन ही हटाया जा सका है।

By Rakesh 

Updated Date

नई दिल्ली। सीएम अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को ओखला लैंडफिल साइट का दौरा कर कूड़े के निपटान की मौजूदा स्थिति का जायजा लिया। सीएम ने पाया कि यहां कूड़ा हटाने का काम लक्ष्य से पीछे चल रहा है। इस पर कहा कि कूड़ा हटाने के काम में तेज़ी लाने के लिए एक और एजेंसी हायर की जाएगी। अब तक यहां से 18 लाख टन कूड़ा हटा दिया जाना चाहिए था, लेकिन अभी केवल 12 लाख टन ही हटाया जा सका है।

पढ़ें :- आतिशी का BJP पर हमला, कहा- दिल्ली में ‘आप’ की सरकार गिराने की हो रही कोशिश

सीएम ने कहा कि दूसरी एजेंसी हायर करने की कार्रवाई लगभग पूरी हो चुकी है, लेकिन एमसीडी में स्टैंडिंग कमेटी का गठन नहीं होने की वजह से इसमें देरी हो रही है। स्टैंडिंग कमेटी का मामला सुप्रीम कोर्ट में है। जैसे ही कोर्ट का आदेश आएगा, कमेटी गठित कर दूसरी एजेंसी हायर कर ली जाएगी। हमें पूरी उम्मीद है कि दोनों एजेंसी मिलकर काम करेंगी तो मई 2024 तक 30 लाख टन कूड़ा हटाने के लक्ष्य को पूरा कर लिया जाएगा।

इस दौरान एमसीडी की मेयर डॉ. शैली ओबरॉय, डिप्टी मेयर आले मोहम्मद समेत एमसीडी के वरिष्ठ अफसर मौजूद रहे। ओखला लैंडफिल साइट का जायजा लेने के बाद सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि ओखला लैंडफिल साइट पर कुल 45 लाख टन कूड़े का पहाड था। 7 नवंबर 2022 से ओखला लैंडफिल साइट से कूड़े के पहाड़ को हटाने की प्रक्रिया शुरू हुई थी। लक्ष्य रखा गया था कि मई 2024 तक यहां से 30 लाख टन कूड़ा हटा लिया जाएगा। लेकिन ओखला लैंडफिल साइट पर कूड़ा हटाने की कार्रवाई तय लक्ष्य से पीछे चल रही है।

कूड़ा हटाने के लिए एक और एजेंसी की जाएगी हायर

उन्होंने कहा कि यहां से कूड़ा हटाने के लिए एक और एजेंसी हायर करने की कार्रवाई चल रही है। क्योंकि मौजूदा एजेंसी अकेली है और अपने टारगेट भी पूरा नहीं कर पा रही है। सीएम अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली की सड़कों से निकलने वाले नैनो पार्टिकल से प्रदूषण होने पर सहमति जताई और कहा कि दिल्ली में पीडब्ल्यूडी की 1480 किलोमीटर सड़कें हैं।

पढ़ें :- प्राण प्रतिष्ठा पर ‘आप’ ने जगह-जगह किया सुंदरकांड पाठ, प्रभु श्रीराम की भक्ति में डूबे सीएम केजरीवाल

कहा कि हम लोग प्लान कर रहे हैं कि पीडब्ल्यूडी की सभी सड़कों पर मैकेनिकल स्वीपिंग की जाएगी तो कूड़ा उपर नहीं उठेगा। सड़कों की धुलाई भी की जाएगी। पहले मैकेनिकल स्वीपिंग मशीनें दिल्ली सरकार द्वारा खरीदे जाने का प्लान था। लेकिन अब ये काम एमसीडी को दिया जा रहा है।

उधर, दिल्ली की मेयर डॉ. शैली ओबरॉय ने कहा कि दिल्ली को कूड़ा मुक्त करने के लिए दिन-रात काम चल रहा है। कूड़े के पहाड़ों को अब कोई भी दिल्लीवासी देंखे तो साफ कह सकते हैं कि अब हाइट काफी कम हो गई है। कूड़े के पहाड़ों को खत्म करने के लिए 24 घंटे लगातार काम चल रहा है।

कहा कि अभी तक सीएम केजरीवाल दो लैंडफिल साइट का निरीक्षण कर चुके हैं। अब जल्द तीसरी लैंडफिल साइट का निरीक्षण करेंगे। आम आदमी पार्टी की तरफ से दी गई दिल्ली को कूड़ा मुक्त करने की गारंटी जल्द पूरी होगी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com