Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. नहीं रहे पंजाब के पूर्व सीएम प्रकाश सिंह बादल

नहीं रहे पंजाब के पूर्व सीएम प्रकाश सिंह बादल

पंजाब के पूर्व सीएम प्रकाश सिंह बादल हमारे बीच में नहीं रहे उनके निधन पर पीएम मोदी सहित कई नेताओं ने दुख जताया है चलिए जानते है कैसा रहा उनका सियासी सफर

By Avnish 

Updated Date

मंगलवार का दिन पंजाब के लिए काला दिन लेकर लाया जब देर रात यह खबर आई कि पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री हमारे साथ नहीं रहे 95 साल की उम्र में वो इस दुनिया को छोड़ कर चले गए 70 सालों से ज्यादा वक्त तक वो राजनीतिक में सक्रिय रहे. ऐसा माना जा रहे है कि पंजाब के एक युग का अंत प्रकाश सिंह बादल के जाने से हो गया है एक ऐसा नेता खो दिया जिसने शिरोमणि अकाली दल को सही राह पर ले गया और शांति के रास्ते पर हमेशा शिरोमणि अकाली दल के नेताओं को जाना  सिखाया.

पढ़ें :- पंजाबः चालान काटने पर बाइकसवार का हंगामा, पुलिस ने दौड़ाकर बाइकसवार को पकड़ा

 

प्रकाश सिंह बादल की राजनीति यात्रा

जब प्रकाश सिंह बादल 20 साल के थे तब से ही उनके में साहस और निडरता देखने को मिला 20 साल में उन्हें सरपंच चुना गया था 1980 में प्रकाश सिंह बादल ने काफी कुछ देखा कई आंदोलन किए. प्रकाश सिंह बादल वो नाम है जिन्होनें राजनीतिक के क्षेत्र में अपना लोहा मनवाया है हार मानने वालों में रसे प्रकाश सिंह बादल नहीं थे पिछले साल ही शिअद ने विधानसभा चुनाव के लिए पंजाब के मुक्तसर जिले से लंबी सीट से उन्हें उम्मीदवार उतारा था लेकिन इतने सालों से जितने वाले प्रकाश सिंह बादल को आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी के द्वारा करारी हार मिली. बता दें कि बठिंडा जिले के बादल गांव के सरपंच बनने के साथ सफर शुरू हुआ था और उनकी 13वीं चुनावी लड़ाई थी जो उन्होंने 95 साल की उम्र में लड़ी थी.

 

पढ़ें :- पंजाबः जमीन के लिए भाई की गोली मारकर ले ली जान, दो गिरफ्तार

5 बार सीएम की कुर्सी पर रहे काबिज

पंजाब की राजनीति में 5 बार सीएम बने थे प्रकाश सिंह बादल 1970 में पहली बार सीएम की कुर्सी पर बैठे फिर एक गठबंधन सरकार का नेतृत्व किया फिर अपना 5 साल का कार्यकाल पूरा नहीं किया  इसके बाद वह 1977-80, 1997-2002, 2007-12 और 2012-2017 में भी राज्य के मुख्यमंत्री रहे

 

किसानों के लिए राजनीति

प्रकाश सिंह बादल वो नाम थे जिसे कभी भुलाया नहीं जा सकता है इसके साथ ही बता दें कि पंजाब के हित में प्रकाश सिंह बादल ने हमेशा राजनीति की है साल 1972 में सदन में बादल विपक्ष के नेता बने लेकिन समय बदला और फिर मुख्यमंत्री बन गए इसके बाद सरकार ने किसानों के हित में काम किया और मेन फोकस उनका कृषि पर रहा.

पढ़ें :- पंजाबः अमृतसर में युवक ने पंखे से लटककर अपनी जीवन लीला समाप्त की

बादल के निधन पर कई नेताओं ने जताया दुख

जैसे ही खबर मिली की प्रकाश सिंह बादल नहीं रहे ऐसे में कई नेताओं ने दुख जताते हुए ट्वीट किया राहुल गाधी ने भी श्रद्धांजलि अर्पित की है तो वहीं पंजाब के मुख्यमंत्री ने भी दुख व्यक्त किया है. राजस्थान के सीएम ने भी प्रकाश सिंह बादल के निधन पर ट्वीट किया है.

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com