Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. तीर्थयात्राः सुख-समृद्धि की कामना के लिए द्वारकाधीश गए दिल्ली के बुजुर्ग

तीर्थयात्राः सुख-समृद्धि की कामना के लिए द्वारकाधीश गए दिल्ली के बुजुर्ग

मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के तहत गुरुवार को 780 बुजुर्गों को लेकर 80वीं ट्रेन दिल्ली से द्वारकाधीश के लिए गई। यात्रा से पूर्व सभी तीर्थयात्रियों के लिए त्यागराज स्टेडियम में भजन संध्या का आयोजन किया गया। राजस्व मंत्री आतिशी ने यहां पहुंचकर तीर्थ-यात्रियों से मुलाकात की और उन्हें यात्रा टिकट व किट सौंपा।

By Rakesh 

Updated Date

नई दिल्लीमुख्यमंत्री तीर्थयात्रा योजना के तहत गुरुवार को 780 बुजुर्गों को लेकर 80वीं ट्रेन दिल्ली से द्वारकाधीश के लिए गई। यात्रा से पूर्व सभी तीर्थयात्रियों के लिए त्यागराज स्टेडियम में भजन संध्या का आयोजन किया गया। राजस्व मंत्री आतिशी ने यहां पहुंचकर तीर्थ-यात्रियों से मुलाकात की और उन्हें यात्रा टिकट व किट सौंपा।

पढ़ें :- मकर संक्रांतिः सीताकुंड घाट पर हजारों श्रद्धालुओं ने स्नान कर की सुख समृद्धि की कामना  

इस मौके पर राजस्व मंत्री आतिशी ने कहा कि हम खुशकिस्मत हैं कि दिल्ली के अपने बुजुर्गों को तीर्थ-यात्रा पर भेज उनका प्यार, सानिध्य और पुण्य कमा रहे है। उन्होंने कहा कि दिल्लीवासी बहुत भाग्यशाली हैं कि उनके बेटे अरविंद केजरीवाल ने अपने हर बुजुर्ग को तीर्थयात्रा कराने की जिम्मेदारी ली है।

राजस्व मंत्री आतिशी ने कहा कि दिल्ली के बुजुर्गों के लिए श्रवण कुमार की भूमिका में मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल, अबतक दिल्ली से 79 ट्रेनों के माध्यम से लगभग 77 हजार बुजुर्गों को तीर्थ-यात्रा पर भेजा है। उनका वादा है कि चाहे कितनी भी बाधाएं आ जाए लेकिन वो बुजुर्गों के लिए तीर्थ-यात्रा का सिलसिला रुकने नहीं देंगे। मंत्री आतिशी ने तीर्थ-यात्रियों से अपील करते हुए कहा कि आप सभी जब द्वारकाधीश पहुंचे तो अपने परिवार के साथ-साथ देश और दिल्लीवालों की सुख समृद्धि की कामना भी ज़रूर करें।

बता दें कि मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा योजना के तहत दिल्ली सरकार पिछले दो-तीन वर्षों से अपने बुजुर्गों को देशभर में विभिन्न तीर्थ स्थलों के दर्शन करवाती है। इसी कड़ी में गुरुवार शाम सफदरजंग रेलवे स्टेशन से एक ट्रेन श्री द्वारकाधीश के लिए रवाना हुई। इससे पहले दिल्ली सरकार की ओर से त्यागराज स्टेडियम में भजन संध्या का आयोजन किया गया।

इन तीर्थस्थलों का दर्शन कराती है दिल्ली सरकार

पढ़ें :- हरियाणा में बदला खेती का तरीकाः बागवानी से लाखों का मुनाफा कमा रहे किसान, जीवन में लौटी खुशहाली और समृद्धि

दिल्ली सरकार रामेश्वरम्, द्वारकाधीश, सोमनाथ, नागेश्वरम्, जगन्नाथपुरी, बाबा महाकाल, शिरडी में तमकेश्वरम्, तिरुपति बालाजी, अयोध्या, माता वैष्णोदेवी, पुष्कर, फतेहपुर सिकरी, अमृतसर में स्वर्ण मंदिर, करतारपुर साहिब, मथुरा-वृंदावन और हरिद्वार के दर्शन अपने खर्चे पर करवाती है। पात्र यात्री अपनी मनपसंद यात्रा को चुन सकते हैं।

इन यात्राओं में भाग लेने के लिए सभी तीर्थयात्रियों को ऑनलाइन पोर्टल के जरिए आवेदन करना होता है। आवेदनों की जांच पड़ताल के बाद दिल्ली सरकार इच्छित तीर्थ स्थलों तक उनकी यात्रा को सुविधाजनक बनाने के लिए वातानुकूलित ट्रेनों की व्यवस्था करती है। दिल्ली सरकार तीर्थ यात्रियों के उनके घर से रेलवे स्टेशन तक और वापस घर पहुंचाने तक के लिए परिवहन की जिम्मेदारी लेती है।

साथ ही उनके होटल पहुंचने के बाद तीर्थ स्थलों तक और वहां से स्थानीय यात्रा की व्यवस्था भी करती है। यात्रा के दौरान सभी तीर्थयात्रियों को अच्छे होटलों में रहने के साथ भोजन और नाश्ते की व्यवस्था करती है। इसके अलावा हर तीर्थयात्री को एक किट दी जाती है, जिसमें बेडशीट, छाता, कंबल, तौलिया और स्नान किट समेत अन्य जरूरी वस्तुएं होती हैं, ताकि उनको यात्रा के दौरान किसी प्रकार की असुविधा न हो।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com