1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. UP Elections Results 2022 : पूर्ण बहुमत से BJP ने जीता यूपी, तो कुछ उम्मीदवार केवल कुछ वोटों से जीते, जानें चुनाव का पूरा कार्यक्रम

UP Elections Results 2022 : पूर्ण बहुमत से BJP ने जीता यूपी, तो कुछ उम्मीदवार केवल कुछ वोटों से जीते, जानें चुनाव का पूरा कार्यक्रम

पिछले विधानसभा चुनाव की तुलना में बीजेपी को महज करीब 2 से 3 फीसदी वोट शेयर का फायदा हुआ है। इस बार बीजेपी को 42.4 फीसदी वोट मिले हैं। जबकि समाजवादी पार्टी को इस बार फायदा हुआ है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 14 मार्च। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में इस बार भी BJP ने अपने सहयोगियों के साथ 273 सीटों पर जीत दर्ज कर पूर्ण बहुमत हासिल किया है। बीजेपी को 41.29 फीसदी मतदान हासिल हुए। वहीं समाजवादी पार्टी को 32.03 फीसदी वोट मिले। जबकि बहुजन समाज पार्टी के पाले में सिर्फ 12.88 प्रतिशत वोट पड़े। राज्य की मुख्य विपक्षी समाजवादी पार्टी ने 111 सीटों पर जीत दर्ज की है। जहां कुछ उम्मीदवार बड़े मार्जिन से जीते तो वहीं कुछ प्रत्याशी केवल कुछ वोटों की मदद से विधानसभा में प्रवेश करने में सफल रहे।

पढ़ें :- कुशीनगर में ग्रामीणों ने कहा पुल नहीं तो वोट नहीं, मतदान का किया बहिष्कार

 

 

कुछ ही मार्जिन से जीते कुछ उम्मीदवार

पढ़ें :- UP Elections 2022 : उप्र में छठे चरण का मतदान गुरुवार को, 10 जिलों की 57 सीटों पर पड़ेंगे वोट

करीब 200 वोटों के मार्जिन से जीतने वाले प्रत्याशियों की संख्या सबसे ज्यादा बीजेपी में हैं। जबकि इसके बाद समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार हैं। इनमें धामपुर से बीजेपी के उम्मीदवार अशोक कुमार राणा महज 203 वोटों के मार्जिन से जीते हैं। जबकि कुर्सी से साकेंद्र प्रताप (BJP) 217 के गैप से जीतने में सफल रहे। चांदपुर से स्वामी ओमवेश 234 वोटों से जीते जो समाजवादी पार्टी के खेमे से हैं। वहीं नहटौर से बीजेपी के ओम कुमार 258 वोटों से जीते जबकि रामनगर से समाजवादी पार्टी के फरीद महफूज किदवई 261 वोटों से जीते हैं। वहीं इसौली से समाजवादी पार्टी के मो. ताहिर खान 269 वोटों से तीजे। बिलासपुर से बीजेपी के बल्देव सिंह औलख 307 वोटों के मार्जिन से विजयी हुए। नकुड़ के मुकेश चौधरी (बीजेपी) 315 वोटों से जीते। बड़ौत से बीजेपी के कृष्णपाल मलिक ने भी 315 ही वोटों से जीत का स्वाद चखा। जबकि कटरा से प्रत्याशी रहे वीर विक्रम सिंह (बीजेपी) ने 357 वोटों से जीत हासिल की।

UP चुनाव में किसे कितने % वोट मिले

पिछले विधानसभा चुनाव की तुलना में बीजेपी को महज करीब 2 से 3 फीसदी वोट शेयर का फायदा हुआ है। इस बार बीजेपी को 42.4 फीसदी वोट मिले हैं। जबकि समाजवादी पार्टी को इस बार फायदा हुआ है। सपा के वोट शेयर में भारी इजाफा हुआ है और ये आंकड़ा 31.6 पर चला गया। वहीं बसपा को पिछली बार से भी ज्यादा नुकसान हुआ है, क्योंकि मायावती की पार्टी का वोट शेयर इस बार 12.7 फीसदी रिकॉर्ड किया गया है। इसी तरह कांग्रेस के वोट शेयर में भी गिरावट दर्ज की गई है, जो महम 2.43 फीसदी है। जिससे साफ होता है कि कांग्रेस-बसपा के वोट शेयर गिरने से फायदा सपा को हुआ है।

 

किस चरण में कितना फीसदी मतदान

पढ़ें :- UP Elections 2022 : उप्र में अब छठे चरण की तैयारी, मंगलवार को थम जाएगा चुनाव प्रचार

पहला चरण : बीजेपी को 49.7%, सपा को 15.8%, कांग्रेस को 2.1%, बसपा को 13.6%, RLD को 15.9% और अन्य को 2.8 फीसदी वोट मिले।

दूसरा चरण : 9 जिलों की 55 सीटों में बीजेपी को 40.3%, सपा को 40.8, कांग्रेस को 1.1, बसपा को 12.5% वोट मिले हैं।

तीसरा चरण : बीजेपी को 43%, सपा को 35%, कांग्रेस को 2.2%, बसपा को 12.6%, AD (S) को 2.5%, RLD को 0.8% और अन्य को 3.9 फीसदी वोट मिले है।

चौथा चरण : बीजेपी 44.7%, सपा को 36.6%, कांग्रेस को 2.8%, बसपा को 10.8%, AD (S) को 0.2% और अन्य को 4.1 फीसदी वोट मिले।

पांचवां चरण : बीजेपी को 37.5%, सपा को 37.7%, कांग्रेस को 3.6% और बसपा को 9.7%, AD (S) को 4.4% और अन्य को 7.1 फीसदी वोट मिले हैं।

छठा चरण : बीजेपी को 39.7%, सपा को 28.3%, कांग्रेस को 2.7%, बसपा को 14.4%, AD (S) को 0.6% और अन्य को 14.4 फीसदी मतदान हासिल हुआ।

पढ़ें :- UP Elections 2022 : उप्र में 5वें चरण का मतदान रविवार को, 12 जिले की 61 सीटों पर पड़ेंगे वोट, डिप्टी सीएम समेत कई दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर

सातवां चरण : बीजेपी को 32.5%, सपा को 31.1%, कांग्रेस को 1.9%, बसपा को 17%, AD (S) को 2.4% और अन्य को 15 फीसदी वोट मिले।

पिछले चुनाव के नतीजे

बतादें कि यूपी में बीजेपी ने साल 2017 में प्रचंड बहुमत के साथ सरकार बनाई थी। पिछले विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 403 में से 312 सीटों पर जीत हासिल हुई थी। वहीं उसके सहयोगियों अपना दल (सोनेलाल) को 9 और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी को 4 सीटें मिली थीं। बीजेपी ने इस बार अपना दल (सोनेलाल) और निषाद पार्टी के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ा, जबकि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इस बार राष्ट्रीय लोक दल और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी समेत कई क्षेत्रीय दलों से गठबंधन किया था।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...