1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. State Icon Of Punjab : सोनू सूद अब नहीं रहेंगे पंजाब के स्टेट आइकन, चुनाव आयोग ने रद्द की सूद की नियुक्ति

State Icon Of Punjab : सोनू सूद अब नहीं रहेंगे पंजाब के स्टेट आइकन, चुनाव आयोग ने रद्द की सूद की नियुक्ति

सोनू सूद ने मामले पर कहा कि सभी अच्छी चीजों की तरह, ये यात्रा भी खत्म हो गई है। मैंने स्वेच्छा से पंजाब के स्टेट आइकन के रूप में पद छोड़ दिया है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

चंडीगढ़, 7 जनवरी। निर्वाचन आयोग ने पंजाब के स्टेट आइकन के रूप में फिल्म अभिनेता सोनू सूद की नियुक्ति रद्द कर दी है। पंजाब के मुख्य निर्वाचन अधिकारी डॉ.एस.करुना राजू ने ये जानकारी दी है।

पढ़ें :- Punjab Election 2022 : सोनू सूद की बहन मालविका सूद ने थामा कांग्रेस का हाथ, सीएम चन्नी और सिद्धू ने पार्टी में शामिल कराया

अब पंजाब के स्टेट आइकन नहीं हैं सूद

राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने साफ किया कि 4 जनवरी 2022 को एक्टर सोनू सूद को पंजाब के स्टेट आइकन के तौर पर की नियुक्ति वापस ले ली गई है। गौरतलब है कि साल 2020 में चुनाव आयोग द्वारा सोनू सूद को पंजाब का स्टेट आइकन बनाया गया था। पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सोनू सूद को पंजाब वासियों को मतदान के प्रति जागरूक करने की जिम्मेदारी सौंपी थी। इस बीच सोनू सूद लगातार सक्रिय राजनीति कर रहे हैं। उनकी बहन मालविका सूद पंजाब में चुनाव लड़ने का ऐलान कर चुकी है। सोनू सूद भी लगातार राजनीतिक दलों के आला नेताओं के साथ बैठकें कर रहे हैं। इसके चलते चुनाव आयोग ने उनकी नियुक्ति को वापस लिया है।

सभी अच्छी चीजों की तरह, ये यात्रा भी खत्म हो गई- सूद

वहीं सोनू सूद ने मामले पर कहा कि सभी अच्छी चीजों की तरह, ये यात्रा भी खत्म हो गई है। मैंने स्वेच्छा से पंजाब के स्टेट आइकन के रूप में पद छोड़ दिया है। ये फैसला मेरे और चुनाव आयोग द्वारा पारस्परिक रूप से मेरे परिवार के सदस्य द्वारा पंजाब विधानसभा चुनाव लड़ने के तहत लिया गया था।

पढ़ें :- इनकम टैक्स चोरी के आरोपों के बीच अभिनेता सोनू सूद ने तोड़ी चुप्पी , पढ़ें अपने चाहने वालों को लेकर क्या कहा सोनू सूद ने !

सोनू सूद को साल 2020 में EC ने स्टेट आइकन ऑफ पंजाब बनाया था

बतादें कि बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद कोरोना काल में देशवासियों के लिए सुपरहीरो की तरह बनकर सामने आए थे। सोनू सूद ने कोरोना की पहली और दूसरी लहर के दौरान लोगों की खूब मदद की। उन्होंने शहर से गांव जा रहे लोगों को उनके घर पहुंचाया। इसके साथ ही उन्होंने लोगों को स्वास्थ्य व्यवस्था और रोजगार भी मुहैया करवाया। उनकी इस पहल की हर जगह तारीफ भी हुई। इसी बीच सोनू सूद को एक बड़ा सम्मान भी दिया गया। सोनू सूद को साल 2020 में चुनाव आयोग ने स्टेट आइकन ऑफ पंजाब के पद से सम्मानित किया था।

पढ़ें :- आयकर विभाग का दावा- सोनू सूद ने की 20 करोड़ की टैक्स चोरी

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...