1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. Earthquake:हिमाचल प्रदेश के मंडी में भूकंप के झटकों से कांपी धरती,4.1 की तीव्रता, लोग निकले घरों से बाहर

Earthquake:हिमाचल प्रदेश के मंडी में भूकंप के झटकों से कांपी धरती,4.1 की तीव्रता, लोग निकले घरों से बाहर

हिमाचल प्रदेश के कुल्लू और मंडी जिले में इसका केंद्र रहा, बुधवार रात करीब 9:33 बजे जोगिंद्रनगर में जमीन के अंदर पांच किलोमीटर की गहराई पर इसका केंद्र था.

By Ruchi Kumari 
Updated Date

Earthquake : हिमाचल प्रदेश में बुधवार रात करीब 9:33 बजे भूकंप के झटके महसूस किए गए. भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 4.1 मापी गई. भूकंप का केंद्र मंडी जिले के जोगिंद्रनगर में जमीन के भीतर पांच किलोमीटर की गहराई में था. मंडी के अलावा कुल्लू, कांगड़ा, बिलासपुर में भी तीन से पांच सेकंड तक भूकंप के झटके महसूस किए गए. कई लोग दहशत के चलते अपने घरों से निकलकर खुली जगहों की ओर भाग गए. डीसी मंडी अरिंदम चौधरी ने बताया कि भूकंप से कहीं भी नुकसान की सूचना नहीं है. भुंतर और मनाली में भी भूकंप के जोरदार झटके महसूस किए गए.

पढ़ें :- बुर्का पहनकर डांस करने पर कर्नाटक के इंजीनियरिंग कॉलेज के चार छात्रों को किया गया सस्पेंड - देखें वीडियो

1905 के भूकंप में 20 हजार से ज्यादा गईं थीं जानें

इससे पहले कांगड़ा में 4 अप्रैल, 1905 को 7.8 की तीव्रता से भूकंप आया था. जिसमें 20 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हुई थी. भूकंप से एक लाख के करीब इमारतें तहस-नहस हो गई थीं, जबकि 53 हजार से ज्यादा मवेशी भी भूकंप की भेंट चढ़ गए थे. इससे पहले 12 नवंबर को दिल्ली-एनसीआर में शनिवार को भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए थे. एक हफ्ते में यह दूसरी बार था जब भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं.

बता दें हिमाचल भूकंप की दृष्टि से सिस्मिक जोन चार और पांच में आता है. कांगड़ा, चंबा, लाहौल, कुल्लू और मंडी भूकंप की दृष्टि से सबसे अति संवेदनशील क्षेत्र हैं.

पढ़ें :- Accident In Kanpur: यूपी के कानपुर में भीषण सड़क हादसा, ट्रक और लोडर की भिड़ंत में एक ही गांव के 3 लोगों की मौत
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...