1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. निर्वाचन आयोग ने जारी की नई गाइडलाइन, चुनाव प्रचार में अब सिर्फ इतने समय तक मिल सकेगी छूट

निर्वाचन आयोग ने जारी की नई गाइडलाइन, चुनाव प्रचार में अब सिर्फ इतने समय तक मिल सकेगी छूट

कोविड-19 की स्थित के सम्बंध में दी गयी जानकारी के आधार पर मतदान वाले राज्यों में कोविड-19 की स्थिति की शनिवार को समीक्षा की।

By Ujjawal Mishra 
Updated Date

UP Assembly Election 2022 : भारत निर्वाचन आयोग ने कोरोना संक्रमण में लगातार आ रही गिरावट को देखते हुए चुनाव प्रचार में लगे उम्मीदवारों और राजनीतिक दलों को राहत देते हुए सुबह छह से रात दस बजे तक प्रचार करने की छूट दी है। आयोग ने अब पद यात्रा की भी अनुमति दे दी है।

पढ़ें :- UP में 10 मार्च के बाद महिलाओं को सरकारी बसों में मुफ्त यात्रा : CM योगी

सीमित संख्या के साथ पद यात्रा की भी मिली अनुमति

प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी अजय कुमार शुक्ला ने शनिवार रात यहां बताया कि भारत निर्वाचन आयोग ने केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव द्वारा कोविड-19 की स्थित के सम्बंध में दी गयी जानकारी के आधार पर मतदान वाले राज्यों में कोविड-19 की स्थिति की शनिवार को समीक्षा की।

इसके बाद आयोग ने चुनाव प्रचार में छूट देने का निर्णय किया। मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि आयोग ने कोविड-19 के तथ्यों और परिस्थितियों को ध्यान में रखकर राजनीतिक दलों और उम्मीदवारों को चुनाव में ज्यादा भागीदारी देने के लिये कुछ शर्तों के साथ चुनाव प्रचार के प्राविधानों में छूट प्रदान की है।

सुबह छह से रात दस बजे तक चुनाव प्रचार की छूट

पढ़ें :- गुरुवार को अमेठी और प्रयागराज में रैली करेंगे प्रधानमंत्री मोदी

उन्होंने बताया कि आयोग की नई गाइडलाइन के अनुसार चुनाव प्रचार के लिये अब रोक रात 08 बजे से सुबह 08 बजे के बजाय रात 10 बजे से सुबह 06 बजे तक रहेगी। सभी राजनीतिक दल एवं उम्मीदवार कोविड प्रोटोकाल और एसडीएमए द्वारा निर्धारित नियमों का पालन करते हुए सुबह 06 बजे से रात 10 बजे तक चुनाव प्रचार कर सकते हैं।

सीमित संख्या के साथ पद यात्रा करने की भी मिली मंजूरी

साथ ही सभी राजनीतिक दल और उम्मीदवार अपनी बैठकें और रैलियाँ निर्धारित खुले स्थान की क्षमता का अधिकतम 50 प्रतिशत या एसडीएमए द्वारा निर्धारित सीमा तक,जो भी कम हो, कर सकते हैं। इसके अलावा राजनीतिक दल एसडीएमए द्वारा निर्धारित सीमा के अन्तर्गत व्यक्तियों की सीमित संख्या के साथ पद यात्रा भी कर सकते हैं।

हालांकि इसके लिये जिला प्रशासन से पूर्व अनुमति लेनी होगी। मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि चुनाव प्रचार से संबंधित अन्य सभी प्राविधान प्रभावी रूप से लागू रहेंगे।

 

पढ़ें :- खीरी : ईवीएम में फेवीक्विक लगाने के मामले में दो के खिलाफ मुकदमा दर्ज

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...